बाबू खान: कृतः दलितावस्यकायाः अपहरणं दुष्कर्मं च्, आरक्षकः पीड़िताम् परिजनान् च् पादै:-मुष्टि प्रहारै: ताडितवान ! बाबू खान ने किया दलित नाबालिग का अपहरण और बलात्कार, पुलिस ने पीड़िता और परिजनों को लात-घूँसों से पीटा !

0
498

मध्य प्रदेशस्य छतरपुरे १३ वर्षीयावयस्का दलित बालिकाया अभवत् दुष्कर्मस्य प्रकरणे कार्यवाह्यां शिथिलतायाः आरोपे त्रयान् आरक्षककर्मी: निलंबितं कृतवान ! येषु आरक्षककर्मिसु पीड़ितायाः उपरि आरोपिणा सहमत्या: भारम् कृतस्यारोपमस्ति !

मध्य प्रदेश के छतरपुर में 13 साल की नाबालिग दलित लड़की से हुए रेप के मामले में कार्रवाई में लापरवाही बरतने के आरोप में 3 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है ! इन पुलिस वालों पर पीड़िता के ऊपर आरोपित से समझौते का दबाव बनाने का आरोप है !

अवयस्का दलित बालिकाया दुष्कर्मस्यारोपिण: नाम बाबू खान: अस्ति येन बंधनम् कृतवान ! बाबू खाने २७ अगस्तं पीड़ितायापहरणस्यारोपम् भवित: आसीत् ! मीडिया सूचनानां अनुरूपम्, २७ अगस्तं पीड़िता मध्यान्ह लगभगम् १ वादनम् स्वगृहतः गोपितासीत् !

नाबालिग दलित लड़की से रेप के आरोपित का नाम बाबू खान है जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है ! बाबू खान पर 27 अगस्त को पीड़िता के अपहरण का आरोप लगा था ! मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 27 अगस्त को पीड़िता दोपहर लगभग 1 बजे अपने घर से लापता हो गई थी !

बालिकायाः परिजनान् इति कृत्यस्य पश्च पार्श्वस्यैव वासिन् बाबू खानस्य भूतस्याभिज्ञानम् लब्धं ! आरोपं अस्ति तत यदाग्रिम दिवसं २८ अगस्त २०२२ तमम् यदा पीड़ितायाः कुटुंबी आरक्षके अपवादम् पंजिकर्तुं प्राप्त: तदा तस्यापवादे बलात् बालिकायाः उम्र १८ वर्षम् उल्लिखितवान !

लड़की के परिजनों को इस कृत्य के पीछे पास के ही रहने वाले बाबू खान के होने की जानकारी मिली ! आरोप है कि जब अगले दिन 28 अगस्त 2022 को जब पीड़िता के घर वाले पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवाने पहुँचे तो उनकी शिकायत में जबरन लड़की की उम्र 18 साल लिखवाई गई !

पीड़िता ३० अगस्तं प्राप्ता ! बालिकापि स्व कथने बाबू खाने स्वस्यापहरणस्य दुष्कर्मस्य चारोपम् आरोपिता ! पीड़ितायाः परिजनानां अनुरूपं, पुत्र्याः गोपनस्य काळम् द्वे महिलारक्षककर्मिनौ तेषु कथन परिवर्तनस्य भारम् भारिते !

पीड़िता 30 अगस्त को बरामद कर ली गई ! लड़की ने भी अपने बयान में बाबू खान पर खुद के अपहरण और रेप का आरोप लगाया ! पीड़िता के परिजनों के मुताबिक, बेटी की गुमशुदगी के दौरान 2 महिला पुलिसकर्मियों ने उन लोगों पर बयान बदलने का दबाव बनाया !

दृढ़कथनम् कृतवान तत यदा पीड़ितायाः गृहवासिन: इदृशं कृतेन न कृतवान तर्हि तै: करप्रहारै: ताडिताः ! इदमपि ज्ञाप्यते तत कथन परिवर्तनस्य भारम् कर्तुं स्वयं दुष्कर्म पीड़िताम् पादै:-मुष्टिप्रहारै: मेखलाभिः च् ताडित: !

दावा किया गया है कि जब पीड़ित के घर वालों ने ऐसा करने से मना कर दिया तो उन्हें थप्पड़ों से मारा गया ! बताया ये भी जा रहा है कि बयान बदलने का दबाव डालने के लिए खुद रेप पीड़िता को लात-घूँसों और बेल्टों से मारा गया !

आरोपमस्ति तत यदारक्षककर्मिन: पीड़िताम् तस्या: गृहवासिन: सहमतये न तत्परं कर्तुं न सक्षम: तदा सः कार्यवाहिम् न कृतस्य वार्ता कथित्वा पीड़ितान् आरक्षिस्थानतः प्रेषितवान ! पीड़ित दलित कुटुंबम् इदमपि आरोपमारोपितवन्तः ततारक्षकः प्राथमिक्यां अपहरणस्य धारा: न सम्मिलिता: सन्ति !

आरोप है कि जब पुलिसकर्मी पीड़िता और उसके घर वालों को समझौते के लिए नहीं तैयार कर पाए तब उन्होंने कार्रवाई न करने की बात कह कर पीड़ितों को थाने से भगा दिया ! पीड़ित दलित परिवार ने यह भी आरोप लगाया है कि पुलिस ने FIR में अपहरण की धाराएँ नहीं लगाई हैं !

इति प्रकरणस्याभिज्ञानम् भवतैव बाल कल्याण समिति प्रशासनतः आरोपिण: अन्वेषणस्य तस्मिन् च् दृढ़ कार्यवाह्या: याचनां कृतवान ! जनपदस्य एसपी सचिन शर्मा ज्ञापित: तत पीड़िताया सह कश्चितापि प्रकारस्य समाघातम् न भवितमस्ति ! कोतवाली प्रभारिण: अनुरूपम् आरोपी इत्यां पॉक्सो विधेयकस्य एससी/एसटी विधेयकस्यानुरूपे कार्यवाहिम् कृतवान !

इस मामले की जानकारी होते ही बाल कल्याण समिति ने प्रशासन से आरोपि की जाँच और उन पर कड़ी कार्रवाई की माँग की ! जिले के SP सचिन शर्मा ने बताया कि पीड़िता के साथ किसी भी प्रकार की मारपीट नहीं हुई है ! कोतवाली प्रभारी के मुताबिक आरोपि पर पॉक्सो एक्ट और SC/ST एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here