32.1 C
New Delhi

२०२४ तमतः राम मंदिरे घातमातंकी संगठनानां मुख्य लक्ष्यं, नयपालतः विशस्याशंकाम्, सूचनापत्रे दृढ़कथनम्, भवितुं शक्नोति आत्मघातिन् घातम् ! 2024 से पहले राम मंदिर पर हमला आतंकी संगठनों का मेन टारगेट, नेपाल से घुसने की आशंका, रिपोर्ट में दावा, हो सकता है आत्मघाती हमला !

Date:

Share post:

केवल प्रतीक चित्र

अयोध्यायाः राममंदिरे घातस्यातंकी संगठनानि योजनाम् कुर्वन्ति ! २०२४ तमतः प्रथम राम मंदिरम् लक्ष्यं कर्तुं तेषां मुख्य लक्ष्यमस्ति ! ज्ञाप्यते ततास्मिन् कुचक्रे आतंकी संगठने लश्कर-ए-तैयबा जैश-ए- मोहम्मद च् मेलित्वा कार्यम् कुर्वतः !

अयोध्या के राम मंदिर पर हमले की आतंकी संगठन योजना बना रहे हैं ! 2024 से पहले राम मंदिर को निशाना बनाना उनका मेन टारगेट है ! ​बताया जा रहा है कि इस साजिश पर आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद मिल कर काम कर रहे हैं !

आतंकिन: नयपालस्य मार्गं भारते विष्टुम् शक्नोन्ति ! आत्मघातिन् घातम् भूतस्याशंकामपि व्यक्ते ! न्यूज १८ इत्या: सूचनापत्रस्यानुरूपम् आतंकिन: राम जन्मभूमिम् स्व सर्वात् वृहत् लक्ष्यस्य रूपे धृतवान् ! येन घातेन ते भारते सांप्रदायिकहिंसाम् प्रसारितुं ऐच्छन्ति !

आतंकी नेपाल के रास्ते भारत में घुस सकते हैं ! आत्मघाती हमला होने की आशंका भी जताई गई है ! न्यूज 18 की रिपोर्ट के मुताबिक आतंकियों ने रामजन्मभूमि को अपने सबसे बड़े टारगेट के तौर पर रखा हुआ है ! इस हमले के जरिए वे भारत में सांप्रदायिक हिंसा फैलाना चाहते हैं !

अस्थिरतौत्पादित्वा संपूर्ण विश्वे भारतस्य चित्रमसाधु कृतस्य योजना: क्रियते ! ज्ञाप्तवान् तत पकिस्तानी खुफिया संस्था आईएसआई स्वयं अस्य योजनायाः अनुश्रवणं करोति ! कुचक्रं कर्तुं नयपालस्य मार्गम् गोला-बारूद आतंकिन: च् प्रेषितुं शक्नोन्ति !

अस्थिरता पैदा कर दुनिया भर में भारत की छवि को खराब करने की प्लानिंग की जा रही है ! बताया गया है कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI खुद इस प्लानिंग की मॉनीटरिंग कर रहा है ! साजिश को अंजाम देने के लिए नेपाल के रास्ते गोला-बारूद और आतंकी भेजे जा सकते हैं !

ज्ञाप्यते तत दीर्घकालतः भारते कश्चित वृहतातंकिन् घटनाम् न सिद्धिकृतस्य कारणं पकिस्तानस्य खुफिया संस्थायां वृहत् भारमस्ति ! भारतीय सुरक्षा बला: न केवलं सीमापारातंकं अपितु ड्रग्स अप्रकृत मुद्रानां च् दस्युतायामपि अवरोधम् कृतवान् !

बताया जा रहा है कि लंबे समय से भारत में कोई बड़ी आतंकी घटना को अंजाम नहीं दे पाने के कारण पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी पर भारी दबाव है ! भारतीय सुरक्षा बलों ने न सिर्फ सीमा पार आतंकवाद बल्कि ड्रग्स और नकली नोट की तस्करी पर भी काफी लगाम लगाई है !

इदृशे तेषां संमुखमस्तित्वस्य संकटमस्ति ! स्वम् सुरक्षितं कर्तुं आईएसआई भारतस्य कश्चितैव प्रतिष्ठितस्थानम् लक्ष्यं कर्तुमेच्छति ! इदमेव कारणम् अस्ति तत राम मंदिरे घातम् तेषां लक्ष्ये सर्वोपरि अस्ति ! दृष्टिगतमस्ति तत प्रथममपि अयोध्यायां आतंकिन् घातमभवन् !

ऐसे में उसके सामने अस्तित्व का संकट है ! खुद को बचाए रखने के लिए ISI भारत की किसी प्रतिष्ठित जगह को निशाना बनाना चाहती है ! यही कारण है कि राम मंदिर पर हमला उसके टारगेट में सबसे ऊपर है ! गौरतलब है कि पहले भी अयोध्या में आतंकी हमले हो चुके हैं !

५ जुलै २००५ तमम् भक्त: भूत्वागच्छत् आतंकिन: घातम् कृतवान् स्म ! इति काळमातंकिन: अर्धाधिकं एकं घटकमेव सुरक्षाबलेषु गुलिका: अचालयत् ! अंते एकस्य दीर्घ समाघातस्यानंतरम् सर्वा: ५ आतंकिन: अहन् स्म ! नवंबर २०१९ तमे अयोध्यायां घाताय ७ पकिस्तानिनातंकिनां अनाधिकृत प्रवेशस्य अलर्ट अपि प्रस्तुतं अभवत् स्म !

5 जुलाई 2005 को भक्त बनकर आए आतंकियों ने हमला किया था ! इस दौरान आतंकियों ने डेढ़ घंटे तक सुरक्षा बलों पर गोलियाँ चलाई ! अंत में एक लम्बी मुठभेड़ के बाद सभी 5 आतंकी मार गिराए गए थे ! नवम्बर 2019 में अयोध्या में हमले के लिए 7 पाकिस्तानी आतंकियों की घुसपैठ का अलर्ट जारी हुआ था !

इति काळमपि आतंकिन: नयपालस्य मार्गस्य प्रयुज्यं कृतवान् स्म ! अगस्त २०२१ तमे जम्मू आरक्षकः जैश-ए-मोहम्मद इत्या: ४ आतंकी: बंधनम् कृतवान् स्म ! इमे आतंकिन: अपि अयोध्यायां घातस्य कुचक्रं रचते स्म !

इस दौरान भी आतंकियों ने नेपाल के रास्ते का प्रयोग किया था ! अगस्त 2021 में जम्मू पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के 4 आतंकियों को गिरफ्तार किया था ! ये आतंकी भी अयोध्या में हमले की साजिश रच रहे थे !

Previous article
Next article

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

कन्हैया लाल तेली इत्यस्य किं ?:-सर्वोच्च न्यायालयम् ! कन्हैया लाल तेली का क्या ?:-सर्वोच्च न्यायालय !

भवतम् जून २०२२ तमस्य घटना स्मरणम् भविष्यति, यदा राजस्थानस्योदयपुरे इस्लामी कट्टरपंथिनः सौचिक: कन्हैया लाल तेली इत्यस्य शिरोच्छेदमकुर्वन् !...

१५ वर्षीया दलित अवयस्काया सह त्रीणि दिवसानि एवाकरोत् सामूहिक दुष्कर्म, पुनः इस्लामे धर्मांतरणम् बलात् च् पाणिग्रहण ! 15 साल की दलित नाबालिग के साथ...

उत्तर प्रदेशस्य ब्रह्मऋषि नगरे मुस्लिम समुदायस्य केचन युवका: एकायाः अवयस्का बालिकाया: अपहरणम् कृत्वा तया बंधने अकरोत् त्रीणि दिवसानि...

यै: मया मातु: अंतिम संस्कारे गन्तुं न अददु:, तै: अस्माभिः निरंकुश: कथयन्ति-राजनाथ सिंह: ! जिन्होंने मुझे माँ के अंतिम संस्कार में जाने नहीं दिया,...

रक्षामंत्री राजनाथ सिंहस्य मातु: निधन ब्रेन हेमरेजतः अभवत् स्म, तु तेन अंतिम संस्कारे गमनस्याज्ञा नाददात् स्म ! यस्योल्लेख...

धर्मनगरी अयोध्यायां मादकपदार्थस्य वाणिज्यस्य कुचक्रम् ! धर्मनगरी अयोध्या में नशे के कारोबार की साजिश !

उत्तरप्रदेशस्यायोध्यायां आरक्षकः मद्यपदार्थस्य वाणिज्यकृतस्यारोपे एकाम् मुस्लिम महिलाम् बंधनमकरोत् ! आरोप्या: महिलायाः नाम परवीन बानो या बुर्का धारित्वा स्मैक...