यया जीवितं दग्धित्वा हन्तु, फतवा इत्यानां उपरांतं मुस्लिम महिला गणपति पूजनस्यानंतरम् कृतवती विधिवत् विसर्जनम्, मौलाना: कथिता: आसन्, यया इस्लामतः निरस्तं करोतु ! इसे जिंदा जला कर मार डालो, फतवों के बावजूद मुस्लिम महिला ने गणपति पूजा के बाद किया विधिवत विसर्जन, मौलानाओं ने कहा था, इसे इस्लाम से खारिज करो !

0
107

उत्तर प्रदेशस्य अलीगढ़स्य वासिना एका मुस्लिम महिला रूबी खान बुधवासरम् (७ सितंबर २०२२) विधिवत् गणपति विसर्जनम् कृतवती ! यस्मात् पूर्वम् गणेश चतुर्थ्या: अवसरे पूजनस्यानंतरम् तया मौलानाभिः फतवापि दत्तवान स्म !

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ की रहने वाली एक मुस्लिम महिला रूबी खान ने बुधवार (7 सितंबर 2022) को विधिवत गणपति विसर्जन किया ! इससे पहले गणेश चतुर्थी के अवसर पर पूजा करने के बाद उन्हें मौलानाओं द्वारा फतवा भी दिया गया था !

यस्योपरांतमपि तया नरोरा घट्टे बप्पायाः विसर्जनम् कृतवती ! इति काळम् सा बहु मौलानाभिः इदमपि कथिता तत सा यै: फतवा इत्याभिः न भयन्ति ! इति काळम् रूबी खान कथिता, वयं गणपति स्थापितम् कृतासीत् !

इसके बावजूद भी उन्हें नरोरा घाट पर बप्पा का विसर्जन किया ! इस दौरान उन्होंने तमाम मौलानाओं से यह भी कहा कि वे इन फतवों से नहीं डरती हैं ! इस दौरान रूबी खान ने कहा, हमने गणपति स्थापित किया था !

अद्य तस्य विसर्जनं करोति ! अहम् भगवतः गणेशस्य मूर्ति ३१ दिनांकम् स्थापितं कृतासीत्, तदातः मौलाना: ममोपरीदम् फतवा प्रस्तुतवन्तः तत इयम् हिंदू भवितास्ति, या स्वात्र मूर्ति धृतवती !

आज उनका विसर्जन कर रहे हैं। मैंने भगवान गणेश की मूर्ति 31 तारीख को स्थापित की थी, तभी से मौलानाओं ने मेरे ऊपर ये फतवा जारी कर दिया कि ये हिंदू बन चुकी है, इसने अपने यहाँ मूर्ति रख ली है !

याम् इस्लामतः निरस्तं करोतु कुटुंबम् च् जीवितं दग्धित्वा हन्तु, यस्य प्रकारस्य भर्त्सकाः आगमिष्यते, बाह्य निर्गच्छामि तर्हि असाधु प्रकारेण वार्ता क्रियते तत हिंदू गच्छति, तु मया फतवातः मौलानाभिः च् कश्चित भयं नास्ति !

इसको इस्लाम से खारिज करो और परिवार को जिंदा जला कर मार डालो, इस तरह की धमकियाँ आने लगी, बाहर निकलती हूँ तो उलटी-सीधी कमेंटबाजी की जाती है कि हिंदू जा रही है ,लेकिन मुझे फतवा से और मौलानाओं से कोई डर नहीं है !

अहम् येन प्रकारेणोल्लासपूर्णेन गणपत्या: स्थापना कृतासीत् ! तैवोल्लासपूर्णेन विसर्जनं कर्तुं गच्छामि ! रूबी खान गणपति विसर्जनम् गृहीत्वा इदं कथिता ! ज्ञाप्यते तत गणेश विसर्जनस्य काळम् रूबी खान्या: भर्तासिफ खान: तस्या: च् द्वयौ भगिन्यौ फराह एवं निदा अपि उपस्थिता: रमिताः !

मैंने जिस तरीके से धूमधाम से गणपति की स्थापना की थी, उसी धूमधाम से विसर्जन करने जा रही हूँ !रूबी खान ने गणपति विसर्जन को लेकर ये कहा ! बताया जा रहा है कि गणेश विसर्जन के दौरान रूबी खान के पति आसिफ खान और उनकी दोनों बहनें फराह एवं निदा भी मौजूद रहीं !

तत्रैव महिलायाः सुरक्षायाः वार्ता करोतु तर्हि अलीगढ़ आरक्षकः रूबी आसिफ खानेण सह द्वय आरक्षककर्मिनौ नियुक्तं कृतवान ! इमौ आरक्षककर्मिनौ अलीगढ़तः गृहीत्वा बुलंदशहरमेव रूबी आसिफ खानेण सहैव रमकौ स्त: !

वहीं महिला की सुरक्षा की बात करें तो अलीगढ़ पुलिस ने रूबी आसिफ खान के साथ दो पुलिसकर्मियों को तैनात किया है ! ये पुलिसकर्मी अलीगढ़ से लेकर बुलंदशहर तक रूबी आसिफ खान के साथ ही रहने वाले हैं !

दृष्टिगतमस्ति तत केचन दिवसानि पूर्वम् यदा रूबी खान स्वगृहे भगवतः गणेशस्य मूर्ति स्थापितं कृता आसीत्, तदा तस्या: विरुद्धम् केचन मौलाना: फतवा प्रस्तुतं कृता: आसन् ! यस्मिन् इदम् कथितं तत इस्लामे मूर्ति पूजनस्य प्रतिबंधमस्ति !

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले जब रूबी खान ने अपने घर में भगवान गणेश की मूर्ति स्थापित की थी, तब उनके खिलाफ कुछ मौलानाओं ने फतवा जारी कर दिया था ! इसमें यह कहा गया कि इस्लाम में मूर्ति पूजा की पाबंदी है !

इदृशे मूर्ति गृहे आनीतुं तस्य प्रार्थना पूजनम् च् कर्तुं, इदम् इस्लामस्य विरुद्धमस्ति, यत् रूबी कृतवती, अतएव तया इस्लामतः पृथक करणीया ! फतवा प्रस्तुतस्यानंतरम् रूबी खान तान् मौलवी: आतंकिन् एव घोषितवती स्म !

ऐसे में मूर्ति घर में लाना उसकी इबादत और पूजा करना, ये इस्लाम के खिलाफ है, जो रूबी ने किया है, इसलिए उन्हें इस्लाम से बेदखल कर देना चाहिए ! फतवा जारी होने के बाद रूबी खान ने उन मौलवियों को उग्रवादी तक घोषित कर दिया था !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here