रक्षक: निर्मित: भक्षक:,अपवादं गृहित्वा आगता महिलाया ३ दिवसैवारक्षि स्थाने दुष्कर्म इति क्रियतैति उप निरीक्षक: ! रक्षक बना भक्षक, शिकायत लेकर आई महिला से 3 दिन तक पुलिस स्टेशन में रेप करता रहा सब इंस्पेक्टर !

0
563

प्रतीक चित्रम्

महिलानाम् प्रकरणे अनपेक्षायाः शोषणस्य च् प्रकरणम् गृहित्वा खाकी इति पूर्वैपि दुर्नाम भवितानि तु राजस्थानस्य अलवरे यत् अभवत् तत् त्रपितकर्तास्ति ! अत्र यत् आरक्षकः जनानां रक्षक: मान्यन्ते ततैव भक्षक: निर्मितानि !

महिलाओं के मामले में लापरवाही और शोषण के मामले को लेकर खाकी पहले भी बदनाम हुई है लेकिन राजस्थान के अलवर में जो हुआ वो शर्मसार करने वाला है ! यहां जो पुलिस जनता की रक्षक मानी जाती है वो ही भक्षक बन गई !

अलवरस्य खेडली आरक्षिस्थाने अपवादं गृहित्वा आगता एकः उपनिरीक्षक: त्रय दिवसैव दुष्कर्म इति कृतः ! प्रकरण तीक्ष्ण भवतैव आरक्षी विभागमपि क्रियायुक्ततायाम् आगतम् अद्यतनः आरोपिम् बंदिम् अक्रियते !

अलवर के खेडली थाने में शिकायत लेकर आई महिला से एक सब इंस्पेक्टर ने तीन दिन तक रेप किया ! मामला तूल पकड़ते ही पुलिस विभाग भी हरकत में आया है और फिलहाल आरोपी को अरेस्ट कर लिया गया है !

वार्तायाः अनुरूपम्,एकस्य २६ वर्षीय महिला योगेशस्यापवादं गृहित्वारक्षि स्थानम् गतवती स्म अस्य कालम् च् तत्र नियुक्त: उपनिरीक्षक: भरत सिंह: (५४ वर्षीय) तया सह त्रय दिवसैव दुष्कर्म इति कृतः !

खबर के मुताबिक,एक 26 साल की महिला दहेज की शिकायत को लेकर थाने गई हुई थी और इस दौरान वहां तैनात उप निरीक्षक भरत सिंह (54 वर्ष) ने उसके साथ तीन दिन तक रेप किया !

प्रकरणस्य सूचना लभ्धस्यानंतरम् आरक्षकः स्व अन्वेषणमारम्भित: तदारोपिन् उप निरीक्षकम् दोषिम् लभ्धितम् यस्यानंतरम् तेन अवरुद्धित्वा कारागारं प्रेषितम् !

मामले की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने अपनी जांच शुरू की तो आरोपी सब इसंपेक्टर को दोषी पाया गया जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है !

२६ वर्षीय महिला २ मार्च इतम् स्व भर्ताया कलहस्य अपवादं गृहित्वारक्षिस्थाने गतवती स्म ! तत्र उपनिरीक्षक: तया वंचकम् दत्वा त्रय दिवसैव दुष्कर्म इति क्रियतैति !

26 वर्षीय महिला 2 मार्च को अपने पति से विवाद की शिकायत को लेकर थाने गई हुई थी ! जहां सब इंस्पेक्टर ने उसे झांसा देकर तीन दिन तक रेप करता रहा !

आरक्षकस्यानुरूपम्,द्वय,त्रय चत्वारः च् मार्च एवारोपिन् अभियोक्ता महिलायाः दुष्कर्म इति क्रियतैति तु तदा सा कश्चितैव कारणवशात् अपवादं पंजीकृतं न कारयतुम् समर्था ! तस्य अनंतरम् यदा महिलारक्षिस्थानम् प्राप्ता तदा ताम् अपवादं पंजीकृतं कारिता यस्यानंतरम् आरोपिन् उपनिरीक्षकम् अवरुद्धितम् !

पुलिस के मुताबिक 2,3 और 4 मार्च तक आरोपी फरियादी महिला का रेप करता रहा लेकिन तब वह किसी कारणवश शिकायत दर्ज नहीं करा पाई ! उसके बाद जब महिला थाने पहुंची तो उसने शिकायत दर्ज कराई जिसके बाद आरोपी सब इंस्पेक्टर को गिरफ्तार किया गया !

राजस्थाने खाक्या: दुर्नाम भवस्य इदम् प्रथम प्रकरण नास्ति यस्मात् पूर्वमपि केचन दिवसम् पूर्वारावली विहार आरक्षिस्थाने नियुक्त: एएसआई रामजीत गुर्जरे महिलाया दुष्कर्मस्य प्रकरणम् पंजीकृतं कारितम् स्म ! अस्य प्रकरणे आरोप्या: बंधनम् भवस्य अपितु तेन केवलं लाइन हाजिर इति अक्रियते !

राजस्थान में खाकी के बदनाम होने का यह पहला मामला नहीं है इससे पहले भी कुछ दिन पूर्व अरावली विहार थाने में पोस्टेड एएसआई रामजीत गुर्जर पर महिला से रेप का मामला दर्ज करवाया था ! इस मामले में आरोपी की गिरफ्तारी होने की बजाय उसे केवल लाइन हाजिर किया गया है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here