12.1 C
New Delhi

का योगी सर्कारम् गर्हितस्य षड्यंत्रम् तर्हि न चलति उत्तर प्रदेशे ? क्या योगी सरकार को बदनाम करने की साजिश तो नहीं चल रही उत्तर प्रदेश में ?

Date:

Share post:

उत्तर प्रदेशस्य योगी सरकारः सततं पातकीनाम् उत्तर प्रदेशात् समाप्त कृतस्य प्रयत्नम् करोति, तु तस्य अधिकारिमेव यदि राजनीतिक षड्यंत्रस्य अंशमसि तर्हि सरकार नि:कार्यम् कथ्यते, सरकारे च् आरोपम् आरोपयस्य विपक्षम् प्राप्यति अवसरम् !

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार लगातार गुनहगारों का उत्तर प्रदेश से खत्म करने की कोशिश कर रही है, मगर उनके अधिकारी ही अगर राजनीतिक षड्यंत्र का हिस्सा हो तो सरकार निकम्मी कही जाती है, और सरकार पर आरोप लगाने का विपक्ष को मिलता है मौका !

वास्तवे योगी सरकार कश्चितापि भ्रष्टाचारेण युक्तम् अधिकारिम् न मुक्तयते इदानीं पश्यम् अधिकारिमपि सम्प्रति न इच्छीष्यते तत इयम् सर्कारम् अरहत् सततं एकस्य उपरांत एकम् इदृशं कार्यम् कुर्वन्ति यस्यात् सर्कारस्य प्रसिद्धिम् समाप्तमसि ! हाथरस बलरामपुर च् अस्य घटनानां अंशम् तर्हि न ?

वास्तव में योगी सरकार किसी भी भ्रष्टाचार से युक्त अधिकारी को बख्श नहीं रही है इसी को देखते हुए अधिकारी भी अब नहीं चाहते होंगे कि यह सरकार रहे और लगातार एक के बाद एक ऐसी हरकत करते हैं जिससे सरकार की छवि धूमिल हो ! हाथरस और बलरामपुर इन्ही घटनाओं का हिस्सा तो नहीं ?

हाथरसस्य घटनायाम् सम्प्रति एकम् नव परिवर्तनं !

हाथरस की घटना में अब एक नया मोड़ !

पीड़िताया: मातु आरोपमस्ति सम्प्रति मया भर्तस्कः अदीयते ! अस्या पितु भर्तस्कयते ! ते कथ्यन्ति तत सर्वम् अभियोगम् समाप्तम् भविष्यते ! सः नानुकूलं चित्रपटम् निर्मयते ! सम्प्रति अस्य मने यत् आगच्छति तत् कुर्वन्ति ! डीएम अत्यधिकम् चतुरताम् करोति ! भारं भारयति कथ्यति तत त्वया विश्वासम् नास्ति !

पीड़िता की मां का आरोप है अब हमें धमकी दी जा रही है ! इसके पापा को धमकाया जा रहा है ! वे कह रहे हैं कि सब केस रफा-दफा हो जाएगा ! उन्होंने उल्टे-सीधे वीडियो बना रखे हैं ! अब इनके मन में जो आ रहा है वह कर रहे हैं ! डीएम ज्यादा चालबाजी कर रहे हैं ! प्रेशर डाल रहे हैं कह रहे हैं कि तुम्हारा भरोसा नहीं है !

बचनं परिवर्तयते ! मीडिया न रहिष्यति अयम् गमिष्यते भवतः प्रत्येकदा बचनं परिवर्तितमस्ति न परिवर्तितमस्ति ! कदापि अग्रम् अहमपि परिवर्तयते, भवान् स्व विश्वसनीयतां समाप्तम् मा कुर्यात् ! मिडिया इतम् अर्ध गम्यते अर्ध श्व गमिष्यते !

बयान बदल दो ! मीडिया नहीं रहेगी ये चले जाएंगे, तुम्हें हमारे ही साथ रहना है ! आपकी इच्छा है आपको बार-बार बयान बदलना है नहीं बदलना है ! कभी आगे हम भी बदल जाएं, आप अपनी विश्वसनीयता खत्म मत कीजिए ! मीडिया वाले आधे चले गए हैं आधे कल चले जाएंगे !

परिवारम् अकथयत् वयं स्थानीय प्रशासनम् सरकारेण वा कश्चित उम्मीदम् नास्ति ! त्रय सदस्यीयम् एसआईटी इति यत् निर्मयते तस्मात् वयं कश्चित उम्मीदम् नास्ति ! वयं इति प्रकरणे स्वतंत्र अन्वेषणस्य याचनाम् कुर्याम: ! परिवारम् इति प्रकरणे स्पष्ट रूपे सीबीआई इति अन्वेषणस्य याचनाम् करोति !

परिवार ने कहा है हमें स्थानीय प्रशासन व सरकार से कोई उम्मीद नहीं है ! तीन सदस्यीय एसआईटी जो बनाई गई है उससे हमें कोई उम्मीद नहीं है ! हम इस मामले में स्वतंत्र जांच की मांग करते हैं ! जिसके लिए केंद्र सरकार के हस्तक्षेप की मांग करते हैं ! परिवार इस मामले में खुले तौर पर सीबीआई जांच की मांग कर रही है !

सम्प्रति बलरामपुरे अभवत् बलात्कारम् !

अब बलरामपुर में हुआ बलात्कार !

प्रकरणम् बलरामपुरस्य गेनसारी ग्रामस्य अस्ति, यत्र २२ वर्षीय दलित युवतीम् बी.कॉम द्वितीय वर्षस्य छात्राम् आसीत् भौमवासरम् च् स्व प्रवेशाय विद्यालयम् अगच्छत् स्म ! पीड़ितास्य कुटुम्बस्य अनुरूपम्, गृह आगमन कालम् तस्य अपहरणम् अक्रियते न्यूनात्न्यूनम् द्वयो जनौ तस्य बलात्कारम् अकरोत् !

मामला बलरामपुर के गेनसारी गांव का हैं, जहां 22 वर्षीय दलित युवती बी.कॉम दूसरे वर्ष की छात्रा थी और मंगलवार को अपने एडमिशन के लिए कॉलेज गई थी ! पीड़िता के परिवार के मुताबिक, घर लौटते समय उसका अपहरण कर लिया गया और कम से कम दो लोगों ने उसका रेप किया !

कुटुम्बम् अयमपि आरोपम् आरोपयत् तत युवतया सह बलात्कारम् कृतेन पूर्वम् तेन नश् अदीयते स्म ! यदा सा गृहम् पुरागच्छत् तर्हि सा बदतुम् असमर्थम् आसीत् केवलं च् इति कथ्यति स्म अहम् बहु पीड़ायाम् अस्मि, अहम् जीवितम् न अवशिष्यामि !

परिवार ने यह भी आरोप लगाया है कि युवती के साथ बलात्कार करने से पहले उसे नशा दिया गया था ! जब वह घर वापस आई तो वह बोलने में असमर्थ थी और केवल इतना कह रही थी मैं बहुत दर्द में हूँ, मैं जिंदा नहीं बच पाऊंगी !

स्थानीय मीडिया इत्यस्य कथनं अस्ति आरोपीनि बलात्कारम् कृतस्य उपरांत युवतया: पादयो हस्तयो च् अस्थिम् त्रोटयत् ! गम्भीर्य स्थिते च् एकम् रिक्शा इते युवतीम् गृहम् अप्रेषयत् ! आरक्षकम् इति वार्तास्य खण्डनम् अकरोत् अबदत् च्, मृतकाया: भ्रातेन उल्लिखितम् कृतवान द्वयो आरोपियो आबद्ध अक्रियते ! हस्त पाद कटि वा त्रोटनम् वार्ता सद नास्ति !

स्थानीय मीडिया का कहना है कि आरोपियों ने रेप करने के बाद युवती का पैर और हाथ की हड्डी तोड़ दी और गंभीर हालत में एक रिक्शे में युवती को घर भेज दिया ! पुलिस ने इस बात का खंडन किया और बताया, मृतका के भाई द्वारा नामजाद किए गए दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है ! हाथ पैर व कमर तोड़ने वाली बात सही नहीं है !

अभियोगस्य विवेचनास्य अति शीघ्रम् निस्तारणम् कृत दोषयो शीघ्रम् दंडम् दीयताय फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट इते ट्रायल इति कृताय अग्रिम विधिक कार्यवाहिम् करोति ! पोस्टमार्टम रिपोर्ट इते अस्य पुष्टिम् नाभवत् !

अभियोग की विवेचना का अति शीघ्र निस्तारण कर दोषियों को शीघ्र सजा दिलवाने हेतु फास्ट ट्रैक कोर्ट में ट्रायल करवाने के लिए अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है ! पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इसकी पुष्टि नहीं हुई है !

पीड़िता हस्ताभ्याम् ग्लूकोज ड्रिप इत्येन सह रिक्शा इते तिष्ठवा कार्यम् कृत्वा गृहम् आगमनत् स्म ! तस्य कुटुंबम् जनाः तया चिकित्सालय गृह्यते स्म ! तु मार्गेव तस्य निधनम् अभवत् ! उल्लिखितम् आरोपियो आबद्ध अक्रियते ! अग्रस्य अन्वेषणम् निरन्तरति !

पीड़िता हाथ में ग्लूकोज ड्रिप के साथ रिक्शा में बैठकर काम करके घर लौटी थी ! उसके परिवार वाले उसे अस्पताल ले जा रहे थे ! लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई ! नामजद आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं ! आगे की जांच जारी है !

विपक्षम् प्राप्यत् अवसरम् ?

विपक्ष को मिला मौका ?

समाजवादी दलस्य नेता अखिलेश यादव: ट्वीत कृत: अलिखत्, हाथरसस्य उपरांत सम्प्रति बलरामपुरे अपि एकम् जायाया सह सामूहिकम् बलात्कारम् उत्पीड़नस्य च् घृणित अपराधम् अभवत् आहतावस्थायाम् पीड़िताया: निधनम् अभवत् ! श्रद्धांजलि, भाजपा सरकार बलरामपुरे हाथरस यथा असमीक्ष्यम् सदनिर्णयम् वा न कुर्यात् पातकयो च् त्वरितम् कार्यवाहिम् कुर्यात् !

समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा, हाथरस के बाद अब बलरामपुर में भी एक बेटी के साथ सामूहिक बलात्कार और उत्पीड़न का घृणित अपराध हुआ है व घायलावस्था में पीड़िता की मृत्यु हो गयी है ! श्रद्धांजलि, भाजपा सरकार बलरामपुर में हाथरस जैसी लापरवाही व लीपापोती न करे और अपराधियों पर तत्काल कार्रवाई करे !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

[tds_leads input_placeholder="Email address" btn_horiz_align="content-horiz-center" pp_checkbox="yes" pp_msg="SSd2ZSUyMHJlYWQlMjBhbmQlMjBhY2NlcHQlMjB0aGUlMjAlM0NhJTIwaHJlZiUzRCUyMiUyMyUyMiUzRVByaXZhY3klMjBQb2xpY3klM0MlMkZhJTNFLg==" msg_composer="success" display="column" gap="10" input_padd="eyJhbGwiOiIxNXB4IDEwcHgiLCJsYW5kc2NhcGUiOiIxMnB4IDhweCIsInBvcnRyYWl0IjoiMTBweCA2cHgifQ==" input_border="1" btn_text="I want in" btn_tdicon="tdc-font-tdmp tdc-font-tdmp-arrow-right" btn_icon_size="eyJhbGwiOiIxOSIsImxhbmRzY2FwZSI6IjE3IiwicG9ydHJhaXQiOiIxNSJ9" btn_icon_space="eyJhbGwiOiI1IiwicG9ydHJhaXQiOiIzIn0=" btn_radius="0" input_radius="0" f_msg_font_family="521" f_msg_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsInBvcnRyYWl0IjoiMTIifQ==" f_msg_font_weight="400" f_msg_font_line_height="1.4" f_input_font_family="521" f_input_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEzIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMiJ9" f_input_font_line_height="1.2" f_btn_font_family="521" f_input_font_weight="500" f_btn_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEyIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMSJ9" f_btn_font_line_height="1.2" f_btn_font_weight="600" f_pp_font_family="521" f_pp_font_size="eyJhbGwiOiIxMiIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEyIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMSJ9" f_pp_font_line_height="1.2" pp_check_color="#000000" pp_check_color_a="#309b65" pp_check_color_a_h="#4cb577" f_btn_font_transform="uppercase" tdc_css="eyJhbGwiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjQwIiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJsYW5kc2NhcGUiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjMwIiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJsYW5kc2NhcGVfbWF4X3dpZHRoIjoxMTQwLCJsYW5kc2NhcGVfbWluX3dpZHRoIjoxMDE5LCJwb3J0cmFpdCI6eyJtYXJnaW4tYm90dG9tIjoiMjUiLCJkaXNwbGF5IjoiIn0sInBvcnRyYWl0X21heF93aWR0aCI6MTAxOCwicG9ydHJhaXRfbWluX3dpZHRoIjo3Njh9" msg_succ_radius="0" btn_bg="#309b65" btn_bg_h="#4cb577" title_space="eyJwb3J0cmFpdCI6IjEyIiwibGFuZHNjYXBlIjoiMTQiLCJhbGwiOiIwIn0=" msg_space="eyJsYW5kc2NhcGUiOiIwIDAgMTJweCJ9" btn_padd="eyJsYW5kc2NhcGUiOiIxMiIsInBvcnRyYWl0IjoiMTBweCJ9" msg_padd="eyJwb3J0cmFpdCI6IjZweCAxMHB4In0=" msg_err_radius="0" f_btn_font_spacing="1"]
spot_img

Related articles

रामचरितमानसस्यानादर:, रिक्तं रमवान् सपायाः हस्तम् ! रामचरितमानस का अपमान, खाली रह गए सपा के हाथ ?

उत्तर प्रदेशे वर्तमानेव भवत् विधान परिषद निर्वाचनस्य परिणाम: आगतवान् ! पूर्ण ५ आसनेभ्यः निर्वाचनमभवन् स्म् ! यत्र ४...

चीन एक ‘अलग-थलग’ और ‘मित्रविहीन’ भारत चाहता है

एक अमेरिकी रिपोर्ट के अनुसार, "पाकिस्तान के बजाय अब चीन, भारतीय परमाणु रणनीति के केंद्र में है।" चीन भी समझता है कि परमाणु संपन्न भारत 1962 की पराजित मानसिकता से मीलों बाहर निकल चुका है।

हमारी न्याय व्यवस्था पर बीबीसी का प्रहार

बीबीसी ने अपनी प्रस्तुति में भारत के तथाकथित सेकुलरवादियों, जिहादियों और इंजीलवादियों के उन्हीं मिथ्या प्रचारों को दोहराया है, जिसे भारतीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) ने न केवल वर्ष 2012 में सिरे से निरस्त कर दिया

मध्यप्रदेशे इस्लामनगरम् ३०८ वर्षाणि अनंतरम् पुनः कथिष्यते जगदीशपुरम् ! मध्यप्रदेश में इस्लाम नगर 308 साल बाद फिर से कहलाएगा जगदीशपुर !

मध्यप्रदेशस्य भोपालतः १४ महानल्वम् अंतरे एकं ग्रामम् इस्लामनगरमधुना जगदीशपुर नाम्ना ज्ञाष्यते ! केंद्र सर्वकार: ग्रामस्य नाम परिवर्तनस्याज्ञा दत्तवान्...