12.1 C
New Delhi

ईसाई धर्मप्रचारकै: हिंदू धर्मम् दुर्नाम् कृतस्य एकम् अन्य कुचक्रम् ! ईसाई मिशनरियों द्वारा हिंदू धर्म को बदनाम करने की एक और साजिश !

Date:

Share post:

उत्तरप्रदेशे आगराया संलग्नम् वृंदावने एक विचित्र घटनाम् सम्मुखम् आगतम् ! अत्र एके भवने निवसति महिला भवनस्य षष्ठ स्तरात् कूर्दयता,तस्मात् तस्या: निधनम् भवता ! उपरे: दृश्ये इयमात्महत्या यथा प्रकरणम् प्रतीतम् भवति !

उत्‍तर प्रदेश में आगरा से सटे वृंदावन में एक अजीब घटना सामने आई है ! यहां एक अपार्टमेंट में रह रही महिला ने इमारत की छठी मंजिल से छलांग लगा दी,जिससे उसकी मौत हो गई ! ऊपर से देखने में यह सामान्‍य खुदकुशी जैसा मामला प्रतीत होता है !

तु महिलायाः सखि आरक्षकम् यत् केचनापि ज्ञापिता,ता विस्मयकरिन् अस्ति ! तस्या: कथनमस्ति तत तस्या: सखि भगवतः श्रीकृष्णेन मेलनस्य आकांक्षणी स्म यदा च् एतस्मिन् तया सफलताम् न लभ्धवती तर्हि ताम् इदम् मार्गम् अंगीकृता भवनस्य षष्ठ स्तरात् कुर्दयता च् !

लेकिन महिला की मित्र ने पुलिस को जो कुछ भी बताया है,वह हैरान करने वाला है ! उसका कहना है कि उसकी दोस्‍त भगवान श्रीकृष्ण से मिलने की आकांक्षा पाले हुए थी और जब इसमें उसे कामयाबी नहीं मिली तो उसने यह रास्‍ता चुन लिया और अपार्टमेंट की छठी मंजिल से छलांग लगा दी !

वृंदावन यत् श्रीनगर नगर्या: नामेणापि देशम्-विश्वे प्रसिद्धमस्ति,वृंदावने अभवत् इति प्रकरणं विशेष रूपे कृष्ण भक्तानि पीडिता: ! अत्र देशैव न,संपूर्ण विश्वात् श्रीकृष्णस्य भक्तम् प्राप्तयन्ति !

वृंदावन जो श्रीनगर नगरी के नाम से भी देश-दुनिया में मशहूर है,वृंदावन में हुए इस वाकये ने खास तौर पर कृष्‍ण भक्‍तों को परेशान कर दिया है ! यहां देश ही नहीं,दुनिया भर से श्रीकृष्‍ण के भक्‍त पहुंचते हैं !

यस्मिन् इयम् रूसी महिलापि आसीत् ! यत् अभिज्ञानम् संमुखमागतम्,तस्यानुरूपम्,महिला अत्र वृंदावन धाम भवने न्यवसति स्म ! महिला इति भवनस्य षष्ठ स्तरे एकलैव न्यवसति स्म !

जिनमें यह रूसी महिला भी थी ! जो जानकारी सामने आई है,उसके मुताबिक,महिला यहां वृंदावन धाम अपार्टमेंट में रहती थी ! इसे रूसी बिल्डिंग के नाम से भी जाना जाता है ! महिला इस अपार्टमेंट की छठी मंजिल पर अकेले ही रहती थी !

भवनस्य षष्ठ स्तरात् कूर्दित्वा प्राणघातिका इति मृत महिलायाः परिचयम् तात्याना मेलोवस्कायायाः रूपे कृता,यत् रूसी नगर रोसतोवस्य वासिन् बद्यतैति !

अपार्टमेंट की छठी मंजिल से कूदकर जान गंवाने वाली इस मृत महिला की पहचान तात्‍याना मेलोवस्‍काया के तौर पर की गई है,जो रूसी शहर रोसतोव की बाशिंदा बताई जा रही है !

टाइम्स ऑफ इंडिया इत्यस्य सूचनापत्रस्य अनुरूपम्,महिला विगत वर्षात् यात्रा प्रवेशनानुमत्याम् अत्र न्यवसति स्म ! तैव भवने तस्या: एक सखि अपि न्यवसति,ताम् आरक्षकम् ज्ञापिता तत तस्याम् श्रीकृष्णेन मेलनस्य इच्छाम् कति प्रबलासीत् !

टाइम्‍स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, महिला बीते साल फरवरी से पर्यटक वीजा पर यहां रह रही थी ! उसी अपार्टमेंट में उसकी एक मित्र भी रह रही है,जिसने पुलिस को बताया कि उसमें श्रीकृष्‍ण से मिलने की इच्‍छा कितनी प्रबल थी !

इदम् घटना शानिवासरस्य बद्यतैति,यदा श्रीकृष्णेन मेलनस्य हठे महिला भवनस्य षष्ठ स्तरात् कूर्दयता,यस्या: तस्या: मृत्यु भविता ! आरक्षकस्यानुरूपम्,मृत महिलायाः शव मृत्युकारणपरीक्षायाप्रेषयत् भारत स्थित दूतावासम् च् इति प्रति अभिज्ञानम् दत्तम् !

यह घटना शनिवार की बताई जा रही है,जब श्रीकृष्‍ण से मिलने की जिद में महिला ने इमारत की छठी मंजिल से छलांग लगा दी,जिससे उसकी मौत हो गई ! पुलिस के मुताबिक,मृत महिला का शव पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया गया और भारत स्थित रूसी दूतावास को इस बारे में जानकारी दे दी गई है !

स्पष्टीकरण:-

इति घटनाम् कलमबद्धस्य केवलं एकमेव कारणमस्ति तत ईसाई धर्मप्रचारकै हिंदू देवी देवान् अनृतं प्रमाणित: हिंदू धर्मस्य प्रमाणिकतायाम् पुनः प्रश्नचिन्हम् अनुबंध्यत:, यत्र यद्यपि तथ्य ज्ञापयन्ति इयम् निराधारमस्ति अस्य सता कश्चित संबंधम् नास्ति,केवलं हिंदू धर्मम् दुर्नाम् कृतस्य कुत्सित: प्रयत्नम् केवलमस्ति !

इस घटना को कलमबद्ध करने का केवल एक ही कारण है कि ईसाई मिशनरियों द्वारा हिंदू देवी देवताओं को झूंठा साबित कर हिंदू धर्म की प्रामाणिकता पर पुनः प्रश्नचिन्ह लगाना,यहां जो भी तथ्य बताएं जा रहे हैं यह निराधार है इसका सच से कोई सरोकार नहीं है,केवल हिंदू धर्म को बदनाम करने का कुत्सित प्रयास मात्र है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

[tds_leads input_placeholder="Email address" btn_horiz_align="content-horiz-center" pp_checkbox="yes" pp_msg="SSd2ZSUyMHJlYWQlMjBhbmQlMjBhY2NlcHQlMjB0aGUlMjAlM0NhJTIwaHJlZiUzRCUyMiUyMyUyMiUzRVByaXZhY3klMjBQb2xpY3klM0MlMkZhJTNFLg==" msg_composer="success" display="column" gap="10" input_padd="eyJhbGwiOiIxNXB4IDEwcHgiLCJsYW5kc2NhcGUiOiIxMnB4IDhweCIsInBvcnRyYWl0IjoiMTBweCA2cHgifQ==" input_border="1" btn_text="I want in" btn_tdicon="tdc-font-tdmp tdc-font-tdmp-arrow-right" btn_icon_size="eyJhbGwiOiIxOSIsImxhbmRzY2FwZSI6IjE3IiwicG9ydHJhaXQiOiIxNSJ9" btn_icon_space="eyJhbGwiOiI1IiwicG9ydHJhaXQiOiIzIn0=" btn_radius="0" input_radius="0" f_msg_font_family="521" f_msg_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsInBvcnRyYWl0IjoiMTIifQ==" f_msg_font_weight="400" f_msg_font_line_height="1.4" f_input_font_family="521" f_input_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEzIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMiJ9" f_input_font_line_height="1.2" f_btn_font_family="521" f_input_font_weight="500" f_btn_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEyIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMSJ9" f_btn_font_line_height="1.2" f_btn_font_weight="600" f_pp_font_family="521" f_pp_font_size="eyJhbGwiOiIxMiIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEyIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMSJ9" f_pp_font_line_height="1.2" pp_check_color="#000000" pp_check_color_a="#309b65" pp_check_color_a_h="#4cb577" f_btn_font_transform="uppercase" tdc_css="eyJhbGwiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjQwIiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJsYW5kc2NhcGUiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjMwIiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJsYW5kc2NhcGVfbWF4X3dpZHRoIjoxMTQwLCJsYW5kc2NhcGVfbWluX3dpZHRoIjoxMDE5LCJwb3J0cmFpdCI6eyJtYXJnaW4tYm90dG9tIjoiMjUiLCJkaXNwbGF5IjoiIn0sInBvcnRyYWl0X21heF93aWR0aCI6MTAxOCwicG9ydHJhaXRfbWluX3dpZHRoIjo3Njh9" msg_succ_radius="0" btn_bg="#309b65" btn_bg_h="#4cb577" title_space="eyJwb3J0cmFpdCI6IjEyIiwibGFuZHNjYXBlIjoiMTQiLCJhbGwiOiIwIn0=" msg_space="eyJsYW5kc2NhcGUiOiIwIDAgMTJweCJ9" btn_padd="eyJsYW5kc2NhcGUiOiIxMiIsInBvcnRyYWl0IjoiMTBweCJ9" msg_padd="eyJwb3J0cmFpdCI6IjZweCAxMHB4In0=" msg_err_radius="0" f_btn_font_spacing="1"]
spot_img

Related articles

रामचरितमानसस्यानादर:, रिक्तं रमवान् सपायाः हस्तम् ! रामचरितमानस का अपमान, खाली रह गए सपा के हाथ ?

उत्तर प्रदेशे वर्तमानेव भवत् विधान परिषद निर्वाचनस्य परिणाम: आगतवान् ! पूर्ण ५ आसनेभ्यः निर्वाचनमभवन् स्म् ! यत्र ४...

चीन एक ‘अलग-थलग’ और ‘मित्रविहीन’ भारत चाहता है

एक अमेरिकी रिपोर्ट के अनुसार, "पाकिस्तान के बजाय अब चीन, भारतीय परमाणु रणनीति के केंद्र में है।" चीन भी समझता है कि परमाणु संपन्न भारत 1962 की पराजित मानसिकता से मीलों बाहर निकल चुका है।

हमारी न्याय व्यवस्था पर बीबीसी का प्रहार

बीबीसी ने अपनी प्रस्तुति में भारत के तथाकथित सेकुलरवादियों, जिहादियों और इंजीलवादियों के उन्हीं मिथ्या प्रचारों को दोहराया है, जिसे भारतीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) ने न केवल वर्ष 2012 में सिरे से निरस्त कर दिया

मध्यप्रदेशे इस्लामनगरम् ३०८ वर्षाणि अनंतरम् पुनः कथिष्यते जगदीशपुरम् ! मध्यप्रदेश में इस्लाम नगर 308 साल बाद फिर से कहलाएगा जगदीशपुर !

मध्यप्रदेशस्य भोपालतः १४ महानल्वम् अंतरे एकं ग्रामम् इस्लामनगरमधुना जगदीशपुर नाम्ना ज्ञाष्यते ! केंद्र सर्वकार: ग्रामस्य नाम परिवर्तनस्याज्ञा दत्तवान्...