24 C
New Delhi

बिहारस्य येषु ग्रामेषु केचन वर्षम् पूर्वम् गणनायाः आसीत् मुस्लिमा:, तत्राधुना हिंदू नावशिष्यते, बांग्लादेशिभिः परिवर्तिन् सीमांचलम्, सूचनापत्रे दृढ़ कथनम् क्रयेत् भूमि ! बिहार के जिन गाँवों में कुछ साल पहले गिनती के थे मुस्लिम, वहाँ अब हिंदू बचे नहीं, बांग्लादेशियों से बदला सीमांचल, रिपोर्ट में दावा खरीद रहे जमीन !

Date:

Share post:

केवल प्रतीकात्मक चित्र

बिहारस्य सीमावर्तिन् जनपदेषु अवैध बांग्लादेशिन् अनाधिकृत प्रवेशिनां प्रभाव: येन प्रकारेण बर्धवान् तत तत्रस्य हिंदू पलायनं विवश: अभवन् ! सीमांचल कथकं बिहारस्य एतेषु जनपदेषु बांग्लादेशिणां रोहिंग्याणां च् कारणं वृहत् रूपे जनसंख्यकीय परिवर्तनमभवन् !

बिहार के सीमावर्ती जिलों में अवैध बांग्लादेशी घुसपैठियों का दबदबा इस कदर बढ़ गया है कि वहाँ के हिंदू पलायन करने को मजबूर हो गए हैं ! सीमांचल कहलाने वाले बिहार के इन जिलों में बांग्लादेशी और रोहिंग्याओं के कारण बड़े पैमाने पर जनसंख्यकीय बदलाव हुए हैं !

यस्य कारणमेतेषु क्षेत्रेषु हिंदू अल्पसंख्यकमभवन् ! ज्ञाप्यतु तत बांग्लादेशस्य नयपालस्य च् सिम्ना संलग्नं बिहारस्य किशनगंजम्, अररियाम्, कटिहारं पूर्णियाम् च् सीमांचलस्य नाम्ना ज्ञायते, अत्र हिन्दुनां जनसंख्या तीव्रताया न्यूनमभवत् ! किशनगंजे तर्हि अल्पसंख्यकमभवन् !

जिनके कारण इन इलाकों में हिंदू अल्पसंख्यक हो गए हैं ! बता दें कि बांग्लादेश और नेपाल की सीमा से सटे बिहार के किशनगंज, अररिया, कटिहार और पूर्णिया को सीमांचल के नाम से जाना जाता है, यहाँ हिंदुओं की आबादी तेजी से कम हुई है ! किशनगंज में तो हिंदू अल्पसंख्यक हो चुके हैं !

दैनिक जागरणस्य सूचनापत्रस्यानुरूपम्, १९५१ तः २०११ तमेव देशस्य पूर्ण जनसंख्यायां मुस्लिमानां अंशदारिन् चत्वारि प्रतिशतमवर्धत् ! अस्मिन्नेव काले सीमांचले इदम् आंकड़ानुमानतः १६ प्रतिषतमस्ति, एतेषु जनपदेषु बंगस्य मार्गत: बांग्लादेशिणां रोहिंग्याणां चागत्वा वसस्य क्रम चरति !

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के मुताबिक, 1951 से 2011 तक देश की कुल आबादी में मुस्लिमों की साझेदारी चार प्रतिशत बढ़ी है ! इसी अवधि में सीमांचल में यह आँकड़ा लगभग 16 प्रतिशत है, इन जिलों में बंगाल के रास्ते बांग्लादेशियों और रोहिंग्याओं के आकर बसने का सिलसिला जारी है !

ज्ञाप्यतु तत नयपाल सिम्ना संलग्नं उत्तर प्रदेशे अपि स्थितिमनुमानतः इदमेवास्ति ! तत्र सिम्नी अवैध हन्तिणां वृहत् रूपे जाल इति प्रसृत्वा भूमिसु अवैध रूपेणाधिपत्यं क्रियते ! इयतेव न, समीपवर्तिन् क्षेत्रेषु डेमोग्राफिक परिवर्तनमभवन् ! बिहारस्य सीमांचलस्य वार्ता कुर्येत् तर्हि अत्रस्य प्रतिजनपदेषु मुस्लिमाणां जनसंख्या तीव्रताया बर्धितमस्ति !

बता दें कि नेपाल सीमा से सटे उत्तर प्रदेश में भी स्थिति कमोबेश यही है ! वहाँ सीमा पर अवैध मजारों का बड़े पैमाने पर जाल फैलाकर जमीनों पर अवैध रूप से कब्जा किया जा रहा है ! इतना ही नहीं, इन सीमावर्ती इलाकों में डेमोग्राफिक बदलाव हुए हैं ! बिहार के सीमांचल की बात करें तो यहाँ के हर जिले में मुस्लिमों की आबादी तेजी से बढ़ी है !

अस्य कारणं हिन्दुनां जनसंख्यायाः प्रतिशतम् न्यूनम् अभवन् केचन च् पलायनमकुर्वन् ! वर्षम् २०११ तमस्य जनगणनायाः अनुसारम्, किशनगंजे मुस्लिमाणां जनसंख्या ६७.५८ प्रतिशतमभवत् ! अत्र हिंदू सम्प्रति केवलं ३१.४३ प्रतिशतमवशेषितं सन्ति ! कटिहारे मुस्लिमाणां जनसंख्या ४४.४७ प्रतिशतं, अररियायां ४२.९५ प्रतिशतं पूर्णियायां च् ३८.४६ प्रतिशतमभवन् !

इस कारण हिंदुओं की आबादी का प्रतिशत घटा और कुछ तो पलायन कर गए ! साल 2011 की जनगणना के अनुसार, किशनगंज में मुस्लिमों की जनसंख्या 67.58 प्रतिशत हो गई है ! यहाँ हिंदू अब सिर्फ 31.43 प्रतिशत बचे हैं ! कटिहार में मुस्लिमों की आबादी 44.47 प्रतिशत, अररिया में 42.95 प्रतिशत और पूर्णिया में 38.46 प्रतिशत हो चुकी है !

सीमांचलस्य बहूनि इदृशानि जनपदानि सन्ति, यत्र हिंदू अल्पसंख्यकमभवन् अनंतरे च् प्रताड़नाया पीड़ित: भूत्वा तत्रतः पलायित: ! अररिया जनपदस्य रानीगंज प्रखंडस्य रामपुर ग्रामस्य हिंदू पलायनकृत्वा दोगांछी ग्रामम् गतवन्तः ! अत्र हिन्दुनां जनसंख्या किंचित अधिकमस्ति !

सीमांचल के कई ऐसे जिले हैं, जहाँ हिंदू अल्पसंख्यक हो गए और बाद में प्रताड़ना से तंग आकर वहाँ से पलायन कर गए ! अररिया जिले के रानीगंज प्रखंड के रामपुर गाँव के हिंदू पलायन कर दोगाँछी गाँव चले गए ! यहाँ हिंदुओं की आबादी थोड़ी अधिक है !

कथ्यते तत क्षेत्रे मुस्लिम स्व जनसंख्या बर्धनाय न केवलं बांग्लादेशिनः वासे सहाय्य कुर्वन्ति, अपितु तेभ्यः अभिलेख इत्यादयः अपि प्रबंधम् कुर्वन्ति ! तत्रैव, प्रतिमुस्लिम: अधिकाधिकं बालका: जन्म दत्वा मुस्लिम: प्रभाव: बर्धने व्यक्तिगतरूपे स्व योगदानम् दत्तुं न विस्मरन्ति !

कहा जाता है कि इलाके में मुस्लिम अपनी जनसंख्या बढ़ाने के लिए ना सिर्फ बांग्लादेशियों को बसाने में मदद करते हैं, बल्कि उनके लिए दस्तावेज आदि का भी प्रबंध करते हैं ! वहीं, हर मुस्लिम अधिक से अधिक बच्चे पैदा कर मुस्लिम दबदबा बढ़ाने में व्यक्तिगत तौर पर अपना योगदान देना नहीं भूलता है !

एकैक्याः मुस्लिम महिलायाः १४ एव बालका: सन्ति ! तत्रैव सामान्यरूपे सर्वात् न्यून बालयुक्त मुस्लिम महिलायाः अपि पंच बालका: भवन्ति ! अस्यैव प्रकारम् यदि एकस्य मुस्लिमस्य द्वे भार्ये अपि स्त: तर्हि तस्य औसतन द्वादश बालका: अभवन् ! यदि कश्चित ग्रामे २० मुस्लिम पुरुषा: सन्ति तर्हि औसतन २५० बालका: अभवन् !

एक-एक मुस्लिम महिला के 14 तक बच्चे हैं ! वहीं, सामान्य तौर पर सबसे कम बच्चे वाली मुस्लिम महिला के भी पाँच बच्चे होते हैं ! इसी तरह अगर एक मुस्लिम की दो बीवियाँ भी हैं तो उसके औसतन एक दर्जन बच्चे हो गए ! अगर किसी गाँव में 20 मुस्लिम पुरूष हैं तो औसतन 250 बच्चे हो गए !

यं प्रकारमग्रिम १० वर्षेषु जनसंख्यायाः पूर्णदृश्यमेव परिवर्तिष्यते ! ज्ञाप्यतु तत बांग्लादेशम् सम्प्रति च् तर्हि बर्मायाः रोहिंग्या पश्चिम बङ्गे प्रविशन्ति तत्रतः च् देशस्यान्येषु अंशेषु गत्वा वसन्ति ! यत्र-यत्र मुस्लिम जनसंख्याधिकं भवति, तत्र-तत्र यान् अवैध प्रवेषकान् प्रश्रय लब्धति !

इस तरह अगले 10 सालों में आबादी का पूरा सेनेरियो ही बदल जाएगा ! बता दें कि बांग्लादेश और अब तो बर्मा के रोहिंग्या पश्चिम बंगाल में घुसते हैं और वहाँ से देश के अन्य हिस्सों में जाकर बस जाते हैं ! जहाँ-जहाँ मुस्लिम आबादी अधिक होती है, वहाँ-वहाँ इन अवैध घुसपैठियों को प्रश्रय मिलता है !

परिदृश्ये परिवर्तनेण सहैव सीमांचलस्य इमानि पूर्ण जनपदानि राष्ट्रीय सुरक्षायाः दृष्टितः बहु संवेदनशीळं अभवन् ! वर्षे २०१७ तमे बांग्लादेश सिम्नी एकस्य सुरुङ्गायाः ज्ञानमभवत् स्म ! तत बांग्लादेशम् प्रति ८० मीटर भूम्या: खनन कृत्वा कंटकयुक्त भित्त्या: अधोतः भारतीय सिम्नी प्राप्तवान् स्म ! स्पष्टमस्ति तत सुरुङ्गा अवैध प्रवेषणायारचयत् स्म !

डेमोग्राफी में बदलाव होने के साथ ही सीमांचल के ये सारे जिले राष्ट्रीय सुरक्षा की दृष्टि से बेहद संवेदनशील बन गए हैं ! साल 2017 में बांग्लादेश सीमा पर एक सुरंग का पता चला था ! वह बांग्लादेश की ओर से 80 मीटर भूमि की खोदाई कर कंटीले बाड़ के नीचे से भारतीय सीमा में पहुँचाई गई थी ! स्पष्ट है कि वह सुरंग घुसपैठ के लिए बनी थी !

अत्रावैध प्रवेशकारयेण गृहीत्वा तेषां अलीकाभिलेख निर्माणेन गृहीत्वा तै: वासदत्तुं दस्युनां एकं पूर्ण संगठनम् कार्यम् करोति ! काले-काले इमे दस्यवः बंधने अपि आगच्छन्ति, तु तेषां सिंडिकेट इतम् त्रोटनम् सरलं नास्ति ! येषां प्रवेश बांग्लादेशे नयपाले चतिष्ठन् मुस्लिमा: दस्यवः एव भवन्ति ताभिः सह च् मेलित्वा इमे कार्यम् कुर्वन्ति !

यहाँ घुसपैठ कराने से लेकर उनके जाली दस्तावेज बनवाने से लेकर उन्हें बसाने तक के लिए तस्करों का एक पूरा गिरोह काम करता है ! समय-समय पर ये तस्कर पकड़े भी जाते हैं, लेकिन उनके सिंडिकेट को तोड़ पाना आसान नहीं है ! इनकी पैठ बांग्लादेश और नेपाल में बैठे मुस्लिमों तस्करों तक होती है और उनके साथ मिलकर ये ऑपरेट करते हैं !

Previous article
Next article

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

जोधपुरस्य सर्वकारी विद्यालये हिजाब धारणे संलग्ना: छात्रा: ! जोधपुर के सरकारी स्कूल में हिजाब पहनने पर अड़ी छात्राएँ !

राजस्थानस्य जोधपुरे हिजाब इतम् गृहीत्वा प्रश्नं अभवत् ! सर्वकारी विद्यालये छात्रा: हिजाब धारणे गृहीत्वा संलग्नवत्य:, तु तेषां परिजना:...

मेलकम् दर्शनमगच्छन् हिंदू महिला: शमीम: सदरुद्दीन: चताडताम्, उदरे अकुर्वताम् पादघातम् ! मेला देखने गईं हिन्दू महिलाओं को शमीम और सदरुद्दीन ने पीटा, पेट पर...

उत्तरप्रदेशस्य फर्रुखाबाद जनपदे एकः हिंदू युवके, तस्य मातरि भगिन्यां च् घातस्य वार्ता अस्ति ! घातस्यारोपम् शमीमेण सदरुद्दीनेण च्...

हल्द्वानी हिंसायां आहूय-आहूय हिंदू वार्ताहरेषु अभवन् घातम् ! ऑपइंडिया इत्यस्य ग्राउंड सूचनायां रहस्योद्घाटनम् ! हल्द्वानी हिंसा में चुन-चुन कर हिंदू पत्रकारों पर हुआ हमला...

उत्तराखंडस्य हल्द्वानी हिंसायां उत्पातकाः आरक्षक प्रशासनस्यातिरिक्तं घटनायाः रिपोर्टिंग कुर्वन्ति हिंदू वार्ताहरानपि स्वलक्ष्यमकुर्वन् स्म ! ते आहूय-आहूय वार्ताहरेषु घातमकुर्वन्...

हल्द्वान्यां आहतानां सुश्रुषायै अग्रमागतवत् बजरंग दलम् ! हल्द्वानी में घायलों की सेवा के लिए आगे आया बजरंग दल !

हल्द्वान्यां अवैध मदरसा-मस्जिदम् न्यायालयस्य आज्ञायाः अनंतरम् प्रशासनम् धराभीम गृहीत्वा ध्वस्तकर्तुं प्राप्तवत् तु सम्मर्द: उग्राभवन् ! प्रस्तर घातमकुर्वन्, गुलिकाघातमकुर्वन्,...