एशियास्य बहु विशाल सोलर प्लांट प्रारम्भयते !भारतम् निर्मिताति सोलर केन्द्रबिन्दु ! एशिया का सबसे बड़ा सोलर प्लांट शुरू ! भारत बन रहा है सोलर हब !

0
267
ट्विटर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी: शुक्रवासर मध्य प्रदेशस्य रिवे गुढ़ स्थानें निर्मित अल्ट्रा मेगा सौर ऊर्जा प्लांट देशम् समर्पितं अकरोत् ! मोदी: वीडियो कांफ्रेंसिंग माध्यमम् रिवे अल्ट्रा सोलर प्लांटस्य लोकार्पणम् अकरोत् ! अकथयत् – रवि देवस्य अस्य उर्जाम् अद्य सम्पूर्ण देश अनुभवन्ति ! रिवे सोलर प्लांटस्य लोकार्पण अवसरे वीडियो कांफ्रेंसिंग इते नेतृ विधायक प्रधानमंत्रीस्य सम्बोधनम् शृणुतः !

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को मध्य प्रदेश के रीवा में गुढ़ स्थान पर बने अल्ट्रा मेगा सौर ऊर्जा प्लांट देश को समर्पित किया ! मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए रीवा में अल्ट्रा सोलर प्लांट का लोकार्पण किया ! कहा- सूर्य देव की इस ऊर्जा को आज पूरा देश महसूस कर रहा है ! रीवा में सोलर प्लांट के लोकार्पण के मौके पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए नेता और विधायक पीएम के संबोधन को सुनते रहे !

ट्विटर

मोदी: अवदत् सौर ऊर्जा श्योर प्योर सिक्योर चस्ति, रिवास्य जनाः उच्च मस्तकेन कथिष्यन्ति मम् विद्युतेन हस्तिनापुरस्य (दिल्ली) मेट्रो चलन्ति !

मोदी बोले सौर ऊर्जा श्योर, प्योर और सिक्योर है, रीवा के लोग शान से कहेंगे कि हमारी बिजली से दिल्ली की मेट्रो चल रही है !

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी: अकथयत् -अस्य परियोजनेन मध्य प्रदेश स्वच्छम् लघुशुल्क विद्युतस्य केन्द्रविन्दु निर्मित भविष्यति !

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- इस परियोजना से मध्य प्रदेश साफ-सुथरी और सस्ती बिजली का हब बन जाएगा !

ट्विटर

आगतः जनन्ति किं च अकथयत् मोदी महोदयः !

आइए जानते हैं और क्या कहा मोदी महोदय ने !

विद्युते आत्मनिर्भरता बर्धति !

बिजली पर आत्मनिर्भरता बढ़ रही है !

सोलर एनर्जी 21वीं सदेन उर्जासि एक वृहद मध्यमिति निर्मयति !यथा यथा भारत विकासस्य नव शिखरम् प्रति बर्ध्यति, मम् आशाणि आकांक्षाणि बर्धनोति, मम् उर्जासि विद्युतस्य अवश्यक्तापि बर्धनोति ! एतै विद्युतस्य आत्मनिर्भरता बहु आवश्यकम् अस्ति !

सोलर एनर्जी 21वीं सदी में ऊर्जा का एक बड़ा माध्यम बनने जा रही है ! जैसे-जैसे भारत विकास के नए शिखर की तरफ बढ़ रहा है, हमारी आशाएं-आकांक्षाएं बढ़ रही हैं, हमारी ऊर्जा की, बिजली की जरूरतें भी बढ़ रही हैं ! ऐसे में बिजली की आत्मनिर्भरता बहुत जरूरी है !

रिवास्य परिचयम् श्वेत व्याघ्रेन अस्ति ! सम्प्रति ऊर्जे नामम् अमिलत् !

रीवा की पहचान सफेद बाघ से,अब ऊर्जा में नाम जुड़ा !

रिवास्य परिचयम् श्वेत व्याघ्रेन अस्ति ! सम्प्रति एतेशां एशियास्य बहु वृहद सोलर पावर प्रोजेक्टस्य नाममपि अमिलत् ! इदानीं सोलर प्लान्टे मध्य प्रदेशस्य जनानि, अत्रैव उद्योगानाम् विद्युत प्राप्स्यति,हस्तिनापुरे मेट्रो रेलयानस्यापि अस्य लाभ प्राप्स्यति ! मध्य प्रदेशे अपिच् सोलर प्लांट निर्मिष्यन्ति !

रीवा की पहचान सफेद बाघ से है ! अब इसमें एशिया के सबसे बड़े सोलर पावर प्रोजेक्ट का नाम भी जुड़ गया है ! इस सोलर प्लांट से मध्य प्रदेश के लोगों को,यहां के उद्योगों को बिजली मिलेगी, दिल्ली में मेट्रो रेल को भी इसका लाभ मिलेगा ! मध्य प्रदेश में और भी सोलर प्लांट लगेंगे !

सोलर एनर्जेन वयं विश्वस्य टॉप-5 देशेषु उपैति पर्यावरण संरक्षणे सहायताम् प्रापिष्यति !

सोलर एनर्जी में हम दुनिया के टॉप-5 देशों में पहुंचे और पर्यावरण संरक्षण में मदद मिलेगी !

वयं सौर उर्जासि प्रकरणे विश्वस्य शीर्ष पंच देशेषु उपैति ! एलईडी बल्बेन अर्ध 4 कोटि टन कार्बन डाइऑक्साइड पर्यावरणे घुलनेन अवरोधतु ! अर्थात प्रदूषणम् लघु भवति !अस्माकं वातावरण, अस्माकं वायु,अस्माकं जलमपि शुध्यन्ति,अस्य विचार सौर उर्जासि गृहीत्वा अस्माकं नीति रणनीते चापि स्पष्टम् परिलक्ष्यति !

हम सौर ऊर्जा के मामले में दुनिया के शीर्ष पांच देशों में पहुंच गए हैं ! एलईडी बल्ब से साढ़े 4 करोड़ टन कार्बन डाई ऑक्साइड पर्यावरण में घुलने से रुकी ! यानी प्रदूषण कम हो रहा है ! हमारा वातावरण, हमारी हवा, हमारा पानी भी शुद्ध बन रहे हैं , इसी सोच के साथ हम निरंतर काम कर रहे हैं ! यही सोच सौर ऊर्जा को लेकर हमारी नीति और रणनीति में भी स्पष्ट झलकती है !

भारतम् पावर एक्सपोर्टर निर्मिताति !
भारत को पावर एक्सपोर्टर बनाना है !

सोलर प्लांट अस्य भूमे स्थापिष्याति , यः उत्पादन हेतु उपयुक्तम् न अस्ति ! मह्यं पूर्ण विस्वासम् अस्ति,मध्य प्रदेशस्य कृषक सह्योगिपि अतिरिक्त आयस्य अस्य साधनम् स्वीकृतवन्तः च् भारतम् पावर एक्सपोर्टर निर्मितस्य अस्य व्यापक अभियानस्य अवश्यमेव सफलं निर्मिष्यन्ति !

सोलर प्लांट ऐसी जमीन पर लगेगा, जो उपजाऊ नहीं है ! मुझे पूरा विश्वास है, मध्य प्रदेश के किसान साथी भी अतिरिक्त आय के इस साधन को अपनाने और भारत को पावर एक्सपोर्टर बनाने के इस व्यापक अभियान को जरूर सफल बनाएंगे !

वयं पूर्ण विश्वस्य एकसूत्र कृते प्रयत्नतः !

हम पूरे विश्व को जोड़ने में जुटे हैं !

विश्वस्य मन्वतासि च् अपेक्षास्य दर्क्षतु वयं पूर्ण विश्वस्य एकसूत्र कृते प्रयत्नतः ! अस्य विचारस्य परिणाम् इंटरनेशनल सोलर एलायंस अस्ति !वन वर्ल्ड,वन सन,वन ग्रिड,इत्यस्य पश्चस्य अयम् भावनास्ति ! यस्य प्रकारेण भारते सोलर पावरे कार्यम् भवति अयम् चर्चा अपिच् वर्धयतु !

दुनिया की और मानवता की अपेक्षा को देखते हुए हम पूरे विश्व को जोड़ने में जुटे हुए हैं ! इसी सोच का परिणाम इंटरनेशनल सोलर एलायंस है ! वन वर्ल्ड, वन सन, वन ग्रिड, के पीछे की यही भावना है ! जिस तरह से भारत में सोलर पावर पर काम हो रहा है यह चर्चा और भी बढ़ने वाली है !

ट्विटर

परियोजनेन लाभम् !

परियोजना से लाभ !


रिवास्य गुढ़े स्थापित अयम् सौर ऊर्जा संयंत्र परियोजना 750 मेगावाट इति अस्ति 1590 हेक्टेयर क्षेत्रे चस्ति ! अयम् विश्वस्य सर्व वृहद सिंगल साइड सौर संयन्त्रे एकम् अस्ति ! अस्य सौर ऊर्जा प्लान्टे केवलं त्रय इकाईम् अस्ति ! प्रत्येक इकाये 250 मेगावॉट विद्युतस्य उत्पादित भवति ! परियोजनेन उत्पादितवन्तः विद्युतस्य 76 प्रतिशत हिस्सेदारी प्रदेशस्य पॉवर मैनेजमेंट कम्पनी 24 प्रतिशत च् हस्तिनापुर मेट्रो ददातु !


रीवा के गुढ़ में स्थापित यह सौर ऊर्जा संयंत्र परियोजना 750 मेगावाट की है और 1590 हेक्टेयर क्षेत्र में है ! यह दुनिया के सबसे बड़े सिंगल साइड सौर सयंत्रों में एक है ! इस सौर ऊर्जा प्लांट में कुल तीन इकाइयां है ! प्रत्येक इकाई में 250 मेगावॉट बिजली का उत्पादन हो रहा है ! परियोजना से पैदा हुई बिजली का 76% हिस्सा प्रदेश की पावर मैनेजमेंट कंपनी और 24% दिल्ली मेट्रो को दिया जा रहा है !

प्रति यूनिट विद्युत 2.97 रूप्य अयम् परियोजना अस्य सम्बन्धेपि महत्वपूर्णम् अस्ति ! सौर परियोजनाम् पर्यावरणस्य दृष्टेन पश्यतेव रिवा सौर परियोजनेन प्रत्येक वर्ष 15.7 लक्ष टन कार्बन डाई ऑक्साइडस्य उत्सर्जनम् प्रतिबन्धितवन्तः, यः 2 कोटि 60 लक्ष वृक्षाणि स्थापतिवेन समानः सन्ति !

प्रति यूनिट बिजली 2.97 रुपए यह परियोजना इस मायने में भी महत्वपूर्ण है ! सौर परियोजना को पर्यावरण की दृष्टि से देखें तो रीवा सौर परियोजना से हर साल 15.7 लाख टन कार्बन डाइऑक्साइड के उर्त्सजन को रोका जा रहा है, जो 2 करोड़ 60 लाख पेड़ों को लगाने के बराबर है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here