34.1 C
New Delhi
Sunday, October 2, 2022

CATEGORY

इतिहास

कुलधरा, ब्राह्मणानां खिन्नतायाः प्रतीकम्, यत्राद्यापि जनाः गमनेण विभ्यति ! कुलधरा, ब्राह्मणों के क्रोध का प्रतीक, जहां आज भी लोग जाने से डरते हैं !

राजस्थानस्य जैसलमेर नगरात् १८ किमी द्रुतं स्थितं कुलधरा ग्राममद्यतः ५०० वर्षाणि पूर्वम् ६०० गृहाणां ८५ ग्रामानां च् पालीवाल ब्राह्मणानां साम्राज्य इदृशं राज्यमासीत् यस्य कल्पनामपि...

भाजपा स्थापना दिवस पर विशेष-भाजपा की ऐतिहासिक विकास यात्रा

भारतीय जनता पार्टी 6 अप्रैल को अपना स्थापना दिवस मनाती है। राष्ट्रवादी दल के रूप में पूरे भारत में अपनी पहचान बना चुकी भाजपा...

गणतंत्रदिवस विशेष : हम उस भारत के वासी हैं!

प्रणाम! मेरा प्रणाम सुनकर मेरे पिछड़े होने का अंदाजा मत लगा लेना! क्योंकि हम उस देश के वासी हैं, जहां अपने से छोटों को भी...

शत कोटिसु तत्परमभवत् आचार्य रामानुजाचार्यस्य सर्वात् दीर्घ प्रतिमा, पूर्ण कार्यस्य व्ययं १४०० कोटि ! 100 करोड़ में तैयार हुई आचार्य रामानुजाचार्य की सबसे बड़ी...

देशस्य भाग्यनगरे विश्वस्य द्वितीय सर्वात् दीर्घ प्रतिमां स्थापितुं कृतवान, विश्वस्य सर्वात् दीर्घ सिटिंग स्टेच्यू यत् ३०२ पदम् उन्नतमस्ति तत ग्रेट बुद्धा इतस्यास्ति यत् थाईलैंडे...

स्वामी विवेकानंद के जन्म जयंती पर उन्हें नमन

9/11 की तारीख को याद रखता होगा अमेरिका लादेन के आतंकवादी हमले के लिए! पर एक भारतीय 9/11 को याद रखता है एक युवा...

वैश्विक हिताय हिंदुत्व सम्मेलने वक्ता: किं कथित: आगच्छन्तु ज्ञायन्ति ! वैश्विक हित के लिए हिन्दुत्व कांफ्रेंस में वक्ताओं ने क्या कहा, आइए जानते हैं...

प्रथम दिवस का सारांश ! प्रथम दिवसं प्रणय कुमार: स्व वक्तव्ये कथित: तत वयं स्ववक्तव्ये हिंदुत्व सत्य भ्रांत्यां चर्चां करिष्यामि, सः कथित: तत हिंदुत्व किमस्ति,...

वैश्विक हिताय हिंदुत्व सम्मेलनस्य एक तः त्रय अक्टूबरस्य मध्यायोजनस्याभवत् शुभारंभ ! वैश्विक हित के लिए हिन्दुत्व कांफ्रेंस का एक से तीन अक्टूबर के बीच...

हिंदुत्वस्य विरुद्धम् विश्वे भ्रांतिपूर्ण प्रचारस्याभियान डिस्मेंटलिंग ग्लोबल हिंदुत्वस्य निरस्तं ! तत्रैव द्वितीयं प्रतीतम् नव प्रेरणाम् जन्मम् दत्त:, यत् विश्वम् हिन्दुत्वस्य सकारात्मकं जगहितैषीम् वास्तविक स्वरूपम्...

खिलाफत आंदोलन, भारतीय एकरूपता पर कुठाराघात

क्या खिलाफत आंदोलन "काफिर-कुफ्र" चिंतन से प्रेरित जिहाद था या फिर भारतीय स्वतंत्रता हेतु संघर्ष का एक भाग? इस प्रश्न का उत्तर 1,300 वर्ष...

टीपू सुल्तान की वास्तविकता

क्या मैसूर का शासक रहा टीपू सुल्तान स्वतंत्र भारत के नायकों में से एक है? इस प्रश्न के गर्भ में वह हालिया प्रस्ताव है,...

किं भारतम् अफगानतः विस्थापिता: मुस्लिमानाश्रयं दानीयम् ? पठन्तु इदम् कथानकम् ! क्या भारत को अफगान से विस्थापित हुए मुस्लिमों को शरण देनी चाहिए ?...

फोटो साभार सोशलमीडिया यदा कंधारस्य तत्कालीन शासक: अमीर अली खान पठानम् विवशभूत्वा जैसलमेर राज्ये आश्रयं नीतुम् भवित: ! तदा अत्रस्य महारावल: लूणकरणरासीत् ! ते महारावल:...

Latest news

- Advertisement -spot_img