कार्यालयेषु, आपणेषु गृहेषु च् गच्छति यत् जलस्य जार, सम्प्रति तेषु अपि ष्ठीव् ! सोशल मीडिया इत्यां प्रसरन् चलचित्रम्, जनः उवाच, इमे समाजस्य रिपु: ! ऑफिस, दुकानों और घरों में जाता है जो पानी का जार, अब उसमें भी थूक ! सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो, बोले लोग, ये समाज के दुश्मन !

0
67

ष्ठीव् मेलित्वा करपट्टिका पचस्य बहूनि प्रकरणानि संमुखमागमनस्यानंतरम् सम्प्रति जलस्य कूपकेषु ष्ठीवस्य चलचित्रम् संमुखमागतवान ! देहली भाजपायाः पूर्व मीडिया प्रमुख: (सम्प्रति निलंबितं) नवीन कुमार जिंदल: स्वाधिकारिक ट्विटर हैंडल इत्यां यस्य चलचित्रम् प्रस्तुतवान !

थूक लगाकर रोटी सेंकने के कई मामले सामने आने के बाद अब पानी की बोतलों में थूकने का वीडियो सामने आया है ! दिल्ली भाजपा के पूर्व मीडिया प्रमुख (अब निलंबित) नवीन कुमार जिंदल ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर इसका वीडियो शेयर किया है !

येन सहैव सः कैप्शन अलिखत्, जल जिहाद: ! यद्यपि सः इदम् न ज्ञाप्तवान ततेदम् प्रसृतं चलचित्रम् कदायाः अस्ति कुत्रस्य चस्ति ! सोशल मीडिया इत्यां प्रसरयति इति चलचित्रे भवान् दर्शितुं शक्नोति तत कीदृशम् एकः जनः जलस्य वृहत् कूपम् स्वच्छम् कृतस्यानंतरम् तस्मिन् ष्ठीवते !

इसका साथ ही उन्होंने कैप्शन लिखा, पानी जिहाद ! हालाँकि उन्होंने यह नहीं बताया कि यह वायरल वीडियो कबका है और कहाँ का है ! सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस वीडियो में आप देख सकते हैं कि कैसे एक शख्स पानी की बड़ी कैन को साफ करने के बाद उसमें थूक रहा है !

एतानि जलानां कूपकानि बहु स्वच्छम् मान्यते ! साधारणतया कार्यालयेषु, आपणेषु, जलपानगृहेषु अत्रैव च् गृहेषु अपि यस्य जलम् पातुं प्रयुज्यते ! इदं चलचित्रम् संमुखमागमनस्यानंतरम् सोशल मीडिया प्रयुज्यकेषु बहु आक्रोशम् सन्ति !

इन पानी के कंटेनरों को काफी स्वच्छ माना जाता है ! आमतौर पर ऑफिस, दुकानों, होटलों और यहाँ तक की घरों में भी इसका पानी पीने के लिए इस्तेमाल किया जाता है ! यह वीडियो सामने आने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स में काफी आक्रोश है !

एकः प्रयुज्यकः अलिखत्, मित्राणि, इदम् दर्शनस्य अनंतरम् भवितुं शक्नुतं तर्हि गृहात् जलम् गृहीत्वा बहिः निस्सरन्तु ! इदृश: वृक: समाजस्य रिपु: अस्ति ! यस्य सामाजिक बहिष्कार: करणीय: ! गीता शर्मा लिखति, येषां जनानां मस्तिष्कं किं अभवन् !

एक यूजर ने लिखा, दोस्तों, ये देखने के बाद हो सके तो घर से पानी लेकर बाहर निकलो ! ऐसे भेड़िए समाज के दुश्मन हैं ! इनका सामाजिक बहिष्कार कर देना चाहिए ! गीता शर्मा लिखती हैं, इन लोगों के दिमाग को क्या हो गया है !

प्रभु एतान् सर्वान् सद्बुद्धिम् दियेत् यदि सद्बुद्धिम् नागच्छन्तु तर्हि दंडम् दियेत् ! यस्योत्तरे शिवम उपाध्याय: लिखति, यस्य केचन न भवकः अस्ति इमे जिहादिन: भूत्वा इव मरिष्यन्ति ! एकः अन्य प्रयुज्यकः उवाच ततेदृशमेव कृत्यानि बहुनापत्तिपूर्ण चिंतनस्य कारणानि सन्ति !

प्रभु इन सबको सद्बुद्धि दें अगर सद्बुद्धि ना आए तो सजा दें ! इसके जवाब में शिवम उपाध्याय लिखते हैं, इनका कुछ नहीं होने वाला है ये जिहादी थे, जिहादी हैं और जिहादी ही रहेंगे और जिहादी रहकर ही मरेंगे ! एक और यूजर ने कहा कि ऐसी हरकतें बहुत ही आपत्तिजनक और चिंतन का कारण हैं !

इदम् यत्रापि भवति, बहु अनर्हमस्ति सर्वा: प्रदेशानि केंद्र सर्वकारान् च् यस्य विरोधे विधेयकं रचनीयाः ! रीना सिंह लिखति, साधु, तदा पितामही-मातामही अकथ्यताम् तत यस्य गृहस्य तर्हि जलमपि न पानीयः ! मयानुभवामि तत ते इदम् सर्वमज्ञायताम् !

यह जहाँ भी हो रहा है, बहुत गलत है और सभी प्रदेशों और केंद्र सरकार को इसके विरोध में कानून बनाना चाहिए ! रीना सिंह लिखती हैं, अच्छा, तभी दादी-नानी कहती थीं कि इनके घर का तो पानी भी नहीं पीना चाहिए ! हमें लगता है कि वो यह सब जानती थीं !

दृष्टिगतमस्ति तत इति वर्ष जुलै मासे उत्तर प्रदेशस्य बिजनौर जनपदे एके जलपानगृहे ष्ठीव् मेलित्वा करपट्टिका: पचस्य प्रकरणम् संमुखमागच्छत् ! यस्य चलचित्रम् प्रसरस्यानंतरमारक्षकः आरोपिन् अरबाजं बंधनम् कृतवान !

गौरतलब है कि इस साल जुलाई में उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले में एक होटल में थूक लगाकर रोटियाँ बनाने का मामला सामने आया था ! जिसका वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने आरोपित अरबाज को गिरफ्तार कर लिया था !

प्रकरणम् बिजनौरस्य जलालाबाद चौक स्थितं जाकिर सदाबहार नाम्न: जलपानगृहस्यासीत् ! यस्मात् पूर्वमपि उत्तर प्रदेशस्य बहुषु जनपदेषु करपट्टिकायां ष्ठीवारोपणस्य चलचित्रम् प्रसृतं अभवन् !

मामला बिजनौर के जलालाबाद चौक स्थित जाकिर सदाबहार नाम के होटल का था ! इससे पहले भी यूपी के कई जिलों में रोटी पर थूक लगाने के वीडियो वायरल हुए हैं !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here