28.1 C
New Delhi
Friday, August 6, 2021

CATEGORY

इतिहास

किं भवन्तः ज्ञायन्ति तत सुप्रसिद्धम् नालन्दा विश्व विद्यालयम् दग्धक: जेहादी बख्तियार खिलजिण: निधनम् कीदृशं अभवत् स्म ? क्या आप जानते हैं कि विश्वप्रसिद्ध नालन्दा...

यथार्थे कथानकमस्ति १२०६ ख्रीष्टाब्दस्य ! १२०६ ख्रीष्टाब्दे कामरूपे एकम् ओजपूर्णम् स्वरम् गुंजरति स्म ! बख्तियार खिलजी: त्वम् ज्ञानस्य मंदिरम् नालंदाम् दग्धित्वा कामरूपस्य (असम) धरायाम्...

अब्बक्का राज्ञी ! एकावीरांगना यया पोर्तुगीजान् पराभूता ! अब्बक्का रानी ! एक वीरांगना जिन्होंने पोर्तुगीजों को पराभूत किया !

वयं एकैदृशं वीरांगना शौर्यवती राग्या: वार्ता कुर्याम:, यया षोडशानि शताब्द्याम् पुर्तगालिभिः सह स्व स्वतंत्रताय युद्धम् कृता ! हम एक ऐसी बहादुर और साहसी रानी की...

डिप्टी कलक्टर आईसीएस बंकिम चंद्र का गीत वंदेमातरम्

अगर यूट्यूब पर पाकिस्तानी मीडिया एक्सपर्ट्स को बहस करते हुए देखें, तो बार - बार बड़े एहतराम के साथ मादरे वतन का उल्लेख ख़ूब...

आगन्तुका: वंशजेषु धर्मकल्याणाय इदृशं साधूनां बहु आवश्यकतामस्ति ! नागा साधुतः निर्मितः सर्वोच्चन्यायालयस्य प्राङ्विवाकः करुणेश शुक्ल: ! आने वाली पीढ़ी में धर्म कल्याण के लिए...

अद्य वयं भवतः एकः इदृश: व्यक्तित्व करुणेश शुक्लं प्रति केचनाभिज्ञानं दाष्यामि, यत् अद्यापि भारतस्य सर्वोच्च न्यायालये अधिवक्तास्ति ! आज हम आपको एक ऐसे व्यक्तित्व करुणेश...

अंततः किमासीत् राजपूत सम्राट: पृथ्वीराज चौहान: ? कासीत् तस्य विशेषता: ? आखिर कौन थे राजपूत सम्राट पृथ्वीराज चौहान ? क्या थी उनकी खूबियां ?

फोटो साभार भारत सरकार संस्कृति मंत्रालय राजपूत सम्राट: पृथ्वीराज चौहानस्य जन्म ११४९ तमे नृपः सोमेश्वर चौहानस्य कमला देव्या: वा गृहे पिथौरागढ़े अभवत् स्म ! राजपूत...

किं पतंजलिम् लोहसुष्या: लक्ष्ये भवतम् लुंठितं ? अंततः आयुर्वेदस्यैव विरोधम् किं ? क्या पतंजलि ने बंदूक की नोक पर आप को लूटा ? आखिर...

किं आचार्य बालकृष्ण: भवतः कोश: कर्तयतु ? किं आचार्य महाशयः श्रृंगाटकिमस्योपासेवनस्य, कवचस्य, भस्मस्य नामै: भवतम् निर्बुद्धिम् निर्मित: ? किं २०० देशेषु योगम् प्राप्त्वा रामदेव...

बाबा रामदेवस्य शिक्षाम् प्रत्ये स्पष्टीकरणं, ज्ञायन्तु अवगम्यन्तु च् ! बाबा रामदेव की शिक्षा के बारे में स्पष्टीकरण, जानिए और समझिए !

केचन पठितं लिखितं इमानि प्रश्नम् कुर्वन्ति बाबा रामदेवस्य पार्श्व कीदृशं प्रमाणपत्रमस्ति, सः तदाष्टमानि उत्तीर्णमस्ति ! अबुद्धिम् निर्मयेन साधु अल्पेण बुद्धिम् प्रयोगम् करोतु ! कुछ पढ़े...

गोंड राज्य की वीरांगना : महारानी दुर्गावती

#महारानी #दुर्गावतीदुर्गावती नाम था उसका और साक्षात दुर्गा ही थी वह! बुंदेलखंड के प्रसिद्ध चंदेल राजपूतों में उसका जन्म हुआ था! वंश इतना उच्च...

वीर कुन्वर् सिंह , ८० वर्ष कि आयु मैं भी अंग्रेजों से बहादुरी से लड़े।

वीर #कुंवर #सिंह "अस्सी वर्षों की हड्डियों में जागा जोश पुराना था,सब कहते हैं कुंवर सिंह भी, बड़ा वीर मर्दाना था!" विरले होते हैं वो लोग,...

महाराणा प्रताप और हल्दी घाटी का युद्ध।

#महाराणा 2"हे खुमाण स्वरूप महाराणा! हे एकलिंग के दीवान! हे राजपूतकुल भूषण! तब कल के युद्ध के विषय में आपका क्या आदेश है..." ...

Latest news

- Advertisement -spot_img