33.1 C
New Delhi

वार्ताहर: भूतस्य नाटक: मा करोतु, वार्ताहरेण अकथयत् भाजपायाः चिह्नमुत्क्रीणयतु ! पत्रकार बनने का नाटक मत करो, रिपोर्टर से कहा BJP का ठप्पा लगा लो !

Date:

Share post:

मोदी इति मुख्य नामनि विवादित कथन प्रकरणे गुजरातस्य सूरत न्यायालयेण दंड ळब्धस्यानंतरम् राहुल गांधिण: संसद सदस्यता निरस्तं कृतवान् ! शुक्रवासरम् (२४ मार्च २०२३) सदस्यता गमनस्यानंतरम् शनिवासरम् (२५ मार्च) राहुल: प्रथमदा मीडिया इत्या: संमुखमागतवान् !

मोदी सरनेम पर दिए विवादित बयान मामले में गुजरात के सूरत न्यायालय द्वारा सजा मिलने के बाद राहुल गाँधी की संसद सदस्यता रद्द कर दी गई ! शुक्रवार (24 मार्च 2023) को सदस्यता जाने के बाद शनिवार (25 मार्च) को राहुल पहली बार मीडिया के सामने आए !

यद्यपि वार्ताहरै: प्रश्नाणि पृच्छने राहुल: खिन्न: जात: वार्ताहरेषु च् भाजपायै कार्यकृतस्यारोपम् आरोपितुं अरभत् ! प्रेस कांफ्रेंस इत्या: काळम् यदा वार्ताहरः राहुल गांधिणापृच्छत् तत भाजपा कथ्यति भवान् पूर्ण ओबीसी समाजस्यापमानम् कृतवान् !

हालाँकि पत्रकारों द्वारा सवाल पूछे जाने पर राहुल बौखला गए और पत्रकारों पर बीजेपी के लिए काम करने का आरोप लगाने लगे ! प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जब पत्रकार ने राहुल गाँधी से पूछा कि बीजेपी कह रही है आपने पूरे ओबीसी समाज का अपमान किया है !

यस्मिन् पूर्णदेशे प्रेस कांफ्रेंस इत्या: तत्परताम् अस्ति ! इदृशं परिलक्ष्यति स्म वार्ताहरस्यायम् प्रश्नम् राहुलम् नारोचत् ! पूर्व सांसद: उत्तरम् दत्तवान्, भ्रात दर्शयतु, प्रथम अटेम्प्ट भवत: तत्रतः आगतवान्, द्वितीय अटेम्प्ट अत्रतः आगतवान् ! भवान् सरळं भाजपायै कार्यम् किं करोसि ?

इस पर पूरे देश में प्रेस कॉन्फ्रेंस की तैयारी है ! ऐसा लग रहा था पत्रकार का यह सवाल राहुल गाँधी को पसंद नहीं आया ! पूर्व सांसद ने जवाब दिया, भैया देखिये, पहला अटेंप्ट आपका वहाँ से आया, दूसरा अटेंप्ट यहाँ से आया ! आप डायरेक्टली बीजेपी के लिए काम क्यों कर रहे हो ?

न्यून वार्तालापेण करोतु मित्रवरः ! न्यून अत्र-तत्रतः पृच्छतु ! भवतमाज्ञाम् दत्तवान् किं ? दर्शयतु हसति ! प्रश्नतः खिन्न: राहुल गांधी आंग्लभाषायां कथितुमरभत्, यदि भवान् भाजपायै कार्यम् कर्तुं इच्छन्ति तर्हि स्ववक्षे भाजपायाः चिह्नमुत्क्रीणयतु !

थोड़ी डिस्कशन से करो यार ! थोड़ा घूम-घाम कर पूछो ! आपको ऑर्डर दिया है क्या ? देखो मुस्करा रहे हैं ! सवाल से बौखलाए राहुल गाँधी ने अंग्रेजी में कहना शुरू किया, यदि आप बीजेपी के लिए काम करना चाहते हैं तो अपनी छाती पर भाजपा का ठप्पा लगा लो !

पुनः अहम् तदानुसारमुत्तरम् दाष्यामि ! सः क्रुश्ये अकथयत् तत वार्ताहरः भूतस्य नाटकम् मा करोतु ! यत् काळम् पूर्व सांसदस्य मुखेण स्पष्टम् परिलक्ष्यति स्म तत ते खिन्न: अभवत् ! अस्य घटनायाः अनंतरम् द्वितीय वार्ताहरः प्रश्नम् कृतस्य प्रयत्नम् कर्तुं रमेत् तु राहुलस्य दृष्टिमपि तैव वार्ताहरे आसीत् !

फिर मैं उसी अनुसार जवाब दूँगा ! उन्होंने गुस्से में कहा कि पत्रकार बनने का नाटक मत करो ! इस दौरान पूर्व एमपी के चेहरे से साफ जाहिर हो रहा था कि वे चिढ़ गए हैं ! इस घटना के बाद दूसरे पत्रकार प्रश्न करने की कोशिश करते रहे लेकिन राहुल का ध्यान फिर भी उसी पत्रकार पर था !

किंचित कालांतरम् तं वार्ताहरम् प्रति सैनम् कृतन् पुनः कथ्यति, हवा इति निस्सरतु इयत् च् कथित्वा स्वयं हसति ! प्रेस कांफ्रेंस इत्या: काळं राहुल गांधी मोदी मुख्य नामनि दंडळब्धे अकथयत् ततायम् ओबीसी इत्या: प्रकरणम् न अस्ति अपितु मोदी महोदयस्य अडानिण: च् संबंधस्य प्रकरणमस्ति !

कुछ देर बाद राहुल उस पत्रकार की तरफ इशारा करते हुए दोबारा कहते हैं, हवा निकल गई और इतना कहकर खुद मुस्कुराने लगते हैं ! प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान राहुल गाँधी ने मोदी सरनेम पर सजा मिलने पर कहा कि यह ओबीसी का मामला नहीं है बल्कि मोदी जी और अडानी के रिश्ते का मामला है !

सः अकथयत् तत मोदी महोदयः ममाग्रिम भाषणेन भीत: जात: स्म ! ममाग्रिम भाषण अडानिनि भवक: आसीत् ! अतएव तः ममाग्रिम भाषणेन भीत: अभवत् स्म ! पीएम न इच्छति संसदे मम भाषणमसि !

उन्होंने कहा कि मोदी जी मेरी अगली स्पीच से डर गए थे ! मेरा अगला भाषण अडानी पर होने वाला था ! इसलिए वो मेरे अगले भाषण से घबराए हुए थे ! पीएम नहीं चाहते है संसद में मेरा भाषण हो !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

पञ्जाबे सर्वाः जी मीडिया चैनल प्रतिबन्धिताः, एषा पत्रिका-स्वातन्त्र्यस्य उपरि आक्रमणं नास्ति वा ? पंजाब में जी मीडिया के सभी चैनल बैन, क्या यह प्रेस...

पञ्जाबे सर्वाः जी न्यूज चैनल प्रतिबन्धिताः सन्ति। चैनल तस्य घोषणा कृता अस्ति ! पञ्जाबे जी-मीडिया इत्यस्य सर्वाः चैनल...

६ जैन साध्व्यः मार्गेण गच्छन्तः आसन्, अल्ताफ् हुसैन् शेखः प्रथमं तान् अनुधावन् ततः पट्ट्या प्रहारं कृतवान् ! सड़क से गुजर रहीं थी 6 जैन...

गुजरातस्य भरूच्-नगरे, अल्ताफ् हुसैन् शेख् नामकः एकः पुरुषः मार्गे गच्छतां जैन साध्वीं आक्रान्तवान्। जैनः साध्वीं आक्रमनात् पूर्वं दीर्घकालं...

फतेहपुरस्य शिव-कवितायो: पुनः गृहागमनस्य कथा ! फतेहपुर के शिव-कविता की घरवापसी की कहानी !

उत्तरप्रदेशस्य फ़तेह्पुर्-नामकस्य उजाड़ेग्रामे, २० वर्षेभ्यः पूर्वं इस्लाम्-मतं स्वीकृत्य वञ्चितः एकः हिन्दु-दम्पती इदानीं हिन्दु-मतं प्रति प्रत्यागतः अस्ति! शिवप्रसादलोधिः, कविता...

वाहिद कुरैशी इत्यनेन मथुरायाः पञ्जाबी बाजार इत्यस्य नाम इस्लामिक बाजार इति परिवर्तितम् ! मथुरा की पंजाबी बाजार के नाम को वाहिद कुरैशी ने बदलकर...

उत्तरप्रदेशस्य मथुरा-जनपदस्य कोसिकलां ग्रामे एकः मुस्लिम्-दुकानदारः विपण्याः नाम परिवर्तितवान्। सः स्वस्य स्थानात् प्रदत्तानां वस्तूनां प्रचारसामग्रीनां च सञ्चिकासु पञ्जाबी-बजार्...