भारत में COVID-19 वैक्सीन को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने की बड़ी घोषणा

0
165

दुनियाभर में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच सभी को इसकी एक सुरक्षित और कारगर वैक्सीन का इंतजार है। रूस और चीन ने ट्रायल पूरा होने से पहले से ही लोगों को वैक्सीन देना शुरू कर दिया है। भारत, अमेरिका, ब्रिटेन समेत कई देश वैक्सीन पर सफलता के काफी करीब हैं। वहीं, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने मंगलवार को बताया कि भारत में कोविड-19 के लिए टीका साल 2021 की शुरुआत तक आने की उम्मीद है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने मंत्रिमंडल की बैठक के दौरान कहा, “हम उम्मीद कर रहे हैं कि अगले साल की शुरुआत में देश में एक से अधिक स्रोतों से वैक्सीन उपलब्ध हो जाएगी। हमारे विशेषज्ञों का एक समूह देश में वैक्सीन के वितरण की योजना बनाने के लिए रणनीति तैयार कर रहा है।”

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन का यह बयान ऐसे समय में आया है जब भारत में कोविड-19 के कुल केस 71 लाख से ज्यादा हो गए हैं। लेकिन भारत में पिछले पांच हफ्तों में औसत दैनिक मामलों में लगातार गिरावट आई है। मंगलवार को जारी स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, भारत में कोरोना वायरस के मामले 71 लाख 75 हजार 881 हो गए हैं, जिनमें 8 लाख 38 हजार 729 सक्रिय मामले हैं। जबकि 62 लाख 27 हजार 296 मरीज ठीक हो चुके हैं और 1 लाख 9 हजार 856 लोगों ने अपनी जान गंवाई है।

आपको बता दें कि, भारत में तीन कोरोना वैक्सीन क्लीनिकल ट्रायल के स्टेज में हैं, उनमें भारत बायोटेक-आईसीएमआर की कोवैक्सिन (COVAXIN), जायडस कैडिला की जाइकोव-डी (ZyKov-D) और ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की कोविशील्ड (Covishield) शामिल है। जिसे सीरम इंस्टीट्यूट ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका के साथ मिलकर तैयार कर रही है। इन वैक्सीन में से Covishield अपने परीक्षण के तीसरे चरण में है और एस्ट्राजेनेका इसकी करोड़ों खुराक का उत्पादन करने की तैयारी में जुटी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here