33.1 C
New Delhi

ये है असली असहिष्णुता – हिंदुत्ववादी वकील करुणेश शुक्ला को मुस्लिम युवक ने सर काटने की दी धमकी

Date:

Share post:

भारत में असहिष्णुता है, ऐसा प्रचार पिछले 5-6 सालो से किया जा रहा है, लेकिन ये नहीं बताया जाता कि असहिष्णु है कौन? खैर, इसके लिए कहीं जाने की जरूरत नहीं, रोजमर्रा की जिंदगी में हमे पता लग जाता है की आखिर ये ‘असहिष्णु’ कौम आखिर है कौन सी।

ताजा असहिणुता का स्वाद सुप्रीम कोर्ट के तेज तर्रार हिंदुत्ववादी वकील करुणेश शुक्ला ने चखा, उन्हें एक मुस्लिम युवक ने सिर काटने की धमकी दी है। यूटूब पर अपलोड वीडियो में कमेंट कर तारीख-ए-खिलाफत इंडिया नाम के यूजर ने करुणेश शुक्ला के सर काटने की धमकी दी है। उसने कमेंट में लिखा – तेरा अंजाम बुरा होगा, इंशाअल्लाह, तेरा सर काट कर सुप्रीम कोर्ट में जाउंगा सर लेकर। यहां ये बात जानने लायक है कि वकील करुणेश शुक्ला हमेषा से ही इस्लामिक कट्टरपंथी लोगो के निशाने पर रहते हैं, और ये लोग उन्हें जान से मारने की धमकी देते रहते हैं।

करुणेश शुक्ला बड़े ही बहादुर वकील हैं, उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में कुरान के खिलाफ याचिका दायर की थी। उन्होंने दावा किया था कि कुरान की आयतें भारतीय संविधान का उल्लंघन करती हैं। जिसे लेकर वह देश की सर्वोच्च अदालत पहुंच गए हैं। करुणेश शुक्ला ने बताया कि कुरान में लिखा है बहुदेव उपासक / मूर्ति पूजा करने वाले काफिर है , और सूरा-तौबा, आयत नं 9:5 में लिखा है , काफिरों की घात लगाकर बैठो, उन्हें घेर लो, और मार डालो। यह हमारे संवैधानिक अधिकार अनुच्छेद 21, और 26 का हनन है, उन्होंने इन सभी आपत्तिजनक बातो के खिलाफ ही माननीय सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी।

करुणेश शुक्ला ने कहा कि कुरात की आयतें साफ तौर पर कानून का उल्लंघन करती हैं। उन्होंने कहा कि कुरान कहता है कि मूर्ति पूजा करने वाले काफिर हैं और ऐसे लोगों की हत्या की बात कही गई है। उन्होंने कहा कि भारत संविधान के अनुसार चलने वाला देश है और भारत में इस प्रकार की आयतों के लिए कोई जगह नहीं होना चाहिए, जहां हिंसा को बढ़ावा देने की बात कही गई हो। करुणेश शुक्ला ने कहा कि हमे सुप्रीम कोर्ट से आशा है कि वह इस तरह के गैर संवैधानिक साहित्य पर रोक लगाएगी, जिससे सामाजिक तानाबाना बिगड़ सकता है।

जाहिर है, जो वकील इस्लाम के बुरे पक्ष को दुनिया के सामने रखेगा, उसे इस्लामी कट्टरपंथी भला कैसे छोड़ देंगे। और अजीब बात ये है कि यही इस्लामिक कौम दुनिया भर में भारत को असहिष्णु बताती फिरती है , जबकि कटटरपंथ और असहिष्णुता में में ये सबसे आगे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

पञ्जाबे सर्वाः जी मीडिया चैनल प्रतिबन्धिताः, एषा पत्रिका-स्वातन्त्र्यस्य उपरि आक्रमणं नास्ति वा ? पंजाब में जी मीडिया के सभी चैनल बैन, क्या यह प्रेस...

पञ्जाबे सर्वाः जी न्यूज चैनल प्रतिबन्धिताः सन्ति। चैनल तस्य घोषणा कृता अस्ति ! पञ्जाबे जी-मीडिया इत्यस्य सर्वाः चैनल...

६ जैन साध्व्यः मार्गेण गच्छन्तः आसन्, अल्ताफ् हुसैन् शेखः प्रथमं तान् अनुधावन् ततः पट्ट्या प्रहारं कृतवान् ! सड़क से गुजर रहीं थी 6 जैन...

गुजरातस्य भरूच्-नगरे, अल्ताफ् हुसैन् शेख् नामकः एकः पुरुषः मार्गे गच्छतां जैन साध्वीं आक्रान्तवान्। जैनः साध्वीं आक्रमनात् पूर्वं दीर्घकालं...

फतेहपुरस्य शिव-कवितायो: पुनः गृहागमनस्य कथा ! फतेहपुर के शिव-कविता की घरवापसी की कहानी !

उत्तरप्रदेशस्य फ़तेह्पुर्-नामकस्य उजाड़ेग्रामे, २० वर्षेभ्यः पूर्वं इस्लाम्-मतं स्वीकृत्य वञ्चितः एकः हिन्दु-दम्पती इदानीं हिन्दु-मतं प्रति प्रत्यागतः अस्ति! शिवप्रसादलोधिः, कविता...

वाहिद कुरैशी इत्यनेन मथुरायाः पञ्जाबी बाजार इत्यस्य नाम इस्लामिक बाजार इति परिवर्तितम् ! मथुरा की पंजाबी बाजार के नाम को वाहिद कुरैशी ने बदलकर...

उत्तरप्रदेशस्य मथुरा-जनपदस्य कोसिकलां ग्रामे एकः मुस्लिम्-दुकानदारः विपण्याः नाम परिवर्तितवान्। सः स्वस्य स्थानात् प्रदत्तानां वस्तूनां प्रचारसामग्रीनां च सञ्चिकासु पञ्जाबी-बजार्...