24 C
New Delhi

भारत-पकिस्तानम् विभाजनस्य ७६ वर्षाणि अनंतरम् मेलितवंतौ भ्रात भगिनी च् ! भारत-पाकिस्तान विभाजन के 76 साल बाद मिले भाई और बहन !

Date:

Share post:

भारत-पकिस्तानम् विभाजनमनुमानतः अष्ट दशकानि अभवन् तु अधुनापि लक्षान् जनान् विभाजनस्य विभीषकायाः काळम् विच्छेदन् स्वेषाम् मेलनस्याशामस्ति ! इदृशमेवैकं प्रकरणं पकिस्तानस्य करतारपुर कॉरिडोरतः संमुखम् आगतवत् यत् ७६ वर्षाणां अनंतरम् विभाजने विच्छेदन् भ्रात-भगिनी पुनः मेलितवंतौ !

भारत-पाकिस्तान विभाजन को लगभग आठ दशक हो चुके हैं लेकिन अभी भी लाखों लोगों को विभाजन की विभीषिका के दौरान छूटे हुए अपनों के मिलने की आशा है ! ऐसा ही एक मामला पाकिस्तान के करतारपुर कॉरिडोर से सामने आया है जहाँ 76 वर्षों के बाद विभाजन में अलग हुए भाई-बहन फिर से मिले !

सूचनायाः अनुसारम्, भारतीय पंजाबस्य जालंधरस्य वासिना सुरिंदर कौर पकिस्तानी पंजाबस्य साहीवालस्य वासिन् च् मोहम्मद इस्माइल: वर्षे १९४७ तमे भवन् विभाजने पृथकौ अभवताम् स्म ! तौ एकदा पुनः २०२३ तमे पकिस्तानस्य करतारपुर कॉरिडोर इत्यां मेलितवंतौ !

रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय पंजाब के जालंधर की रहने वाली सुरिंदर कौर और पाकिस्तानी पंजाब के साहीवाल के रहने वाले मोहम्मद इस्माइल वर्ष 1947 में हुए विभाजन में अलग हो गए थे ! वह एक बार फिर से 2023 में पाकिस्तान के करतारपुर कॉरिडोर में मिले हैं !

इस्माइलस्य कथनमासीत् तत सः विभाजनतः पूर्वम् जालन्धरस्य शाहकोट क्षेत्रे निवसति स्म ! सुरिंदर कौर तस्य पितृवि: आसीत्, विभाजने द्वे कुटुंबे पृथकौ अभवताम् स्म ! द्वयो: मेलनयो: भावुकौ अभवताम् तयो: च् नेत्रेषु वाष्पमास्ताम् !

इस्माइल का कहना था कि वह विभाजन से पहले जालन्धर के शाहकोट कस्बे में रहते थे ! सुरिंदर कौर उनकी चचेरी बहन थीं, विभाजन में दोनों परिवार अलग हो गए थे ! दोनों मिलने पर भावुक हो गए और उनकी आँखों में आँसू थे !

एतयो: मेलनम् करतारपुर कॉरिडोर इत्या: सोशल मीडिया इत्या: च् कारणम् संभव: जातौ ! इस्माइल: ज्ञाप्तवान् तत केचन काळम् पूर्वम् एकेण स्थानीय युट्यूबर इत्या तस्य चलचित्रमरचयत् स्म यत् तत वायरल अभवत् !

इन दोनों का मिलना करतारपुर कॉरिडोर और सोशल मीडिया के कारण संभव हो पाया है ! इस्माइल ने बताया कि कुछ समय पहले एक स्थानीय यूट्यूबर द्वारा उनका वीडियो बनाया गया था जो कि वायरल हो गया !

यस्योपरांत ऑस्ट्रेलियातः सरदार मिशन सिंह: सिम्न: द्वे प्रति द्वयाभ्यां कुटुंबभ्यां संपर्क कृतवान् तै: च् मेलितुं प्रयत्न: कृतवान् ! यद्यपि, द्वयो: देशयो: मध्य राजनीतिक संकटयो: कारणं वीजा इति मेलने संकटमागच्छतः स्म !

इसके पश्चात ऑस्ट्रेलिया से सरदार मिशन सिंह ने सीमा के दोनों तरफ दोनों परिवारों से संपर्क किया और उन्हें मिलाने के प्रयास किए ! हालाँकि, दोनों देशों के बीच राजनीतिक समस्याओं के कारण वीजा मिलने में समस्याएं आ रही थीं !

यस्मै करतारपुर कॉरिडोर इत्या: मार्गमन्वेषणत् यत्र भारतीयः अपि पकिस्तानस्याभ्यांतरम् विना वीजा गन्तुं शक्नोन्ति ! जालंधरतः सुरिंदर कौर अस्यैव सौविध्यस्य लाभमुत्थयन्ती पकिस्तानम् प्राप्तवती यत्र इस्माइल: अपि प्राप्तवान् स्म ! द्वयो: कुटुंबे अपि अस्य काळमुपस्थिता: आसन् !

इसके लिए करतारपुर कॉरिडोर का रास्ता निकाला गया जहाँ भारतीय भी पाकिस्तान के भीतर करतारपुर साहिब में बिना वीजा जा सकते हैं ! जालन्धर से सुरिंदर कौर इसी सुविधा का लाभ उठाते हुए पाकिस्तान पहुँची जहाँ इस्माइल भी पहुँचे थे ! दोनों के परिवार भी इस दौरान मौजूद थे !

यद्यपि, इदम् वार्ता ध्यानदत्तकमस्ति तत सुरिंदर कौर यत्र सिखधर्मावलंबिनास्ति तत्रैव मोहम्मद इस्माइल: मुस्लिम धर्मावलंबिन् ! यस्य कारणम् इदम् भवितुं शक्नोति तत पकिस्ताने गमनस्य अनंतरम् इस्माइलम् स्व सिखधर्म त्यक्त्वा मुस्लिम भवितुं अभवत् कदाचित् पकिस्ताने धार्मिकाधारे प्रताड़ना सदैव चरमे रमति !

हालाँकि, यह बात ध्यान देने वाली है कि सुरिंदर कौर जहाँ सिख हैं वहीं मोहम्मद इस्माइल मुस्लिम ! इसका कारण यह हो सकता है कि पाकिस्तान में जाने के बाद इस्माइल को अपना सिख धर्म छोड़कर मुस्लिम बनना पड़ा हो क्योंकि पाकिस्तान में धार्मिक आधार पर प्रताड़ना सदैव चरम पर रही है !

करतारपुरे सिखधर्मस्य संस्थापक: गुरुनानक देव: अंतिम श्वांस: नीतमासीत् ! अत्रैकं भव्य गुरुद्वारा रचितुं अभवत् ! इदम् भारतीय सीमाम् बहु निकषास्ति ! अस्मिन् गुरुद्वारे भारतीय श्रद्धालव: गन्तुं अशक्नुवन् यस्मै पकिस्तानस्य सहाय्येण वर्षे २०१९ तमे कॉरिडोर इति स्थाप्यत् स्म !

करतारपुर में सिख धर्म के संस्थापक गुरुनानक देव ने अंतिम साँस ली थी ! यहाँ एक भव्य गुरुद्वारा बना हुआ है ! यह भारतीय सीमा से काफी निकट है ! इस गुरूद्वारे में भारतीय श्रद्धालु जा सकें इसके लिए पाकिस्तान की सहायता से वर्ष 2019 में कॉरिडोर स्थापित किया गया था !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

जोधपुरस्य सर्वकारी विद्यालये हिजाब धारणे संलग्ना: छात्रा: ! जोधपुर के सरकारी स्कूल में हिजाब पहनने पर अड़ी छात्राएँ !

राजस्थानस्य जोधपुरे हिजाब इतम् गृहीत्वा प्रश्नं अभवत् ! सर्वकारी विद्यालये छात्रा: हिजाब धारणे गृहीत्वा संलग्नवत्य:, तु तेषां परिजना:...

मेलकम् दर्शनमगच्छन् हिंदू महिला: शमीम: सदरुद्दीन: चताडताम्, उदरे अकुर्वताम् पादघातम् ! मेला देखने गईं हिन्दू महिलाओं को शमीम और सदरुद्दीन ने पीटा, पेट पर...

उत्तरप्रदेशस्य फर्रुखाबाद जनपदे एकः हिंदू युवके, तस्य मातरि भगिन्यां च् घातस्य वार्ता अस्ति ! घातस्यारोपम् शमीमेण सदरुद्दीनेण च्...

हल्द्वानी हिंसायां आहूय-आहूय हिंदू वार्ताहरेषु अभवन् घातम् ! ऑपइंडिया इत्यस्य ग्राउंड सूचनायां रहस्योद्घाटनम् ! हल्द्वानी हिंसा में चुन-चुन कर हिंदू पत्रकारों पर हुआ हमला...

उत्तराखंडस्य हल्द्वानी हिंसायां उत्पातकाः आरक्षक प्रशासनस्यातिरिक्तं घटनायाः रिपोर्टिंग कुर्वन्ति हिंदू वार्ताहरानपि स्वलक्ष्यमकुर्वन् स्म ! ते आहूय-आहूय वार्ताहरेषु घातमकुर्वन्...

हल्द्वान्यां आहतानां सुश्रुषायै अग्रमागतवत् बजरंग दलम् ! हल्द्वानी में घायलों की सेवा के लिए आगे आया बजरंग दल !

हल्द्वान्यां अवैध मदरसा-मस्जिदम् न्यायालयस्य आज्ञायाः अनंतरम् प्रशासनम् धराभीम गृहीत्वा ध्वस्तकर्तुं प्राप्तवत् तु सम्मर्द: उग्राभवन् ! प्रस्तर घातमकुर्वन्, गुलिकाघातमकुर्वन्,...