21.8 C
New Delhi

तिहाड़ कारागारे २४ घटकानि छायाग्रहिकायाः दृष्टे रमिष्यति आफताब:, प्रतिकृत्ये भविष्यति आरक्षकस्य दृष्टि:, पॉलीग्राफ अनुसंधानम् कासित्वा कृतवानासाधु ! तिहाड़ जेल में 24 घंटे कैमरे की निगरानी में रहेगा आफताब, हर मूवमेंट पर होगी पुलिस की नजर, पॉलीग्राफ टेस्ट को खाँसकर कर चुका है खराब !

Date:

Share post:

स्व लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वालकरस्य हनन् कृतवान हनित्वा ३५ खण्डेषु कर्तित्वा क्षिपक: कापटिक आरोपिन् आफताब पूनावालाम् १३ दिवसस्य बंधने प्रेषितवन्तः ! तेन देशस्य सर्वात् सुरक्षितं मान्यकं तिहाड़ कारागारे प्रेषितवन्तः !

अपने लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वालकर की हत्या की हत्या कर 35 टुकड़ों में काटकर फेंकने वाले शातिर आरोपित आफताब पूनावाला को 13 दिन की कस्टडी में भेज दिया गया है ! उसे देश के सबसे सुरक्षित माने जाने वाले तिहाड़ जेल में भेज दिया गया है !

तत्र तेन एकः पृथक कक्षे धृतवान तस्मिन् च् २४ घटकानि दृष्टि: धृयते ! आरोपिन् आफताबम् तिहाड़ कारागार क्रमांक चत्वारस्यैकः पृथककक्षे धरिष्यति, इदम् प्रथमदा अपराधकर्ता आरोपिभ्यः अस्ति ! अधिकारीणां कथनमस्ति तत तस्मिन् दृष्टि: धृतुं तेन २४ घटकानि छायाग्रहिकायाः दृष्टे धरिष्यति !

वहाँ उसे एक अलग सेल में रखा गया है और उस पर 24 घंटे निगरानी रखी जा रही है ! आरोपित आफताब को तिहाड़ जेल नंबर 4 के एक अलग सेल में रखा जाएगा ! यह पहली बार अपराध करने वाले आरोपितों के लिए है ! अधिकारियों का कहना है कि उस पर नजर रखने के लिए उसे 24 घंटे कैमरे की निगरानी में रखा जाएगा !

यस्यातिरिक्तं, कारागारस्याधिकारिनपि तस्मिन् दृष्टि: धरिष्यति ! कारागारे तस्याधिक गमनम् न भविष्यति केचन काळमेव च् तस्य कक्षतः बहिः २४ घटकानि एकः सुरक्षाकर्मिन् नियुक्तं रमिष्यति ! येन सहैव तेन भोजनम् परिवेषणस्य काळम् आरक्षककर्मिन् उपस्थित: रमिष्यति !

इसके अलावा, जेल के अधिकारी भी उस पर नजर रखेंगे ! जेल में उसकी ज्यादा आवाजाही नहीं होगी और कुछ समय तक उसके सेल से निकलने पर रोक रहेगी ! उसके सेल के बाहर 24 घंटे एक सुरक्षाकर्मी तैनात रहेगा ! इसके साथ ही उसे खाना परोसने के दौरान पुलिसकर्मी मौजूद रहेंगे !

विशेषारक्षकायुक्तं (विधि व्यवस्था, जोन II) सागर प्रीत हुड्डाकथयत् तत देहल्या: एकः न्यायालय: इत: तेन १३ दिवसभ्याम् बंधने प्रेषितवान ! तत्रैवारक्षकः पॉलीग्राफ अनुसंधाने आरोपिम् प्रस्तुतुं अग्रस्य कार्यवाहयै विधि प्रक्रियारंभितमस्ति !

विशेष पुलिस आयुक्त (कानून व्यवस्था, जोन II) सागर प्रीत हुड्डा ने कहा कि दिल्ली की एक अदालत ने फिलहाल उसे 13 दिनों के लिए हिरासत में भेज दिया है ! वहीं, पुलिस ने पॉलीग्राफ टेस्ट में आरोपित को पेश करने के लिए आगे की कार्यवाही के लिए कानूनी प्रक्रिया शुरू कर दी है !

ज्ञापयतु तत शुक्रवासरम् (२५ नवंबर २०२२) रोहिण्याः फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी इत्यां पॉलीग्राफी अनुसंधानम् लगभगम् त्रीणि घटकानि एवाचलत् ! इति काळम् तं विशेषज्ञान् भ्रमित कृतस्य पूर्ण प्रयत्नमकरोत् ! पृच्छनस्य काळम् सः पुनः-पुनः कासते अनुसंधानम् च् मैनुपिलेट कृतस्य प्रयत्नम् अकरोत् ! यस्मात् अनुसंधानम् प्रभावितं अभवन् !

बता दें कि शुक्रवार (25 नवंबर 2022) को रोहिणी के फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी में उसका पॉलीग्राफी टेस्ट करीब तीन घंटे तक चला ! इस दौरान उसने विशेषज्ञों को भ्रमित करने की पूरी कोशिश की ! पूछताछ के दौरान वह बार-बार खाँसता रहा और टेस्ट को मैनिपुलेट करने की कोशिश की ! इससे टेस्ट प्रभावित हुआ !

आफताब: कश्चित कापटिक अपराधिन् इव देहली आरक्षकेण सह माइंडगेम क्रीडति ! पॉलीग्राफ अनुसंधानस्य काळम् सः बहुषु प्रश्नेषु सः मूकम् रमेत् तर्हि बहुन् न कृतवान ! केचन प्रश्नेषु तर्हि सः मंद हंसेत् ! सः अनृतापि बहु कांफिडेंस इत्या सह बदेत् ! आरक्षकमपेक्षित साफल्यं न लब्धवान !

आफताब किसी शातिर अपराधी की तरह दिल्ली पुलिस के साथ माइंडगेम खेल रहा है ! पॉलीग्राफ टेस्ट के दौरान वह कई सवालों पर वो चुप रहा तो कई को टाल गया ! कुछ सवालों पर तो वो मुस्कुराता रहा ! वह झूठ भी बेहद कॉन्फिडेंस के साथ बोलता रहा ! पुलिस को अपेक्षित सफलता नहीं मिली !

एकस्य अनुसंधानकर्तायाः कथनमस्ति तत आरोपिन् आफताब: प्रश्नानां प्रथमेव आकलन कर्तुं भविष्यति उत्तरम् दत्तस्य च् तं रिहर्सल इति कर्तुं भविष्यति ! आरोपिन् अनुसंधानस्य रीडिंग इतम् बाधितुं इलेक्ट्रोड स्थापनस्य त्वरितानंतरम् कासितुमारभत् ! सूचनापत्रे कथवान, कासस्य कारणं रीडिंग असाधु अभवत् !

एक जाँचकर्ता का कहना है कि आरोपित आफताब ने प्रश्नों का पहले से ही अनुमान लगाया होगा और उत्तर देने का उसने रिहर्सल किया होगा ! आरोपित ने टेस्ट की रीडिंग को बाधित करने के लिए इलेक्ट्रोड लगाए जाने के तुरंत बाद खांसने लगा ! रिपोर्ट में कहा गया है, खाँसी के कारण रीडिंग खराब हो गई !

वयं इदम् निश्चितं कर्तुं नाशक्नोत तत सः सत्यं कथ्यति स्म परीक्षणे वा हस्तक्षेप करोति स्म ! आरक्षकं बहु प्रयत्नानां अनंतरमपि श्रद्धायाः शवस्य सर्वाणि खंडानि, आरी, श्रद्धायाः शिरम्, श्रद्धायाः मोबाइल तस्या: वस्त्राणि यत् हनस्य काळम् धारिता आसीत् सम्प्रति अपि न लब्धवान !

हम यह तय नहीं कर सके कि वह सच कह रहा था या परीक्षण में हेरफेर कर रहा था ! पुलिस को तमाम कोशिशों के बाद भी श्रद्धा के शव के सभी टुकड़े, आरी, श्रद्धा का सिर, श्रद्धा का मोबाइल और उसके कपड़े जो हत्या के समय पहने थे अब भी नहीं मिले हैं !

देहली आरक्षकस्याशा: सम्प्रति आफताबस्य नार्को अनुसंधानमस्ति ! आफताबस्य नार्को अनुसन्धानम् सोमवासरम् कारीतुं शक्नोति ! ज्ञापयतु तत देहल्या: छतरपुर क्षेत्रे १८ मई २०२२ तमम् श्रद्धा वालकरस्य हननम् क्रियेत् स्म !

दिल्ली पुलिस की उम्मीदें अब आफताब के नार्को टेस्ट है ! आफताब का नार्को टेस्ट सोमवार को कराया जा सकता है ! बता दें कि दिल्ली के छतरपुर इलाके में 18 मई 2022 को श्रद्धा वालकर की हत्‍या कर दी गई थी !

आफताब अमीन: श्रद्धा च् मुम्बैतः अत्रैव वास शुल्कस्य एके भवने लिव इन संबंधे रमितुं प्राप्तवंतौ आस्ताम् ! आफताब: हनस्यानंतरम् श्रद्धायाः गातस्य ३५ खंडानि कृतवान महरौल्या: च् गुरुग्रामस्य मैदान गढ़ी इत्या: वा क्षेत्रेषु क्षिपतुं रमेत् !

आफताब अमीन और श्रद्धा मुंबई से यहीं किराए के एक फ्लैट में लिव इन रिलेशन में रहने पहुँचे थे ! आफताब ने हत्या के बाद श्रद्धा के शरीर के 35 टुकड़े किए और महरौली, गुरुग्राम व मैदानगढ़ी के इलाकों में फेंकता रहा !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

जोधपुरस्य सर्वकारी विद्यालये हिजाब धारणे संलग्ना: छात्रा: ! जोधपुर के सरकारी स्कूल में हिजाब पहनने पर अड़ी छात्राएँ !

राजस्थानस्य जोधपुरे हिजाब इतम् गृहीत्वा प्रश्नं अभवत् ! सर्वकारी विद्यालये छात्रा: हिजाब धारणे गृहीत्वा संलग्नवत्य:, तु तेषां परिजना:...

मेलकम् दर्शनमगच्छन् हिंदू महिला: शमीम: सदरुद्दीन: चताडताम्, उदरे अकुर्वताम् पादघातम् ! मेला देखने गईं हिन्दू महिलाओं को शमीम और सदरुद्दीन ने पीटा, पेट पर...

उत्तरप्रदेशस्य फर्रुखाबाद जनपदे एकः हिंदू युवके, तस्य मातरि भगिन्यां च् घातस्य वार्ता अस्ति ! घातस्यारोपम् शमीमेण सदरुद्दीनेण च्...

हल्द्वानी हिंसायां आहूय-आहूय हिंदू वार्ताहरेषु अभवन् घातम् ! ऑपइंडिया इत्यस्य ग्राउंड सूचनायां रहस्योद्घाटनम् ! हल्द्वानी हिंसा में चुन-चुन कर हिंदू पत्रकारों पर हुआ हमला...

उत्तराखंडस्य हल्द्वानी हिंसायां उत्पातकाः आरक्षक प्रशासनस्यातिरिक्तं घटनायाः रिपोर्टिंग कुर्वन्ति हिंदू वार्ताहरानपि स्वलक्ष्यमकुर्वन् स्म ! ते आहूय-आहूय वार्ताहरेषु घातमकुर्वन्...

हल्द्वान्यां आहतानां सुश्रुषायै अग्रमागतवत् बजरंग दलम् ! हल्द्वानी में घायलों की सेवा के लिए आगे आया बजरंग दल !

हल्द्वान्यां अवैध मदरसा-मस्जिदम् न्यायालयस्य आज्ञायाः अनंतरम् प्रशासनम् धराभीम गृहीत्वा ध्वस्तकर्तुं प्राप्तवत् तु सम्मर्द: उग्राभवन् ! प्रस्तर घातमकुर्वन्, गुलिकाघातमकुर्वन्,...