लव जिहाद–जय बनकर जाबिर ने लड़की का किया दुष्कर्म, धर्म परिवर्तन का बनाया दवाब।

0
593

लव जिहाद का एक मामला सामने आया है,जिसमे पीड़िता के साथ दस वर्ष तक शारीरिक शोषण किया गया और उस पर धर्म परिवर्तन का दवाब बनाया गया।

इन्दौर में नयापुरा निवासी ३० वर्षीय युवती की शिकायत पर एमजी रोड थाना पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। आरोपी का नाम है जाबिर फारूखी ।

पीड़िता ने बताया की उसकी दोस्ती जाबिर फारूखी से दस वर्ष पहले हुई थी। तब उसने जय नाम बताकर लड़की से दोस्ती की थी। लड़की विजय नगर में एक निजी कंपनी में काम करती है। जाबिर फारूखी से उसकी मुलाकात उसी वक्त हुई थी। तब जाबिर फारूखी ने अपना नाम जय बताया था ,उसने उस समय हाथ में कड़ा और रक्षासूत्र बांध रखे थे।

जाबिर फारूखी ने तब युवती को अच्छी कंपनी में नौकरी देने का प्रलोभन देकर उससे दोस्ती कर ली और ऐसे इनकी नजदीकी बढ़ने लगी।

एक दिन जब युवती के माता पिता घर पर नही थे,तब जाबिर घर पर आया और उसने चाकू अड़ाकर शारीरिक संबंध बना लिए। उसने लड़की का वीडियो बनाकर उससे रुपए छीन लिए और उसको ब्लैकमेल करने लगा।

जब जाबिर फारूखी ने अपनी असली पहचान बताई तब लड़की के होश उड़ गए। आरोपी ने लड़की को धर्म परिवर्तन करने के लिए दवाब बनाने लगा और धमकी दी कि अगर उसकी बात नही मानी तो वो उसके ऊपर तेजाब डाल देगा ।

लड़की ने पुलिस में आवेदन दिया था लेकिन कार्यवाई नही हुई,बाद में जब लड़की ने हिंदू संगठनों से संपर्क किया और फिर उसके बाद पुलिस ने शिकायत दर्ज की और बाद में आरोपी को पकड़ा गया।

बात ध्यान देने वाली यह है कि लड़की के साथ दस वर्ष से यह शोषण किया जा रहा था तो उसने यह बात बताई क्यों नही ? लड़की ने अपने मां बाप, भाई,बहन,या अपनी सहेली को क्यों नही बताया ? बदनामी हो जाएगी इसलिए नही बताया?

कारण जो भी रहा हो,लेकिन लड़की को हिम्मत दिखानी थी, जितना आप अपराध को सहन करेंगे उतना आपको तकलीफ उठानी पड़ेगी ।
गौर करने वाली बात यह है कि दस वर्ष पहले उस आरोपी ने रक्षासूत्र, कड़ा पहना था।

मतलब किस तरह से हिंदू लड़कियों को फसाया जाता है, यह सब बहुत पहले से किया जा रहा है । कई लोग यह आरोप लगाते हैं कि २०१४ के बाद जब से मोदी जी की सरकार बनी है, तब से अल्पसंख्यकों को इस तरह बदनाम करने का प्रयास किया जा रहा है, लेकिन ऐसा नहीं है जिहादी लोग काफी लंबे समय से इस तरह की हरकते कर रहे हैं।

लड़कियों से हमारी हाथ जोड़ कर विनती है कि वो खुद को इतना कमजोर न बनाए,अगर उनके साथ ऐसा कुछ भी गलत होता है तो तुरंत उसके बारे में अपने घर के लोगो को सूचित करें।

पुलिस को सूचित करें और अगर पुलिस मदद नही करे तो हिंदू संगठनों की सहायता ले और इन जिहादियों को सबक सिखाए। जब तक आप हिम्मत नही दिखायेंगे तब तक कोई आपकी मदद नही कर पाएगा।

https://epaper.naidunia.com/mepaper/19-jul-2021-74-indore-edition-indore.html

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here