24.1 C
New Delhi

प्रोफेसर कमाल: कृतवान् ब्रेनवॉश, जाकिर नाइक: धर्मांतरणम् ! प्रोफेसर कमाल ने किया ब्रेनवॉश, जाकिर नाइक ने धर्मांतरण !

Date:

Share post:

मध्यप्रदेश एटीएस इत्या हिज्ब-उत-तहरीर इत्या: आतंकी: बंधनस्यानंतरं यत् धर्मांतरणस्य क्रीडायाः रहस्योद्घटनमभवत्, तेन ज्ञात्वा सर्वे विस्मित: सन्ति ! पृच्छने संमुखमागतवत् तत भोपाले संगठनस्य सरगना मोहम्मद सलीम: प्रथम कदा स्वयं सौरभ राजवैध: भवते स्म ! तु अनंतरे तेन मुस्लिम: इति कृतवान् !

मध्यप्रदेश एटीएस द्वारा हिज्ब-उत-तहरीर के आतंकियों को गिरफ्तार किए जाने के बाद जो धर्मांतरण के खेल का भंडाफोड़ हुआ है, उसे जान सब हैरान हैं ! पूछताछ में सामने आया कि भोपाल में संगठन का सरगना मोहम्मद सलीम पहले कभी खुद सौरभ राजवैद्य हुआ करता था ! लेकिन बाद में उसे मुस्लिम बना लिया गया !

तस्मिन् इदृशमेव कट्टरता परिपूर्णवान् सः स्वयं युवकान् कट्टरपंथस्य प्रशिक्षणं दत्तुं अरभत् ! पितरौ ज्ञापयत: तत सलीमस्यार्थतः सौरभस्य शिक्षा बहु सामान्य प्रकारेणाभवत् स्म ! तु भोपालस्य महाविद्यालये प्रोफेसरी इत्या: काळं एकम् मित्रम् शिक्षक: तेन इस्लामम् प्रति प्रेरितं कृतवान् !

उसमें ऐसी कट्टरता भरी गई कि वो खुद युवकों को कट्टरपंथ की ट्रेनिंग देने लगा ! माता-पिता बताते हैं कि सलीम उर्फ सौरभ की शिक्षा बहुत सामान्य ढंग से हुई थी ! लेकिन भोपाल के कॉलेज में प्रोफेसरी के दौरान एक साथी शिक्षक ने उसे इस्लाम की ओर रुख करवाया !

तस्यानंतरम् जाकिर नाइकस्य चलचित्रं दर्शितं- दर्शितं केचन कालांतरम् सः कुटुंबम् सहितं मुस्लिम: अभवत् ! सलीमस्य पितरौ भोपालस्य बैरसिया क्षेत्रस्य वासिनौ स्त: ! सः सौरभतः सलीम: अभवत् स्वपुत्रस्य वार्ता कृतन् मीडिया इत्या: संमुखम् बहु भावुक: अभवताम् !

उसके बाद जाकिर नाईक की वीडियो देखते-देखते कुछ समय बाद वह परिवार सहित मुसलमान बन गया ! सलीम के माता-पिता भोपाल के बैरसिया इलाके के निवासी हैं ! वह सौरभ से सलीम बने अपने बेटे की बात करते हुए मीडिया के सामने काफी भावुक हो गए !

पिता डॉ अशोक राजवैद्य: यत्र मीडियातः स्पष्ट ज्ञाप्तवान् तत इमानि अंतरराष्ट्रीय कुचक्रस्य अनुरूपम् भवति ! तत्रैव माता आर्तस्वरम् रुदन्ती केवलं इदम् कथितुं रमेत् तत तस्या: पुत्र आतंकी न भवितुं शक्नोति ! तेनावरुद्धवान् ! मीडिया इतम् सौरभस्य बहु पुरातन चित्राणि प्रदर्शन्ती पितरौ ज्ञाप्तवन्तौ तत ४ पुत्रीणां अनंतरम् सौरभ: बहु कठिनतायाभवत् स्म !

पिता डॉ अशोक राजवैद्य ने जहाँ मीडिया से खुलकर बताया कि ये सब इंटरनेशनल साजिश के तहत हो रहा है ! वहीं माँ फफक कर रोते हुए बस ये कहती रहीं कि उनका बेटा आतंकी नहीं बन सकता है ! उसे फँसाया गया है ! मीडिया को सौरभ की कई पुरानी तस्वीरें दिखाते हुए माता-पिता ने बताया कि 4 बेटियों के बाद सौरभ बड़ी मुश्किल से हुआ था !

बाल्यकालतः एव पठने बहु तीव्र: आसीत् ! सः चिकित्सक: भवितुं इच्छति स्म ! तु चिकित्सीय विद्यालये नंबर नागमनस्य कारणेन तं एम.फार्मा इत्या: अनंतरम् पीएचडी इति कृतवान् ! यस्य अनंतरम् सः भोपालस्यैके विद्यालये पाठितुं अरभत् ! पितु: अनुसारम्, वीआईटी विद्यालये पठनस्य काळम् सौरभस्य मेलनम् प्रोफेसर कमालतः अभवत् !

बचपन से ही पढ़ाई करने में बहुत तेज था ! वह डॉक्टर बनना चाहता था ! लेकिन मेडिकल में नंबर न आने की वजह से उसने एम.फार्मा के बाद पीएचडी की ! इसके बाद वह भोपाल के एक कॉलेज में पढ़ाने लगा ! पिता के अनुसार, वीआईटी कॉलेज में पढ़ाने के दौरान सौरभ की मुलाकात प्रोफेसर कमाल से हुई !

तैव कमाल: पुत्रस्य ब्रेनवॉश कृतवान् पुनः च् तस्य मेलनं मुम्बै जाकिर नाइकतः कारितवान् ! पिता राजवैद्यस्यानुसारम्, नाइक: भोपाले बहून् जनान् धर्मांतरणम् कृतवान् स्म ! तस्य पुत्रस्य धर्मांतरणे अपि नाइकस्य हस्तमस्ति ! मीडिया इत्यां आगतवान् सौरभस्य पितु: कथनस्य अनुसारम्, कट्टरपंथिनां संपर्के आगमनस्य अनंतरम् सौरभ: परिवर्तित: स्म !

उसी कमाल ने बेटे का ब्रेनवॉश किया और फिर उसकी मुलाकात मुंबई में जाकिर नाईक से करवाई ! पिता राजवैद्य के अनुसार, नाईक ने भोपाल में कई लोगों को कन्वर्ट किया था ! उनके बेटे के धर्मांतरण में भी नाईक का हाथ है ! मीडिया में आए सौरभ के पिता के बयान के अनुसार, कट्टरपंथियों के संपर्क में आने के बाद सौरभ बदल गया था !

सः प्रतिवार्तायां खिन्नयति स्म, रक्षाबंधनम् मान्येणावरोधयति स्म, भारतीय संस्कृत्या: विरोधम् करोति स्म, कुटुंबिन: एकं दिवसं ज्ञातं अभवन् तत तं इस्लाम इति स्वीकृतवान् ! यदा तस्मातस्मिन् संबंधे संमुखतः अपृच्छत् तु तं आम् इत्यां उत्तरम् दत्तवान् ! यस्यानंतरम् तौ सौरभम् गृहत: निःसृतवन्तौ आरक्षकं च् सूचितं कृतवन्तौ तत तं धर्मांतरणम् कृतवान् !

वह हर बात पर उलझता था, रक्षा बंधन मनाने से मना करता था, भारतीय संस्कृति का विरोध करता था, घरवालों को एक दिन पता चला कि उसने इस्लाम कबूल कर लिया है ! जब उससे इस संबंध में सामने से पूछा गया तो उसने हाँ में जवाब दिया ! इसके बाद उन्होंने सौरभ को घर से निकाल दिया और पुलिस को सूचना दी कि उसने धर्मांतरण कर लिया है !

सम्प्रति तयो सौरभतः कश्चित सरोकार: नास्ति ! एटीएस इत्या: शीघ्रमेव कार्यवहने तौ अकथयताम् तत तौ इदृशं कार्यवहन प्रथमेव इच्छत: स्म ! तु इदम् सम्प्रति गत्वाभवत् ! मध्य प्रदेश एटीएस सलीमं बंधनम् कृतवान् ! तस्मात् पृच्छनमनुसंधानम् चलति ! तु यत् वार्ता: आगच्छन्ति तत तयो पुत्र कैंप इत्यां गन ट्रेनिंग ददाति स्म, तस्मिन् ताभ्यां विश्वासम् न स्त: !

अब उनका सौरभ से कोई लेना-देना नहीं है ! एटीएस की हालिया कार्रवाई पर उन्होंने कहा कि वो ऐसा एक्शन पहले ही चाहते थे ! लेकिन ये अब जाकर हुआ है ! मध्यप्रदेश एटीएस ने सलीम को पकड़ा है ! उससे पूछताछ और जाँच चल रही है ! लेकिन जो खबरें आ रही हैं कि उनका बेटा कैंप में गन ट्रेनिंग देता था, उस पर उन्हें यकीन नहीं है !

पिता कथ्यति तत इमानि केचन अंतरराष्ट्रीय कुचक्रस्यानुरूपमभवन् ! इंटेलिजेंट बालकेषु तस्य (कट्टरपंथिन:) दृष्टिम् भवति ! तान् सः हिंदूतः मुस्लिम: कुर्वन्ति ! इदम् डॉ जाकिर नाइकस्य कुचक्रमस्ति ! ते इदृशं मद्य पायते तत ओरिजनल इस्लाम एकम्प्रति भवते जनाः च् कट्टर-हिंसका: भवन्ति !

पिता कहते हैं कि ये सब कुछ अंतरराष्ट्रीय साजिश के तहत हुआ है ! इंटेलिजेंट लड़कों पर उनकी (कट्टरपंथियों) नजर होती है ! उनको वह हिंदू से मुस्लिम बनाते हैं ! यह डॉक्टर जाकिर नाइक की साजिश है ! वे लोग ऐसा नशा पिलाते हैं कि ओरिजिनल इस्लाम एक तरफ हो जाता है और लोग कट्टर-हिंसक बन जाते हैं !

डॉ अशोक राजवैद्य: ज्ञापयति तत कीदृशं सौरभ: प्रथम स्वयं इस्लाम स्वीकृत्य सलीम: अभवत् ! तस्यानंतरम् तस्य भार्या मानसिम् मुस्लिम: कृतवान् द्वौ पौत्रौ ययो नाम सः अनुनय: वत्सल: च् धृतवान् स्म ताभ्यां परिवर्त्य यूसुफ: इस्माइल: च् कृतवान् ! पितायमपि अभिज्ञानम् दत्तवान् तत सलीमस्य भाग्यनगरम् गमनस्यानंतरम् तस्य पुत्रौ तेन सह वसितुं न इच्छत: स्म !

डॉ अशोक राजवैद्य बताते हैं कि कैसे सौरभ पहले खुद इस्लाम कबूल करके सलीम बना ! उसके बाद उसकी बीवी मानसी को मुसलमान बनाया और दो पोते जिनका नाम उन्होंने अनुनय और वत्सल रखा था उन्हें बदलकर युसूफ और इस्माइल कर दिया ! पिता ने यह भी जानकारी दी कि सलीम के हैदराबाद जाने के बाद उसके बेटे उसके साथ नहीं रहना चाहते थे !

तौ गृहत: पलायित्वा भोपालमागतुं इच्छत: स्म, तु सलीम: ताभ्यां अधिग्रह्यति स्म ! अयम् वार्ता स्वयं द्वौ पौत्रौ तेन ज्ञाप्तवन्तौ षड् मासानि पूर्वम् ज्ञाप्तवन्तौ स्म ! भाग्यनगरे सलीम: ओवैसिण: महाविद्यालये प्रोफेसर आसीत् ! धर्मांतरणस्य अनंतरम् तेनात्र कार्यम् ळब्ध: आसीत् ! सौरभस्य माता मीडियातः वार्ता कुर्वन्ती पुनः- पुनः प्रार्थना कृतवती तत कश्चित प्रकारम् तस्या: पुत्र तया पुनः दत्तवान् !

वे घर से भागकर भोपाल आना चाहते थे, लेकिन सलीम उन्हें पकड़ लेता था ! ये बात खुद दोनों पोतों ने उन्हें बताई 6 महीने पहले बताई थी ! हैदराबाद में सलीम ओवैसी के कॉलेज में प्रोफेसर था ! धर्मांतरण के बाद उसे यहाँ नौकरी मिली थी ! सौरभ की माँ ने मीडिया से बात करते हुए बार-बार गुहार लगाई कि किसी तरह उनका बेटा उन्हें लौटा दिया जाए !

माता बसंती जैनाकथयत् तत तस्या: पुत्र तै: बहु वस्तूनि गोपितुं अरभत् स्म ! यदा अन्ते सौरभ: वार्ता कृतरासीत् तदा तयानूभूते एवासीत् तत तः कश्चित संकटे अस्ति ! तु, बहु पृच्छने केचन न ज्ञाप्तवान् ! अनंतरे तस्य भार्या भार्या मानस्या वार्ताभवत् तदा सा बहु अरुदत् !

माँ बसंती जैन ने कहा कि उनका बेटा उन लोगों से बहुत चीजें छिपाने लगा था ! जब आखिरी बार सौरभ ने बात की थी तो उन्हें लगा ही था कि वो किसी दिक्कत में है ! मगर, बहुत पूछने पर कुछ बताया नहीं ! बाद में उसकी बीवी मानसी से बात हुई तो वह बहुत रोई !

तं अकथयत् तत बंधनम् प्रति सौरभ: पितरौ ज्ञापनेण न कृतवान् स्म ! अस्मिन् बसंती जैन अकथयत् पूर्वम् यदि ते पार्श्व पुनः आगच्छन्ति तु इमानि न भवन्ति ! मातु: मान्यतास्ति तत तस्या: पुत्रेण कश्चित इमानि बलात् ब्लैकमेल कृत्वा कारयति ! तस्या: पुत्र इमानि कदापि मा कर्तुं शक्नोति !

उसने कहा कि गिरफ्तारी के बारे में सौरभ ने माता-पिता को बताने से मना किया था ! इस पर बसंती जैन ने कहा पहले अगर वे लोग उनके पास लौट आते तो यह सब नहीं होता ! माँ का मानना है कि उनके बेटे से कोई ये सब जबरदस्ती ब्लैकमेल करके करवा रहा है ! उनका बेटा ये सब कभी नहीं कर सकता है !

बसंती जैन्या: अनुरूपम् यदि सौरभ: तया सह वसति तु कदापि कट्टरपंथस्य वस्तुसु न अवरुद्दति ! तेन प्रथम तस्या: अंतरे कृतवान् पुनः च् एतेषु वस्तुसु अवरुद्धवान् ! तस्य कृतस्य कारणम् डॉ अशोक राजवैद्य: कदापि तस्मात् वार्ता न करोति स्म ! तु बसंती जैन तेन फोन करोति स्म ! तस्य बालकाभ्यां पारितोषकानि प्रेषयति स्म !

बसंती जैन के मुताबिक अगर सौरभ उनके साथ रहता तो कभी कट्टरपंथ की चीजों में नहीं फँसता ! उसे पहले उनसे दूर किया गया और फिर इन चीजों में फँसाया गया ! उसके बर्ताव के कारण डॉ अशोक राजवैद्य कभी उससे बात नहीं करते थे ! लेकिन बसंती जैन उसे फोन करती थीं ! उसके बच्चों के लिए तोहफे भिजवाती थी !

केवलं अतएव कुत्रचित् सौरभस्य कनेक्शन कुटुंबतः कदापि न पृथकाभवत् ! कदा-कदा ता दूरभाषे अपि कथयति स्म, पुत्र पुनः आगच्छतु, तु तः उत्तरम् ददाति स्म अंते तु मृतं भूतमस्ति, इदृशमेव मृतं भविष्यति ! बसंती जैन इदमपि ज्ञापयति तत सौरभ: एकदा तयाकथयत् स्म, माता यदि अहमवरुद्ध: तु रक्षतु !

सिर्फ इसलिए ताकि सौरभ का कनेक्शन परिवार से बिलकुल न कटे ! कभी-कभी वो फोन पर कहती भी थीं, बेटा वापस आजा, पर वो जवाब देता था आखिर में तो मरना ही है, ऐसे ही मर जाएगें ! बसंती जैन यह भी बताती हैं कि सौरभ ने एक बार उन्हें कहा था, अम्मा अगर हम फँसें तो बचा लेना !

स्वपुत्रस्य पुरातन वार्ता: स्मरन्ती माता कथ्यति, मम पुत्र निर्दोष:, तः आतंकी भवितुं नशक्नोति, तेनावरुद्धते ! दृष्टिगतमस्ति तत मध्यप्रदेशस्य तेलंगानायाः च् एटीएस भोपाले-छिंदवाड़ायां हिज्ब-उत-तहरीर इत्या: आतंकी: अधिग्रहित्य तस्येच्छानां रहस्योद्घाटनम् कृतवान् स्म ! अनुसंधाने यस्य पार्श्वतः बहूनि आपत्तिपूर्ण वस्तूनि ळब्धवान् स्म !

अपने बेटे की पुरानी बातें याद करते हुए माँ कहती है, मेरा बेटा निर्दोष है, वो आतंकी नहीं हो सकता, उसे फँसाया जा रहा है ! गौरतलब है कि मध्यप्रदेश और तेलंगाना की एटीएस ने भोपाल-छिंदवाड़ा में हिज्ब-उत-तहरीर के आतंकियों को पकड़कर उनके मनसूबों का खुलासा किया था ! जाँच में इनके पास से कई आपत्तिजनक चीजें मिलीं थी !

यस्येच्छा भारतम् इस्लामी देश रचयस्यासीत् ! यद्यपि पृच्छने धर्मांतरणस्येदृशमेव कथानक संमुखमागतवत् यत् सर्वम् विस्मित: कृतवान् ! सीएम शिवराज: आतंकीनां रहस्योद्घाटनस्य अनंतरम् संमुखमागत्याकथयत् तत तः राज्ये द केरल स्टोरी न निर्मितुं दाष्यति ! अत्रातंकम् संपादितं करिष्यते !

इनका मकसद भारत को इस्लामी देश बनाने का था ! हालाँकि पूछताछ में धर्मांतरण की ऐसी कहानी सामने आई जिसने सबको हैरान कर दिया ! सीएम शिवराज ने आतंकियों के खुलासे के बाद सामने आकर कहा कि वो राज्य में द केरल स्टोरी नहीं बनने देंगे ! यहाँ आतंकवाद को नेस्तनाबूद किया जाएगा !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

अवयस्का हिंदू बालिकामताडयत्, अलिहत् स्व ष्ठीव्, मोहम्मद मुश्ताक: बंधनम् ! नाबालिग हिन्दू बच्ची को मारा, चटवाया अपना थूक, मोहम्मद मुश्ताक गिरफ्तार !

बिहारस्य पूर्णियायां एकावयस्का हिंदू बालिकां ष्ठीव् लिहस्य प्रकरणम् संमुखमगच्छत् ! आरोपं अस्ति तत बालिकया: स्तंम्भे निबध्य ताडनमपि अकरोत्...

जोधपुरस्य सर्वकारी विद्यालये हिजाब धारणे संलग्ना: छात्रा: ! जोधपुर के सरकारी स्कूल में हिजाब पहनने पर अड़ी छात्राएँ !

राजस्थानस्य जोधपुरे हिजाब इतम् गृहीत्वा प्रश्नं अभवत् ! सर्वकारी विद्यालये छात्रा: हिजाब धारणे गृहीत्वा संलग्नवत्य:, तु तेषां परिजना:...

मेलकम् दर्शनमगच्छन् हिंदू महिला: शमीम: सदरुद्दीन: चताडताम्, उदरे अकुर्वताम् पादघातम् ! मेला देखने गईं हिन्दू महिलाओं को शमीम और सदरुद्दीन ने पीटा, पेट पर...

उत्तरप्रदेशस्य फर्रुखाबाद जनपदे एकः हिंदू युवके, तस्य मातरि भगिन्यां च् घातस्य वार्ता अस्ति ! घातस्यारोपम् शमीमेण सदरुद्दीनेण च्...

हल्द्वानी हिंसायां आहूय-आहूय हिंदू वार्ताहरेषु अभवन् घातम् ! ऑपइंडिया इत्यस्य ग्राउंड सूचनायां रहस्योद्घाटनम् ! हल्द्वानी हिंसा में चुन-चुन कर हिंदू पत्रकारों पर हुआ हमला...

उत्तराखंडस्य हल्द्वानी हिंसायां उत्पातकाः आरक्षक प्रशासनस्यातिरिक्तं घटनायाः रिपोर्टिंग कुर्वन्ति हिंदू वार्ताहरानपि स्वलक्ष्यमकुर्वन् स्म ! ते आहूय-आहूय वार्ताहरेषु घातमकुर्वन्...