20.1 C
New Delhi

उच्चन्यायालयमकथयत्, मन्दिरेषु कार्यम् कर्तुं न शक्नोन्ति अहिंदवः ! हाईकोर्ट ने कहा, मंदिरों में काम नहीं कर सकते हैं गैर-हिन्दू !

Date:

Share post:

आंध्रप्रदेशोच्च न्यायालयमकथयत् तत हिंदू मन्दिरेषु केवलं तैव जना: कार्यम् कर्तुं शक्नोन्ति याः हिंदवः ! हिंदूमन्दिरेषु दत्तकेषु दासतासु मुस्लिमानां ईसाईनां चन्येषां धर्माणां वा जनान् दासता: दत्तुं न शक्नोन्ति ! आंध्रप्रदेशोच्च न्यायालयमयम् निर्णयं एकेण जनेण पंजीकृते याचिकायां दत्तवान् !

आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट ने कहा है कि हिन्दू मंदिरों में केवल वही लोग काम कर सकते हैं जो हिन्दू हैं ! हिन्दू मंदिरों में दी जाने वाले नौकरियों में मुस्लिमों और ईसाइयों या अन्य धर्मों के लोगों को नौकरियाँ नहीं दी जा सकती है ! आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट ने यह निर्णय एक व्यक्ति द्वारा दायर याचिका पर दिया !

वस्तुतः, पी सुदर्शन बाबू नाम्नः एकः ईसाई जनः आंध्रप्रदेशोच्च न्यायालयस्य समक्षमयम् याचिकापंजीकृतस्यासीत् तत तेन ईसाई भूतस्य कारणम् श्रीशैलम देवस्थानम आयोगस्य दासतातः न निस्सरतु ! उच्चन्यायालयं तस्यायम् याचिका निरस्तं कृतवान् !

दरअसल, पी सुदर्शन बाबू नाम के एक ईसाई व्यक्ति ने आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट के समक्ष यह याचिका दायर की थी कि उसे ईसाई होने के कारण श्रीशैलम देवस्थानम बोर्ड की नौकरी से ना निकाला जाए ! हाईकोर्ट ने उसकी यह याचिका रद्द कर दी !

वस्तुतः, ईसाई पी सुदर्शनम् वर्ष २००२ तमे आंध्रप्रदेशस्य मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंगस्य प्रबंधनकर्ता श्रीशैलम देवस्थानम आयोगे रिकार्ड असिस्टेंट इत्या: रूपे दासता दयायाः आधारे दत्तवत् स्म ! यदा तेन २००२ तमे दासता ळब्धवान् तु सः माला नाम्नः अनुसूचित जात्या: संबंध: धरोति स्म !

दरअसल, ईसाई पी सुदर्शन को वर्ष 2002 में आंध्र प्रदेश के मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग का प्रबंधन करने वाले श्रीशैलम देवस्थानम बोर्ड में रिकॉर्ड असिस्टेंट के तौर पर नौकरी दया के आधार पर दी गई थी ! जब उसे 2002 में नौकरी मिली तो वह माला नाम की अनुसूचित जाति से संबंध रखता था !

अभिज्ञानस्यानुसारम्, दासताळब्धस्य केचन वर्षाणां अनंतरम् तं एका ईसाई महिलाया पाणिग्रहण कृतवान् ! यस्यानंतरम् तस्य विरुद्धं लोकायुक्तस्य पार्श्वापवादम् पंजिकारितवान् तत तं स्ववास्तविक ईसाई धर्मम् गोपितरस्ति !

जानकारी के अनुसार, नौकरी पाने के कुछ वर्षों के बाद उसने एक ईसाई महिला से विवाह कर लिया ! इसके पश्चात उसके खिलाफ लोकायुक्त के पास शिकायत दर्ज करवाई गई कि उसने अपना असली ईसाई मजहब छुपाया है !

स्वम् हिंदू ज्ञापत्वा दासता ळब्धरस्ति ! सुदर्शन: यस्योत्तरे लोकायुक्तं स्व पुरातनाभिलेखम् प्रदर्शयतु यस्मिन् तस्य अनुसूचित जातिम् गृहीत्वाभिज्ञानम् पंजीकृतरासीत् ! यद्यपि, लोकायुक्तस्य समक्षम् हॉली क्रॉस गिरजागृहस्य अपि अभिलेखमानयतु !

खुद को हिन्दू बताकर नौकरी हासिल की है !सुदर्शन ने इसके बदले लोकायुक्त को अपने पुराने कागज दिखाए जिसमें उनकी अनुसूचित जाति को लेकर जानकारी दर्ज थी ! हालाँकि, लोकायुक्त के समक्ष हॉली क्रॉस चर्च के भी कागज लाए गए !

लोकायुक्तं तस्य सर्वाणां अभिलेखानां अनुसंधानम् अन्यान् सर्वान् बिंदून् दर्शन् स्पष्टम् कृतवान् तत सुदर्शन: स्वधर्मम् गोपितरस्ति ! यस्यैव कारणम् तं दासतातः निःसृतवान् ! सुदर्शन: वर्षे २०१२ तमे स्वदासताया निस्सरणस्य विरुद्धम् आंध्रप्रदेशमुच्चन्यायालये याचिका पंजीकृतवान् !

लोकायुक्त ने उसके सभी कागजों की जाँच और अन्य सभी बिन्दुओं को देखते हुए स्पष्ट किया कि सुदर्शन ने अपना मजहब छुपाया है ! इसी के चलते उसको नौकरी से निकाल दिया गया ! सुदर्शन ने वर्ष 2012 में अपने नौकरी से निकाले जाने के विरुद्ध आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट में याचिका दायर की !

तस्य कथनमासीत् तत तं दासता नयतु काळम् स्वधर्मम् न गोपितरस्ति ! यद्यपि, उच्चन्यायालयं तस्य वार्ता न स्वीकृतवान् ! न्यायालयमकथयत् तस्य पाणिग्रहण एकया ईसाई महिलाया अभवत् यदि च् तं विना धर्मांतरे महिलाया पाणिग्रहण कर्तुं भवति तु अयम् विशेष पाणिग्रहण अधिनियमस्य अंतर्गतं आगच्छति !

उसका कहना था कि उसने नौकरी लेते समय अपना धर्म नहीं छुपाया है ! हालाँकि, उच्च न्यायालय ने उसकी बात नहीं मानी ! कोर्ट ने कहा कि उसका विवाह एक ईसाई महिला से हुआ है और यदि उसने बिना धर्म बदले महिला से विवाह किया होता तो यह विशेष विवाह अधिनियम के अंतर्गत आता है !

यस्मै पाणिग्रहणाय तेन प्रमाणपत्रमपि दीयते ! इदम् सुदर्शनस्य प्रकरणे नाभवत् ! इदृशे स्पष्टम् अस्ति तत महिला-पुरुष द्वयो: धर्मम् एकमेव आसीत् !

इस विवाह के लिए उसे प्रमाण पत्र भी दिया जाता है ! यह सुदर्शन के मामले में नहीं हुआ ! ऐसे में स्पष्ट है कि महिला-पुरुष दोनों का धर्म एक ही था !

न्यायालयमयमपि अकथयत् हॉली क्रॉस गिरजागृहस्याभिलेखे तस्य नाम्नः अग्रम् धर्मकं कोष्ठे ईसाई इति पंजीकृतमस्ति तं च् यस्मिन् हस्ताक्षरम् इति कृतरासीत् ! इदृशे अयम् स्पष्टम् भवति तत सः ईसाई ! सः श्रीशैलम मंदिरे कार्यं कर्तुं न शक्नोति अतएव तस्य याचिका निरस्तं क्रियते !

कोर्ट ने यह भी कहा कि हॉली क्रॉस चर्च के रिकॉर्ड में उसके नाम के आगे रिलीजन वाले कॉलम में ईसाई दर्ज है और उसने इस पर हस्ताक्षर किए थे ! ऐसे में यह स्पष्ट होता है कि वह ईसाई है ! वह श्रीशैलम मंदिर में काम नहीं कर सकता है इसलिए उसकी याचिका खारिज की जाती है !

साभार:-ऑपइंडिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

अवयस्का हिंदू बालिकामताडयत्, अलिहत् स्व ष्ठीव्, मोहम्मद मुश्ताक: बंधनम् ! नाबालिग हिन्दू बच्ची को मारा, चटवाया अपना थूक, मोहम्मद मुश्ताक गिरफ्तार !

बिहारस्य पूर्णियायां एकावयस्का हिंदू बालिकां ष्ठीव् लिहस्य प्रकरणम् संमुखमगच्छत् ! आरोपं अस्ति तत बालिकया: स्तंम्भे निबध्य ताडनमपि अकरोत्...

जोधपुरस्य सर्वकारी विद्यालये हिजाब धारणे संलग्ना: छात्रा: ! जोधपुर के सरकारी स्कूल में हिजाब पहनने पर अड़ी छात्राएँ !

राजस्थानस्य जोधपुरे हिजाब इतम् गृहीत्वा प्रश्नं अभवत् ! सर्वकारी विद्यालये छात्रा: हिजाब धारणे गृहीत्वा संलग्नवत्य:, तु तेषां परिजना:...

मेलकम् दर्शनमगच्छन् हिंदू महिला: शमीम: सदरुद्दीन: चताडताम्, उदरे अकुर्वताम् पादघातम् ! मेला देखने गईं हिन्दू महिलाओं को शमीम और सदरुद्दीन ने पीटा, पेट पर...

उत्तरप्रदेशस्य फर्रुखाबाद जनपदे एकः हिंदू युवके, तस्य मातरि भगिन्यां च् घातस्य वार्ता अस्ति ! घातस्यारोपम् शमीमेण सदरुद्दीनेण च्...

हल्द्वानी हिंसायां आहूय-आहूय हिंदू वार्ताहरेषु अभवन् घातम् ! ऑपइंडिया इत्यस्य ग्राउंड सूचनायां रहस्योद्घाटनम् ! हल्द्वानी हिंसा में चुन-चुन कर हिंदू पत्रकारों पर हुआ हमला...

उत्तराखंडस्य हल्द्वानी हिंसायां उत्पातकाः आरक्षक प्रशासनस्यातिरिक्तं घटनायाः रिपोर्टिंग कुर्वन्ति हिंदू वार्ताहरानपि स्वलक्ष्यमकुर्वन् स्म ! ते आहूय-आहूय वार्ताहरेषु घातमकुर्वन्...