33.1 C
New Delhi

नेहा उपरि ३० सेकेण्ड्-मध्ये १४ प्रावश्यं प्रहारिता, कण्ठस्य शिराः अकर्तयत् ! नेहा पर 30 सेकेंड में 14 बार चाकू से वार, काट डाली गले की नसें !

Date:

Share post:

कर्णाटकस्य हुब्ली-नगरे फयाज इत्यनेन नेहा हीरेमठ्-इत्यस्याः छुरिकाघातेन अहनत् ! नेहा प्रकाश्यदिवसे क्रूरतया मारिता आसीत्! अधुना अस्मिन् प्रकरणे नेहा-वर्यस्य शवपरीक्षा-प्रतिवेदनम् आगतम् यस्मिन् अस्य हत्यायाः क्रूरतायाः प्रकटीकरणं जातम् ! एतादृशी नेहा फयाजेन मारिता इति कथ्यते !

कर्नाटक के हुबली में चाकू गोदकर नेहा हिरेमठ को फयाज ने मार दिया था ! नेहा की दिनदहाड़े बेरहमी से हत्या हुई थी ! अब इस मामले में नेहा की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आई है जिसमें इस हत्या की क्रूरता का खुलासा हुआ है ! इसमें बताया गया है कि ऐसे नेहा की फयाज ने हत्या की !

प्रसारमाध्यमानां प्रतिवेदनायाः अनुसारं, शवपरीक्षा-प्रतिवेदनेन ज्ञातं यत् फयाज इत्येषः 30 क्षणेषु नेहा हीरेमठ् इत्यस्मै 14 प्रावश्यं प्रहारम् अकरोत् इति ! पुनः पुनः विरोधस्य अनन्तरम् अपि फयाज इत्येषः प्रहारम् अन्ववर्तत ! प्रतिवेदनं वदति यत् फयाज: नेहायाः वक्ष पृष्ठभागे च प्रहारं कृतवान् इति ! नेहायाः वक्षे छुरिकाघातात् सा पतिता आसीत् !

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आया है कि नेहा हिरेमठ पर फयाज ने 30 सेकेण्ड के भीतर 14 बार चाकू से वार किए ! फयाज लगातार विरोध के बाद भी वार करता रहा ! रिपोर्ट में बताया गया है कि फयाज ने नेहा की छाती और पीठ में चाकू मारा ! नेहा के सीने में चाकू के वार के कारण वह गिर गई थी !

प्रतिवेदनं वदति यत् नेहायाः शिराः फयाज इत्यस्य छुरिकाभिः कटाः आसन् इति ! रक्तस्रावं प्रारब्धम् ! नेहायाः कण्ठस्य अपि अनेकानि छुरिकाघातानि आसन्, तस्याः कण्ठस्य शिराः अपि कटाः आसन् ! फयाज: नेहायाः कण्ठं क्षिप्तुम् अपि प्रायतत, परन्तु सफलः न अभवत् इति अपि कथ्यते !

रिपोर्ट में बताया गया है कि फयाज के चाकुओं के वार से नेहा की नसें कट गईं थी ! इनसे तेजी से खून बहने लगा था ! नेहा के गले में भी चाकू के कई वार हुए थे और उसकी गले की नसें भी कटी थीं ! यह भी बताया गया है की फयाज ने नेहा का गला रेतने की भी कोशिश की लेकिन इसमें सफल नहीं हो सका !

फयाज इत्यनेन नेहायाः छुरिकाघातेन वधस्य चित्रमुद्रिका अपि प्रकाशिता आसीत् ! तेन ज्ञायते यत् सः पूर्वमेव नेहायाः प्रतीक्षायाम् आसीत्, यदा नेहा बहिः आगतवती तदा सः तां प्रहारं कृत्वा मारितवान् इति ! ततः आरक्षकाः तं गृहीतवन्तः ! परन्तु अस्मिन् आक्रमणे नेहायाः रक्षणं न अभवत् !

फयाज के नेहा को चाकू से मारने का एक वीडियो भी सामने आया था ! इसमें दिखा था कि वह नेहा का पहले से इन्तजार कर रहा था और जब नेहा बाहर आई तो उसने ताबड़तोड़ वार करके उसे मार दिया ! इसके बाद उसे लोगों ने पकड़ लिया था ! हालाँकि, नेहा को इस हमले में नहीं बचाया जा सका था !

दृष्टिगतमस्ति गुरुवासरे (एप्रिल् १८, २०२४) कर्णाटकस्य हुब्ली-नगरे फयाज नामकः युवकः नेहा नामकं हिन्दु-बालिकाम् छुरिकाघातेन अहनत् ! सः पूर्वं नेहायाः प्रतीक्षायाम् आसीत्, यदा सा महाविद्यालयात् बहिः आगतवती तदा सः तां छुरिकाभिः आक्रान्तवान्! आक्रमणे सा मृता जाता ! अस्य आक्रमणस्य अनन्तरं फयाज: गृहीतः !

गौरतलब है कि कर्नाटक के हुबली में गुरुवार (18 अप्रैल, 2024) को फयाज नाम के एक युवक ने नेहा नाम की हिन्दू युवती की चाकुओं से गोद कर हत्या कर दी ! वह नेहा का पहले इन्तजार कर रहा था और जब वह कॉलेज से बाहर आई तो उसने चाकुओं से हमला कर दिया ! नेहा की इस हमले में मौत हो गई। फयाज को इस हमले के बाद पकड़ लिया गया था !

फयाज: तया सह सम्बन्धं स्थापयितुं बालिकायाः उपरि पीडनं कुर्वन् आसीत् इति कथ्यते, तथा च बालिका निराकृतवती ! एतादृशे स्थितौ फयाज: मासान् यावत् तां अनुगमिष्यत् ! घटनायाः दिने यदा नेहा तस्य पुरतः आगतवती तदा सः तस्याः कण्ठस्य उपरि प्रहारं कृतवान्, येन तस्य उद्देशः नेहायाः वधाय आसीत् इति ज्ञायते !

बताया जा रहा है कि फयाज युवती पर उसके साथ रिलेशनशिप में आने का दबाव बना रहा था और लड़की ने इससे इनकार कर दिया ! ऐसे में फयाज उसका महीनों पीछा करता था ! घटना वाले दिन जब नेहा उसके सामने आई तो उसने उसके गले पर वार किए, जो बताते हैं कि उसकी मंशा नेहा को जान से ही मारने की थी !

आरक्षक-अन्वेषणेन अपि ज्ञातं यत् फयाज: स्वमित्रैः सह कथयति स्म यत् यः बालिका तस्य प्रस्तावं निराकृतवती सा तं निष्कासयिष्यति इति ! नगर-आरक्षक-आयुक्ता रेणुका एस्. सुकुमार अवदत् यत् तौ मिलित्वा बी. सी. ए. अध्ययनं कुर्वन्तः आसन् (गतवर्षपर्यन्तं) इति ! परन्तु, बी. सी. ए. इत्यस्य अनन्तरं, नेहा स्वशिक्षाम् अन्ववर्तत तथा च फयाज इत्ययम् परित्यक्तवान् !

पुलिस की जाँच में भी सामने आया है कि फयाज अपने दोस्तों से बोलते हुए फिरता था कि जिस लड़की ने उसका ऑफर ठुकराया है वो उसे खत्म कर देगा ! मामले के बारे में बताते हैं सिटी पुलिस कमिशनर रेणुका एस सुकुमार ने कहा वे दोनों (पिछले साल तक) बीसीए साथ में पढ़ रहे थे ! लेकिन, बीसीए के बाद नेहा ने अपनी पढ़ाई जारी रखी और फयाज ने छोड़ दी !

साभार:-ऑपइंडिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

पञ्जाबे सर्वाः जी मीडिया चैनल प्रतिबन्धिताः, एषा पत्रिका-स्वातन्त्र्यस्य उपरि आक्रमणं नास्ति वा ? पंजाब में जी मीडिया के सभी चैनल बैन, क्या यह प्रेस...

पञ्जाबे सर्वाः जी न्यूज चैनल प्रतिबन्धिताः सन्ति। चैनल तस्य घोषणा कृता अस्ति ! पञ्जाबे जी-मीडिया इत्यस्य सर्वाः चैनल...

६ जैन साध्व्यः मार्गेण गच्छन्तः आसन्, अल्ताफ् हुसैन् शेखः प्रथमं तान् अनुधावन् ततः पट्ट्या प्रहारं कृतवान् ! सड़क से गुजर रहीं थी 6 जैन...

गुजरातस्य भरूच्-नगरे, अल्ताफ् हुसैन् शेख् नामकः एकः पुरुषः मार्गे गच्छतां जैन साध्वीं आक्रान्तवान्। जैनः साध्वीं आक्रमनात् पूर्वं दीर्घकालं...

फतेहपुरस्य शिव-कवितायो: पुनः गृहागमनस्य कथा ! फतेहपुर के शिव-कविता की घरवापसी की कहानी !

उत्तरप्रदेशस्य फ़तेह्पुर्-नामकस्य उजाड़ेग्रामे, २० वर्षेभ्यः पूर्वं इस्लाम्-मतं स्वीकृत्य वञ्चितः एकः हिन्दु-दम्पती इदानीं हिन्दु-मतं प्रति प्रत्यागतः अस्ति! शिवप्रसादलोधिः, कविता...

वाहिद कुरैशी इत्यनेन मथुरायाः पञ्जाबी बाजार इत्यस्य नाम इस्लामिक बाजार इति परिवर्तितम् ! मथुरा की पंजाबी बाजार के नाम को वाहिद कुरैशी ने बदलकर...

उत्तरप्रदेशस्य मथुरा-जनपदस्य कोसिकलां ग्रामे एकः मुस्लिम्-दुकानदारः विपण्याः नाम परिवर्तितवान्। सः स्वस्य स्थानात् प्रदत्तानां वस्तूनां प्रचारसामग्रीनां च सञ्चिकासु पञ्जाबी-बजार्...