शमयाप्रास संगठन द्वारा ऋषिकेश में कश्मीर फाइल्स को प्रमोट करना और हिंदुओं में जनजागृति बढ़ाने का अच्छा प्रयास

0
239

श्रीमान विवेक अग्निहोत्री जी ने 90 के दशक में कश्मीर के हिन्दुओ के नरसंहार पर द कश्मीर फाइल्स नामक एक फ़िल्म बनाई है। कश्मीरी हिन्दुओ की पीड़ा , उनकी व्यथा को 32 वर्षो तक दबा कर रखा गया। आज जब फ़िल्म जगत में किसी ने उस सत्य पर फ़िल्म बनाई है, आज जब किसी ने उन हिन्दुओ की व्यथा को , पीड़ा को फिल्मी पर्दे पर उकेरा है, तो ये समाज का दायित्व और कर्तव्य बनता है कि इस सत्य को यथाशक्ति यथासामर्थ्य प्रसारित करे और उन सभी नरसंहारों का प्रतीक यह फ़िल्म जो हमे प्रेरित करता है कि इस निंदनीय सामूहिक हिंसा से हम चेतें और जरुक होजाएँ और संघटित होकर अपने हिंदुओं में अपनत्व और विश्वास को स्थापित यथाशीघ्र करें यह समय की मांग है और अपने हिन्दू भाइयों को काम का अवसर प्रदान करें और उन्ही से व्यापार करें ताकि हमे अपने लोगों को पलायन होते देखना न पड़े। इसी कड़ी में हमारी संस्था शमयाप्रास, ह्रषिकेश के संथापक पूज्य स्वामी वासुदेव दास जी द्वारा निर्देश करने पर हमारे पदाधिकारि श्री कार्तिक श्रीनिवासन जो कि इस संस्था के निर्देशक एवं सचिव हैं, उन्होंने अन्य पाधिकारियों की स्वीकृति प्राप्त करके तय किया कि इस श्रृंखला को स्वामीजी के नेतृत्व में इसे आंदोलन में परिवर्तित करना अवश्यम्भावी है ताकि हिन्दू अपने स्वार्थ से उठना सीखे धर्म के लिए खड़े होजावे ताकि हिन्दू अधिकारों का हनन ह्रषिकेश में न हो और इस पुण्य भूमि की अस्मिता और पवित्रता अक्षुण्ण रहे।

हमारी संस्था को ऐसा लगा ह्रषिकेश में जैसा जनाक्रोश देखना चाहिए वैसा दिखाई नही दे रहा है और यह समय की मांग है कि एक संदेश लॉगऑन के मध्य जाए,
इसी कड़ी में हमारी संस्था जो यदि यह अतिश्योयी न हो कहने में एक लौति संस्था है पूरे उत्तराखंड प्रदेश में जिसने ऋषिकेश स्थित सिनेमाघर ‘रामा पैलेस’ की सभी 606 सीटों को बुक किया था। हिन्दू समाज के लोगो से आग्रह किया है की यदि वे अपने भविष्य के प्रति सचेत होना चाहते है, जागरूक होना चाहते है तो ये फ़िल्म देखने आए वोह भी निशुल्क।

यदि आप चाहते है कि जो कश्मीर में हुआ वो देवभूमि उत्तराखंड में ना हो तो इस फ़िल्म को अवश्य देखें। 20 मार्च सायं 6 बजे रामा पैलेस में द कश्मीर फाइल्स की स्पेशल स्क्रीनिंग ऋषिकेश वासियो के लिए निशुल्क था। इस सिनेमा को देखने से पूर्व हमारी संस्था ने इस प्रकरण को यादगार बनाने हेतु “हिन्दू पुनरुत्थान” शीर्षक पर एक रैली का आयोजन किया है ताकि हिन्दू समुदाय मे जागरूकता उत्पन्न हो और अपने दायित्वों के प्रति अपने प्रतिबद्धता का बोध हो इस हेतु इस रैली का आयोजन किया गया ताकि ह्रषिकेश निवासी अपने जागरुक होने का और संगठित होने संकेत समग्र प्रदेश दे सके ।

हमारी इच्छा को प्रशासन ने अपनी स्वीकृति दी और पूर्ण सहयोग प्रदान किया, हम ऋषिकेश की जनता को इतनी बड़ी संख्या में रैली मे भाग लेकर अपने एकजुटता का परिचय देने और थिएटर की 606 सीटों को सम्पूर्ण हाउसफुल करने में हम सफल रहे इसके लिए हम सबको हृदय से धन्यवाद व्यक्त करते हैं।

लेखक : कार्तिक श्रीनिवासन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here