39.1 C
New Delhi

मम पुत्रम् कारागार: तु सीएम स्टालिनस्य पुत्रम् किं न-मनीष कश्यपस्य माता ! मेरे बेटे को जेल तो सीएम स्टालिन के बेटे को क्यों नहीं-मनीष कश्यप की माँ !

Date:

Share post:

तमिलनाडु इत्यां यूपी-बिहारयो अप्रवासी श्रमिकाणां प्रकरणमुत्थायस्य कारणं तत्रस्य स्टालिन सर्वकारस्य लक्ष्ये आगतवान् युट्यूबर मनीष कश्यपस्य माता राष्ट्रपतिम् एकं पत्रम् अलिखत् ! तमिलनाडु इत्या सहैव बिहार सर्वकारः मनीष कश्यपे एनएसए स्थापित्वा कारागारे अक्षिपत् !

तमिलनाडु में यूपी-बिहार के अप्रवासी मजदूरों का मुद्दा उठाने के कारण वहाँ के स्टालिन सरकार के निशाने पर आए यूट्यूबर मनीष कश्यप की माँ ने राष्ट्रपति को एक चिट्ठी लिखी है ! तमिलनाडु के साथ ही बिहार सरकार ने मनीष कश्यप पर NSA लगाकर जेल में डाल दिया है !

कश्यपस्य माता स्वपत्रे स्टालिन सर्वकारस्य उदयनिध्या: च् कथनं गृहीत्वापि प्रश्नमुत्थायत् ! मनीष कश्यपस्य माता मधु देवी बुधवासरम् ६ सितंबरम् राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मूम् एकं पत्रम् लिखित्वा तमिलनाडु आरक्षकेण तस्या: पुत्रस्य विरुद्धम् कथित रूपे द्वयो: राज्ययो: मध्य कलह उत्पादितुं स्थाप्यत् राष्ट्रीय सुरक्षा विधयके प्रश्नम् उत्थायत् !

कश्यप की माँ ने अपनी चिट्ठी में स्टालिन सरकार और उदयनिधि के बयान को लेकर भी सवाल उठाए हैं ! मनीष कश्यप की माँ मधु देवी ने बुधवार 6 सितंबर को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को एक पत्र लिखकर तमिलनाडु पुलिस द्वारा उनके बेटे के खिलाफ कथित तौर पर दो राज्यों के बीच तनाव पैदा करने के लिए लगाए गए राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) पर सवाल उठाए !

तत्रैव, सा डीएमके नेता राज्यस्य मंत्री च् उदयनिधि स्टालिनेण सनातन धर्मस्योन्मूलनस्य वार्ता कृते कश्चित कार्यवहन न कृते प्रश्नम् उत्थायत् ! सा येन राष्ट्रीय सुरक्षायै अन्यापि वृहत् संकटम् ज्ञाप्तवती !

वहीं, उन्होंने डीएमके नेता और राज्य के मंत्री उदयनिधि स्टालिन द्वारा सनातन धर्म के उन्मूलन की बात करने पर कोई कार्रवाई नहीं किए जाने पर सवाल उठाया ! उन्होंने इसे राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए और भी बड़ा खतरा बताया !

पत्रे मनीष कश्यपस्य माता मधु देवी अकथयत् तत तस्या: पुत्र स्व यूट्यूब चलचित्रं माध्यमेण तमिलनाडु इत्यां केचन बिहारी श्रमिकै: सह कथित दुर्व्यवहारस्य प्रकरणमुत्थायत् स्म ! यद्यपि, तमिलनाडु आरक्षकः येनासत्यं ळब्धवान् षड् पृथक-पृथक प्रकरणानि पंजीकृतवान् !

पत्र में मनीष कश्यप की माँ मधु देवी ने कहा कि उनके बेटे ने अपने यूट्यूब वीडियो के माध्यम से तमिलनाडु में कुछ बिहारी मजदूरों के साथ कथित दुर्व्यवहार का मुद्दा उठाया था ! हालाँकि, तमिलनाडु पुलिस ने इसे झूठा पाया और छह अलग-अलग मामले दर्ज किए !

तस्या: पुत्रस्य विरुद्धम् दृढ़ एनएसए स्थाप्यस्य अतिरिक्तं प्राथमिकी अपि पंजीकृतवान् ! यस्य अतिरिक्तं, पत्रे उल्लेख: कृतवती तत विचाराधीन चलचित्रं अस्य वर्षम् १५ फरवरीतः तमिलनाडु इत्या प्रसरितं क्रियते स्म, केवलं इदं संलग्नम् तत देशस्य प्रिंट मीडिया २१ फरवरी इत्या: अनंतरं यं प्रति वार्ता लेख प्रकाशितवत् !

उनके बेटे के खिलाफ सख्त एनएसए लगाने के अलावा एफआईआर भी दर्ज की गई ! इसके अलावा, पत्र में उल्लेख किया गया है कि विचाराधीन वीडियो इस साल 15 फरवरी से तमिलनाडु से प्रसारित किया जा रहा था, केवल यह जोड़ा गया कि देश के प्रिंट मीडिया ने 21 फरवरी के बाद इसके बारे में समाचार लेख प्रकाशित किए !

यस्यानंतरम्, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया अपि अस्य प्रकरणमुत्थायत् अंततः च् राजनेतारः अस्मिन् वार्तायां टिप्पणिका कृतवन्तः ! मधु देवी अकथयत् तत तमिलनाडु बिहार च् सर्वकारौ मनीष कश्यपमवरुद्धस्य कुचक्रम् रचितवन्तौ, यद्यपि तस्य विवादास्पद चलचित्रं मार्च मासे संमुखमागतवान् स्म !

इसके बाद, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया ने भी इस मुद्दे को उठाया और अंततः राजनेताओं ने इस खबर पर टिप्पणी की ! मधु देवी ने कहा कि तमिलनाडु और बिहार सरकार ने मनीष कश्यप को फँसाने की साजिश रची, जबकि उनका विवादास्पद वीडियो मार्च में सामने आया था !

साकथयत्, मम पुत्र अपि मार्च मासे बिहारी प्रवासी श्रमिकाणां वार्तायां एकं चलचित्रं अरचयत् बिहार सर्वकारेण च् प्रश्नम् कृतवान् तत बिहारी श्रमिकै: सह इदृशः विभेदः किं क्रियते, तु बिहार सर्वकारः तमिलनाडु सर्वकारः च् मेलित्वा दृढ़ एनएसए अरभताम् !

उन्होंने कहा, मेरे बेटे ने भी मार्च में बिहारी प्रवासी मजदूरों की खबर पर एक वीडियो बनाया और बिहार सरकार से सवाल किया कि बिहारी मजदूरों के साथ ऐसा भेदभाव क्यों किया जाता है, लेकिन बिहार सरकार और तमिलनाडु सरकार ने मिलकर सख्त एनएसए लागू कर दिया !

सा पत्रे अग्रमकथयत्, यदि मम पुत्रस्य कारणेन द्वयो: राज्ययो: मध्य समाघातस्य स्थितिम् उत्पादयताम् तु एकस्य मुख्यमंत्रिण: पुत्र, यः तमिलनाडु इत्यां मंत्री अपि अस्ति, तस्य उदयनिधि स्टालिनस्य कथने तु पूर्ण देशे समाघातस्य स्थितिमुत्पन्न: भवितुं शक्नोति स्म !

उन्होंने पत्र में आगे कहा, अगर मेरे बेटे की वजह से दो राज्यों के बीच टकराव की स्थिति पैदा हुई तो एक मुख्यमंत्री का बेटा, जो तमिलनाडु में मंत्री भी है, उस उदयनिधि स्टालिन के बयान पर तो पूरे देश में टकराव की स्थिति उत्पन्न हो सकती थी !

पुनः अपि तेन एनएसए इत्यां बंधनम् कृत्वा कारागारे किं न क्षिपते ? यदि संविधान सर्वस्मै सममस्ति तु तमिलनाडो: मुख्यमंत्रिण: पुत्रे अपि एनएसए स्थाप्यतु ! साकथयत् तत तमिलनाडु इत्यां प्रवासी श्रमिकै: सह यत् घटना अभवत् स्म !

फिर भी उन्हें NSA में गिरफ्तार करके जेल में क्यों नहीं डाला जा रहा है ? अगर संविधान सबके लिए बराबर है तो तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के बेटे पर भी NSA लगाई जाए ! उन्होंने कहा कि तमिलनाडु में प्रवासी मजदूरों के साथ जो घटना हुई थी !

तस्यानुसंधान सर्वोच्च न्यायालयेण गठित स्वतंत्र समित्या कारयतु ! साशा व्यक्तवती तत मुख्यमंत्रिण: पुत्रमुदयनिधिमपि तैव दंड: दाष्यते, यः भारतस्य एकेण साधारण नागरिकेणानृतता कृते न्यायालयेण तेन ददाति !

उसकी जाँच सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित स्वतंत्र कमिटी द्वारा कराई जाए ! उन्होंने उम्मीद जताई कि मुख्यमंत्री के बेटे उदयनिधि को भी वही सजा दी जाएगी, जो भारत के एक आम नागरिक द्वारा गलती करने पर कोर्ट द्वारा उसे दी जाती है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

पञ्जाबे सर्वाः जी मीडिया चैनल प्रतिबन्धिताः, एषा पत्रिका-स्वातन्त्र्यस्य उपरि आक्रमणं नास्ति वा ? पंजाब में जी मीडिया के सभी चैनल बैन, क्या यह प्रेस...

पञ्जाबे सर्वाः जी न्यूज चैनल प्रतिबन्धिताः सन्ति। चैनल तस्य घोषणा कृता अस्ति ! पञ्जाबे जी-मीडिया इत्यस्य सर्वाः चैनल...

६ जैन साध्व्यः मार्गेण गच्छन्तः आसन्, अल्ताफ् हुसैन् शेखः प्रथमं तान् अनुधावन् ततः पट्ट्या प्रहारं कृतवान् ! सड़क से गुजर रहीं थी 6 जैन...

गुजरातस्य भरूच्-नगरे, अल्ताफ् हुसैन् शेख् नामकः एकः पुरुषः मार्गे गच्छतां जैन साध्वीं आक्रान्तवान्। जैनः साध्वीं आक्रमनात् पूर्वं दीर्घकालं...

फतेहपुरस्य शिव-कवितायो: पुनः गृहागमनस्य कथा ! फतेहपुर के शिव-कविता की घरवापसी की कहानी !

उत्तरप्रदेशस्य फ़तेह्पुर्-नामकस्य उजाड़ेग्रामे, २० वर्षेभ्यः पूर्वं इस्लाम्-मतं स्वीकृत्य वञ्चितः एकः हिन्दु-दम्पती इदानीं हिन्दु-मतं प्रति प्रत्यागतः अस्ति! शिवप्रसादलोधिः, कविता...

वाहिद कुरैशी इत्यनेन मथुरायाः पञ्जाबी बाजार इत्यस्य नाम इस्लामिक बाजार इति परिवर्तितम् ! मथुरा की पंजाबी बाजार के नाम को वाहिद कुरैशी ने बदलकर...

उत्तरप्रदेशस्य मथुरा-जनपदस्य कोसिकलां ग्रामे एकः मुस्लिम्-दुकानदारः विपण्याः नाम परिवर्तितवान्। सः स्वस्य स्थानात् प्रदत्तानां वस्तूनां प्रचारसामग्रीनां च सञ्चिकासु पञ्जाबी-बजार्...