यह नया उत्तर प्रदेश है, जो अपराधियों का मानमर्दन करता है- सीएम योगी

0
180
Picture Credit - The Indian Express

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को एक बार फिर विपक्षी दलों को कठघरे में खड़ा किया। आज सीएम योगी ने अपने सरकारी आवास पर जौनपुर के मल्हनी विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव की तैयारियों के बारे में भाजपा प्रदेश पदाधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चर्चा की।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने मल्हनी विधानसभा के उपचुनाव की तैयारियों को लेकर वर्चुअल बैठक में कार्यकर्ताओं में जोश भरा। इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर जमकर हमला बोला। सीएम योगी ने कहा कि “उत्तर प्रदेश में तो भाजपा और विपक्ष में बड़ा फर्क है। वह अपराधियों, माफियाओं को संरक्षण देते थे, हम उनका मानमर्दन करते हैं। हम तो गरीबों की जमीन पर कब्जा की गई हवेलियों को जमीदोंज करते हैं। लोकतंत्र के गले को घोटने वाली सोच, भाई-भतीजे के नाम पर सामाजिक ताने बाने को छीन-भिन करने वाली सोच को हमने काफी झेला है। इस सोच के लोग जब प्रदेश में माफिया के खिलाफ कार्रवाई होती है तो सबसे ज्यादा परेशानी होते हैं। यही लोग षड्यंत्र रच रहें, हमें इनके षड्यंत्र से डरना नहीं है।”

यह नया उत्तर प्रदेश है, जो अपराधियों का मानमर्दन करता है- सीएम योगी

उन्होंने कहा, “उत्तर प्रदेश ने वह दौर भी देखा है जब अपराधी-माफिया राजनीतिक दलों की नीतियां तय करते थे। सत्ता इन्हें सिर-आंखों पर रखती थी, जिसकी बदौलत यह लोग खूब फले-फूले। गरीबों की जमीनों पर काबिज कर महल खड़ा कर लिए। पर अब यह सब नहीं चलेगा। यह नया उत्तर प्रदेश है, जो अपराधियों का मानमर्दन करता है। साथ ही उन्होंने कहा कि विकास का कोई विकल्प नहीं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सबका साथ, सबका विकास का जो नारा दिया था उसके अनुसार केंद्र और प्रदेश में काम हो रहे हैं।”

कुछ लोगों को विकास और गरीबों की खुशहाली रास नहीं आ रही- सीएम योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, “कुछ लोग जिनकी सोच में ही विकास नहीं है। जिनकी सोच जाति, मजहब, धर्म और क्षेत्र तक सीमित है। जो पार्टी को परिवार की तरह चलाते हैं। अराजकता और भ्रष्टाचार जिनकी पहचान है। उनको बिना भेदभाव के पूरी पारदर्शी के साथ हो रहे विकास के कार्य और गरीबों की खुशहाली रास नहीं आ रही है। लिहाजा वह समाज को बांटने का जाति और संप्रदाय का वही पुराना हथकंडा अपना रहे हैं। पर अब ऐसे लोगों की दाल अब गलने वाली नहीं। जनता सब जान चुकी है। लगातार उनको बता भी रही है। उपचुनाव में भी बताएगी।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here