21.8 C
New Delhi

Tag: Sanatana dharma

spot_imgspot_img

कर्म व्यवहार

स्वार्थ : स्वयं की प्रगति, प्रतिष्ठा व प्रसन्नता के लिये किया गया कार्यl यह हमारा स्वयं के प्रति प्रेम व कर्तव्य है, जो हम...