यया सह लिव-इन इत्यां रमति स्म नजीबुद्दीन:, तस्याः पुत्रिम् हतवान, शवेण सह कृतवान दुष्कर्म, मीडिया राजू ज्ञापित्वा चालयेत् वार्ता ! जिसके साथ लिव-इन में रहता था नजीबुद्दीन, उसी की बेटी को मार डाला, लाश के साथ किया बलात्कार, मीडिया राजू बताकर चला रहा खबर !

0
62

तमिलनाडो: चेन्नई आरक्षकः १८ वर्षीय एकायाः बालिकायाः हनस्यारोपे नजीबुद्दीनम् बंधनम् कृतवान ! आरोपिन् स्वनाम राजू मणि नायर: ज्ञाप्यते स्म ! मृतका तस्य प्रीतिका लिव इन सहाय्यका वा पुत्री आसीत् !

तमिलनाडु की चेन्नई पुलिस ने 18 साल की एक लड़की की हत्या के आरोप में नजीबुद्दीन को गिरफ्तार किया है ! आरोपित अपना नाम राजू मणि नायर बताया करता था ! मृतका उसकी प्रेमिका व लिव इन पार्टनर की बेटी थी !

आशंका ज्ञाप्यते तत आरोपिन् मृतकायाः शवेण सह दुष्कर्म कृतवान स्म ! घटनायाः अनंतरम् नजीबुद्दीन: मुम्बै पुरातन विरारे गोपितमासीत् ! घटना १२ नवंबर २०२२ तमस्यास्ति ! मीडिया सूचनानां अनुरूपम्, मृतकायाः माता इति कारणम् आरक्षके अभियोगम् पंजीकृता स्म !

आशंका जताई जा रही है कि आरोपित ने मृतका की लाश के साथ रेप किया था ! घटना के बाद नजीबुद्दीन मुंबई के पूर्वी विरार में छिपा हुआ था ! घटना 12 नवम्बर 2022 की है ! मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मृतका की माँ ने इस बाबत पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई थी !

स्वापवादे सा ज्ञापितवती स्म तत घटनायाः काळम् ता कुत्रैव बहिः गतवती स्म ! यदा सा पुनरागतवती तदा गृहे बहिः तः तालयन्त्रम् स्थापितमासीत् ! सा स्व कुंजिकाभिः तालयन्त्रमुद्घाटितवती तर्हि तस्या: पुत्री अचेत भूम्यां पतितुं लब्धवती ! पुत्र्या: ग्रीवायां चिह्न अपि अभवत् स्म तस्या: च् स्वांसम् अवरुद्धमासीत् !

अपनी शिकायत में उन्होंने बताया था कि घटना के वक्त वो कहीं बाहर गई थीं ! जब वो लौंटी तब घर पर बाहर से ताला लगा था ! उन्होंने अपनी चाबियों से ताले को खोला तो उनकी बेटी बेसुध जमीन पर पड़ी मिली ! बेटी के गले पर निशान पड़े थे और उसकी साँसें बंद थीं !

अपवादे पीड़िता स्वमेति घटनायाघाते ज्ञापितवती ! पीड़िताग्रम् ज्ञापितवती तत पृच्छने एकः सहवासिन् अभिज्ञानम् दत्तवान तत राजू अर्थतः नजीबुद्दीन: गृहे तालयंत्रम् स्थापित्वा कुत्रैव गतवान ! सहवासिन: अनुरूपम्, तालयंत्रम् स्थापनस्य काळम् राजू बहु शीघ्रतायां दृश्यते स्म !

शिकायत में पीड़िता ने खुद को इस घटना से सदमे में बताया ! पीड़िता ने आगे बताया कि पूछताछ करने पर एक पड़ोसी ने जानकारी दी कि राजू उर्फ नजीबुद्दीन घर पर ताला लगा कर कहीं चला गया ! पड़ोसी के मुताबिक, ताला लगाने के दौरान राजू काफी जल्दबाजी में लग रहा था !

पीड़ितायाः अनुरूपम्, अनंतरे गृहस्यान्वेषणे तस्या: पुत्र्या: कर्णफूले, रजतस्य मंजीरेण सह नगद इति धृतन् २०००० रूप्यकाणि गोपितुं लब्धवान ! ता पूर्व ५ वर्षेभ्यः स्व भर्तु: पृथकं वसति स्म ! तस्या: द्वौ पुत्रौ स्त: यौ तस्या: भर्त्रा: सह वसति स्म ! केचन काळपूर्वम् पीड़िताम् नजीबुद्दीन: मेलितवान !

पीड़िता के मुताबिक, बाद में घर की तलाशी लेने पर उसकी बेटी के झुमके, चाँदी की पायल के साथ कैश रखे गए 20 हजार रुपए गायब मिले ! वो पिछले 5 साल से अपने पति से अलग रह रही थी ! उसके 2 बेटे हैं जो उसके पति के साथ रहते थे ! कुछ समय पहले पीड़िता को नजीबुद्दीन मिला !

तं पीड़िता तस्या: बालाकानां च् रक्षणस्य दृढ़कथनम् कृतवान स्वेण सह च् नीतवान ! अनंतरे पीड़िता स्व पुत्रिमपि स्वेण सह धृतवती ! स्वापवादे पीड़िताग्रम् अलिखत् तत पुत्र्या: आगमनस्यानंतरम् नजीबुद्दीन: तस्याम् असाधु दृष्टिम् धृतुं आरम्भिष्यते !

उसने पीड़िता और उसके बच्चों की देखभाल करने का वादा किया और अपने साथ ले आया ! बाद में पीड़िता ने अपनी बेटी को भी अपने साथ रख लिया ! अपनी शिकायत में पीड़िता ने आगे लिखा है कि बेटी के आने के बाद नजीबुद्दीन उस पर गलत नजर रखने लगा !

लगभगम् १५ दिवसं पूर्वम् तं सुप्तस्य काळम् पुत्रिम् असाधु विचारेण स्पर्शित: ! इति काळम् पुत्री विरोधं कृतवती स्वरम् च् कृतवती ! ज्ञाप्तवान ततेति घटनायाः अनंतरेण पुत्री नजीबुद्दीनतः घृणा कर्तुं आरम्भिष्यते स्म ! इति घटनायाः अनंतरं पीड़ितायाः अपि नजीबुद्दीनतः कलहमभवत् स्म !

लगभग 15 दिन पहले उसने सोते समय बेटी को गलत नीयत से छुआ ! इस दौरान बेटी ने विरोध किया और शोर मचाया ! बताया गया कि इस घटना के बाद से बेटी नजीबुद्दीन से नफरत करने लगी थी ! इस घटना के बाद पीड़िता का भी नजीबुद्दीन से झगड़ा हुआ था !

अनंतरे आरोपिं पृथकभवितुं कथवती स्म ! आरक्षकं ददेत् अपवादे अस्यैव कलहस्य कारणेन पीड़िता स्व पुत्र्या: हनस्याशंकाम् व्यक्तवती ! अपवादे इदमपि ज्ञाप्तवान तत यदा पीड़िता कार्ये गच्छति स्म !

बाद में आरोपित को अलग होने के लिए कह दिया गया था ! पुलिस को दी गई शिकायत में इसी झगड़े की वजह से पीड़िता ने अपनी बेटी की हत्या होने का शक जताया है ! शिकायत में यह भी बताया गया है कि जब पीड़िता काम पर जा रही थी !

तदा नजीबुद्दीन: तस्या: दूरभाषम् गृहे त्यक्त्वा गंतुम् अकथयत् स्म ! अस्मिन् प्रकरणे पूनमल्ली आरक्षकस्य निरीक्षक: पीआर चिदंबरमुरुगेसन: उवाच, फॉरेंसिक दळम् मौखिक रूपेण हन्तकेण बालिकायाः शवेण सह दुष्कर्म कृतस्याशंकाम् व्यक्तवान !

तब नजीबुद्दीन ने उससे फोन को घर पर छोड़ कर जाने के लिए कहा था ! इस मामले में पूनमल्ली पुलिस के इंस्पेक्टर पीआर चिदंबरमुरुगेसन ने कहा, फॉरेंसिक टीम ने मौखिक रूप से हत्यारे द्वारा लड़की के शव के साथ रेप किए जाने की आशंका जताई है !

आरक्षकः नजीबुद्दीने आईपीसी इत्या: धारा ३०२ (हनन), ३८० (चौरकर्म) इत्यो: धारासु प्राथमिकी पंजीकृतस्य तस्यान्वेषणम् आरंभितवान स्म ! नजीबुद्दीन: प्रथमतः विवाहित: अस्ति ! ज्ञाप्यते तत खर्पर: नजीबुद्दीन: पलायनस्य काळम् स्व दूरभाषम् अवरुद्धम् कृतवान स्म !

पुलिस ने नजीबुद्दीन पर IPC की धारा 302 (हत्या) और 380(चोरी) की धाराओं पर FIR दर्ज कर के उसकी तलाश शुरू कर दी थी ! नजीबुद्दीन पहले से शादीशुदा है ! बताया जा रहा है कि शातिर नजीबुद्दीन ने फरार होने के दौरान अपने फोन को बंद कर दिया था !

ता पीड़ितायाः तस्या: च् मृतका पुत्र्या: दूरभाष गृहीत्वा पलायित: स्म ! आशंकाम् व्यक्तयते तत पीड़ितायाः पुत्रिम् हत्वा ता विरार गतवान स्म यत्र तस्य श्वसुरालमस्ति ! आरक्षकः सर्विलांस तः तस्य लोकेशन निस्सरेत् विरारारक्षकम् च् तस्य लोकेशन प्रेषित्वा तेन बंधनम् कृतवान !

वो पीड़िता और उसकी मृतका बेटी का फोन लेकर भागा था ! शक जताया जा रहा है कि पीड़िता की बेटी को मार कर वो विरार चला गया था जहाँ उसकी ससुराल है ! पुलिस ने सर्विलांस से उसकी लोकेशन निकाली और विरार पुलिस को उसकी लोकेशन भेज कर उसे गिरफ्तार करवा दिया !

तस्य बंधनम् गुरूवासरम् (१७ नवंबर, २०२२) तमम् अभवत् ! नजीबुद्दीनस्य पुरातनापराधिकेतिहासमपि अस्ति ! ज्ञाप्यते तत तः प्रथम चेन स्नेचिंग यथैव कृत्येषु सम्मिलित: अरमत् ! नजीबुद्दीनस्य प्रकरणे मीडिया इत्या: एकः वर्ग: तस्य नाम गोपने पूर्ण प्रयत्नम् क्रियेत् !

उसकी गिरफ्तारी गुरुवार (17 नवम्बर, 2022) को हुई है ! नजीबुद्दीन का पुराना आपराधिक इतिहास भी है ! बताया जा रहा है कि वो पहले चेन स्नेचिंग जैसी वारदातों में शामिल रह चुका है ! नजीबुद्दीन के मामले में मीडिया के एक वर्ग ने उसका नाम छिपाने पूरी कोशिश की !

बहुषु मीडिया सूचनासु तेन केवलं राजू इति नाम्ना ज्ञाप्तवान ! टाइम्स ऑफ इंडिया न्यू इंडियन एक्सप्रेस इत्यो: तस्य एकदा नजीबुद्दीन: नाम ज्ञाप्तौ ! मिडडे इत्या: सूचनायां तस्य नजीबुद्दीन: नाम पूर्णरूपेण गोपित्वा केवलं राजू मणि अय्यर इति ज्ञाप्तवान !

कई मीडिया रिपोर्ट्स में उसे सिर्फ राजू नाम से बताया गया ! टाइम्स ऑफ इंडिया और न्यू इंडियन एक्सप्रेस में उसका एक बार नजीबुद्दीन नाम बताया गया है ! मिड डे की रिपोर्ट में उसके नजीबुद्दीन नाम को पूरी तरह से छिपा कर सिर्फ राजू मणि अय्यर बताया गया है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here