33.1 C
New Delhi

किं गोपितुं इच्छति मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ? क्या छुपाना चाहती हैं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ?

Date:

Share post:

पश्चिम बंगस्य मुख्यमंत्री ममता बनर्ज्या: सर्वकारः संभवत: नेच्छति तत रामनवम्यां अभवत् हिंसायाः सम्यकभिज्ञानम् संमुखम् आगतवत् ! वस्तुतः, हिंसायाः अनुसंधानकृतं प्राप्तवन्तः स्वायत्त फैक्ट फाइंडिंग दलम् बंग आरक्षकः एकदा पुनः रविवासरम् (९ अप्रैल २०२३) हावड़ा गमनेणावरोधयत् !

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की सरकार शायद नहीं चाहती कि रामनवमी पर हुई हिंसा की सही जानकारी सामने आए ! दरअसल, हिंसा की जाँच करने पहुँची निजी फैक्ट फाइंडिंग टीम को बंगाल पुलिस ने एक बार फिर रविवार (9 अप्रैल 2023) को हावड़ा जाने से रोक दिया !

इयतेव न, आरक्षकः दलस्य सदस्यै: सहाभद्रता अपि कृतवान् ! रामनवम्यां बंगे अभवत् हिंसायाः अनुसंधानाय मानवाधिकार संगठनस्य एकं फैक्ट फाइंडिंग दलम् राजधानी कोलकाता प्राप्तवत् स्म ! दलस्य सदस्यानारक्षकः हिंसाग्रस्त हावड़ा गमनेण रविवासरमवरोधयत् !

इतना ही नहीं, पुलिस ने टीम के सदस्यों के साथ बदतमीजी भी की ! रामनवमी पर बंगाल में हुई हिंसा की जाँच के लिए मानवाधिकार संगठन की एक फैक्ट फाइंडिंग टीम राजधानी कोलकाता पहुँची थी ! टीम के सदस्यों को पुलिस ने हिंसाग्रस्त हावड़ा जाने से रविवार को रोक दिया !

यस्मात् पूर्वम् दलम् बंगारक्षकः रोसड़ा गमनेण अवरोधयत् स्म ! आरक्षकः तर्क: दत्तवान् तत हिंसायाः कारणं क्षेत्रे धारा १४४ चलति ! अतएव मानवाधिकार संगठनस्य दलम् एतेषु क्षेत्रेषु गन्तुं न शक्नोन्ति !

इससे पहले टीम को बंगाल पुलिस ने रोसड़ा जाने से रोक दिया था ! पुलिस ने तर्क दिया कि हिंसा के कारण इलाके में धारा 144 लागू है ! इसलिए मानवाधिकार संगठन के टीम इन इलाकों में नहीं जा सकते हैं !

दलम् रविवासरम् हावड़ायां संबंधित घटनास्थले गन्तुं इच्छति स्म तत्रस्य च् पीड़ितै: कुटुंबै: वार्ता कृत्वा स्थित्या: सम्यक् ज्ञान नीतुं इच्छति स्म ! स्थित्या: ज्ञानाय पटनौच्च न्यायालयस्य पूर्व न्यायाधीश: नरसिम्हा रेड्डी इत्या: नेतृत्वे ६ सदस्यीय दलम् हिंसा प्रभावित क्षेत्रस्य भ्रमण कर्तुं प्राप्तवन्तः !

टीम रविवार को हावड़ा में संबंधित घटनास्थल पर जाना चाहता था और वहाँ के पीड़ित परिवारों से बात करके स्थिति का सही जायजा लेना चाहता था ! हालात का जायजा के लिए पटना उच्च न्यायालय के पूर्व मुख्य न्यायाधीश नरसिम्हा रेड्डी के नेतृत्व में 6 सदस्यीय टीम हिंसा प्रभावित क्षेत्र का दौरा करने पहुँची है !

आरक्षकः दलम् हुगली जनपदस्य भ्रमण कृतेन अवरोधयत् स्म ! पूर्व मुख्य न्यायाधीश: नरसिम्हा रेड्डी अकथयत्, ते (आरक्षक अधिकारिनः) कथयन्ति तत क्षेत्रे सीआरपीसी इत्या: धारा १४४ स्थाप्यवत्, तु अत्र केचनापि नास्ति ! ते अविभिवु:, कुत्रचित् तस्य रहस्योद्घाटितं भविष्यति !

पुलिस ने टीम को हुगली जिले का दौरा करने से रोक दिया था ! पूर्व मुख्य न्यायाधीश नरसिम्हा रेड्डी ने कहा, वे (पुलिस अधिकारी) कह रहे हैं कि इलाके में सीआरपीसी की धारा 144 लगाई गई है, लेकिन यहाँ कुछ भी नहीं है ! वे डरे हुए हैं, क्योंकि उनका पर्दाफाश हो जाएगा !

दलस्य एकः सदस्य: अकथयतारक्षकः तै: अवरोधयत् स्म सः अकथयत् तत ते आहतै: वार्ताकृत्वा तेषां आत्मविश्वासबर्धितुं गच्छन्ति ! सः अकथयत् तत ते घटनायाः अनुसंधानकर्तुं न गच्छन्ति ! तत्रस्य जनेषु विश्वासजागृतुं इच्छन्ति !

टीम के एक सदस्य ने कहा कि पुलिस ने उन्हें रोका था उन्होंने कहा कि वे लोग घायलों से बात कर उनका आत्मविश्वास बढ़ाने जा रहे हैं ! उन्होंने कहा कि वे घटना की जाँच करने नहीं जा रहे हैं ! वहाँ के लोगों में विश्वास जगाने जा रहे हैं !

दलस्य सदस्यानां कथनमस्ति तत यस्य पूर्वम् शनिवासरम् (८ अप्रैल २०२३) रिसड़ा गमनस्य काळम् मार्गे आरक्षकः तै: अवरोधयत् स्म ! सः अकथयत्, वयं पादेनैव गन्तुं इच्छाम: स्म, कुत्रचित् बंगे कुत्रैवापि कर्फ्यू नास्ति ! अद्य द्वितीय दिवसं हुगली आरक्षकः लोकयानम् अवरोधयत् ! सः अकथयत् तत बंगस्य ममता सर्वकारः राज्यस्य जनान् प्रति केचन न विचार्यति !

टीम के सदस्यों का कहना है कि इसके पहले शनिवार (8 अप्रैल 2023) को रिसड़ा जाने के दौरान रास्ते में पुलिस ने उन्हें रोक दिया था ! उन्होंने कहा, हम पैदल जाना चाहते थे, क्योंकि बंगाल में कहीं भी कर्फ्यू नहीं है ! आज दूसरे दिन हुगली पुलिस ने कार को रोक दिया ! उन्होंने कहा कि बंगाल की ममता सरकार राज्य की जनता के बारे में कुछ नहीं सोचती है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

पञ्जाबे सर्वाः जी मीडिया चैनल प्रतिबन्धिताः, एषा पत्रिका-स्वातन्त्र्यस्य उपरि आक्रमणं नास्ति वा ? पंजाब में जी मीडिया के सभी चैनल बैन, क्या यह प्रेस...

पञ्जाबे सर्वाः जी न्यूज चैनल प्रतिबन्धिताः सन्ति। चैनल तस्य घोषणा कृता अस्ति ! पञ्जाबे जी-मीडिया इत्यस्य सर्वाः चैनल...

६ जैन साध्व्यः मार्गेण गच्छन्तः आसन्, अल्ताफ् हुसैन् शेखः प्रथमं तान् अनुधावन् ततः पट्ट्या प्रहारं कृतवान् ! सड़क से गुजर रहीं थी 6 जैन...

गुजरातस्य भरूच्-नगरे, अल्ताफ् हुसैन् शेख् नामकः एकः पुरुषः मार्गे गच्छतां जैन साध्वीं आक्रान्तवान्। जैनः साध्वीं आक्रमनात् पूर्वं दीर्घकालं...

फतेहपुरस्य शिव-कवितायो: पुनः गृहागमनस्य कथा ! फतेहपुर के शिव-कविता की घरवापसी की कहानी !

उत्तरप्रदेशस्य फ़तेह्पुर्-नामकस्य उजाड़ेग्रामे, २० वर्षेभ्यः पूर्वं इस्लाम्-मतं स्वीकृत्य वञ्चितः एकः हिन्दु-दम्पती इदानीं हिन्दु-मतं प्रति प्रत्यागतः अस्ति! शिवप्रसादलोधिः, कविता...

वाहिद कुरैशी इत्यनेन मथुरायाः पञ्जाबी बाजार इत्यस्य नाम इस्लामिक बाजार इति परिवर्तितम् ! मथुरा की पंजाबी बाजार के नाम को वाहिद कुरैशी ने बदलकर...

उत्तरप्रदेशस्य मथुरा-जनपदस्य कोसिकलां ग्रामे एकः मुस्लिम्-दुकानदारः विपण्याः नाम परिवर्तितवान्। सः स्वस्य स्थानात् प्रदत्तानां वस्तूनां प्रचारसामग्रीनां च सञ्चिकासु पञ्जाबी-बजार्...