39.1 C
New Delhi

मुस्लिम संगठनानि न रोचन्ते अजमेर ९२, देशस्य सर्वात् वृहत् सेक्स घटनायां रचितं चलचित्रम् ! मुस्लिम संगठनों को सुहा नहीं रहा अजमेर 92, देश के सबसे बड़े सेक्स कांड पर बनी फिल्म !

Date:

Share post:

९० दशके देशस्य सर्वात् वृहत् सेक्स घटनाम् राजस्थानस्याजमेरे कृतवत् ! अस्मिन् घटनायां आधृतं एकं चलचित्रम् अजमेर ९२ नाम्ना निर्मितमस्ति ! तु मुस्लिम संगठनानि सततं अस्य चलचित्रस्य विरोधम् कुर्वन्ति !

90 के दशक में देश के सबसे बड़े सेक्स कांड को राजस्थान के अजमेर में अंजाम दिया गया ! इस घटना पर आधारित एक फिल्म अजमेर 92 नाम से बनी है ! लेकिन मुस्लिम संगठन लगातार इस फिल्म का विरोध कर रहे हैं !

अजमेर शरीफ दरगाह समित्याः कथनमस्ति तत येन चलचित्रेण एकं विशेष समुदायम् लक्ष्यं कृतस्य प्रयत्नमकरोत् ! यदि चलचित्रतः अजमेर शरीफ दरगाहस्य ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्तिण: चित्रम् क्षतिदत्तस्य प्रयत्नमभवत् तु ते चलचित्रं निर्मातासु विधिक कार्यवहन करिष्यन्ति !

अजमेर शरीफ दरगाह कमेटी का कहना है कि इस फिल्म के जरिए एक खास समुदाय को निशाना बनाने की कोशिश की गई है ! य​दि फिल्म से अजमेर शरीफ दरगाह और ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की छवि को नुकसान पहुँचाने की कोशिश हुई तो वे फिल्म बनाने वालों पर कानूनी कार्रवाई करेंगे !

https://www.facebook.com/syedsarwar.chishty/videos/1306410750293140/?mibextid=sgpPy7WDqP7Hc8ec

यह फेसबुक लिंक भी देखें !

प्रस्तुतेण पूर्वम् चलचित्रं दरगाह समितिम् दर्शयस्य याचनापि कृतवन्तः ! अस्य चलचित्रम् गृहीत्वा इंडिया मुस्लिम फाउंडेशन इत्या: प्रमुख: शोएब जमई अपि एकं ट्वीट कृतवान् !

रिलीज से पहले फिल्म दरगाह कमेटी को दिखाने की माँग भी की गई है ! इस फिल्म को लेकर इंडिया मुस्लिम फाउंडेशन के मुखिया शोएब जमई ने भी एक ट्वीट किया है !

[mashshsre]

अस्मिन् ट्वीते सः अकथयत्, अजमेर दरगाह समित्याः प्रमुख: सैय्यद गुलाम किब्रिया जनरल सेक्रेटरी सरवर चिश्ती सहितं रक्षक समित्याः गोष्ठिम् कृतस्यानंतरमधिकारिक घोषणा कुर्वन्ति तत चलचित्रम् अजमेर ९२ नगरे गठितं एकं आपराधिक घटनामेव सीमितं अस्ति तु अस्माभिः कश्चित संकट: नास्ति !

इस ट्वीट में उन्होंने कहा है, अजमेर दरगाह कमेटी के सदर सैय्यद गुलाम किब्रिया और जनरल सेक्रेटरी सरवर चिश्ती सहित खादिम कमेटी से मीटिंग करने के बाद अधिकारिक घोषणा करते हैं कि फिल्म अजमेर 92 शहर में गठित एक आपराधिक घटना तक सीमित है तो हमें कोई समस्या नहीं है !

तु यदि षड्यंत्रस्यानुरूपम् अजमेर शरीफ दरगाहस्य ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्तिण: चित्रम् क्षतिदत्तस्य प्रयत्नमभवत् तु चलचित्रकर्ताणां विरुद्धम् कार्यवहन भविष्यन्ति ! सहैव देशे शांतिपूर्ण विरोधम् भविष्यति !

लेकिन यदि षड्यंत्र के तहत अजमेर शरीफ दरगाह और ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की छवि को नुकसान पहुँचाने की कोशिश हुई तो फिल्मकारों के खिलाफ कार्रवाई होगी ! साथ ही देश में शांतिपूर्ण विरोध होगा !

तत्रैव दरगाहस्य रक्षकानां संस्था अंजुमन सैयद जागदानस्य जनरल सेक्रेटरी सैयद सरवर चिश्ती फेसबुक इत्या: एकं चलचित्रं प्रस्तुत्वा चलचित्रम् गृहीत्वापत्ति: व्यक्तवान् ! सः अजमेर ९२ इतम् राजनीति हथकंडा इति कथवान् !

वहीं दरगाह के खादिमों की संस्था अंजुमन सैयद जागदान के जनरल सेक्रेटरी सैयद सरवर चिश्ती ने फेसबुक पर एक वीडियो शेयर कर फिल्म को लेकर आपत्ति जताई है ! उन्होंने अजमेर 92 को राजनीति हथकंडा करार दिया !

अकथयत् तत कर्नाटके निर्वाचनमासीत् तु द केरल स्टोरी अरचयत् ! सम्प्रति राजस्थाने निर्वाचनमस्ति तु अजमेर ९२ रचते ! सः अकथयत् तत अस्मिन् चलचित्रे प्रतिबंधम् करणीयम् कुत्रचित् इदम् एकमेव कम्युनिटी इतम् लक्ष्यं करोति !

कहा है कि कर्नाटक में चुनाव था तो द केरल स्टोरी बनाई गई ! अब राजस्थान में चुनाव है तो अजमेर 92 बनाई जा रही है ! उन्होंने कहा कि इस फिल्म पर बैन लगना चाहिए क्योंकि यह एक ही कम्युनिटी को टारगेट करती है !

ज्ञापयतु तत यस्मात् पूर्वं जमीयत उलेमा-ए-हिंद इत्या: प्रमुख: मौलाना महमूद मदनी अपि अकथयत् स्म ततेदम् चलचित्रं अजमेर शरीफ दरगाह इतम् दुर्नामस्योद्देश्येणारचयत् ! अस्मिन् तत्कालम् प्रतिबंधम् करणीयम् !

बता दें कि इससे पहले जमीयत उलेमा-ए-हिंद के प्रमुख मौलाना महमूद मदनी ने भी कहा था कि यह फिल्म अजमेर शरीफ दरगाह को बदनाम करने के उद्देश्य से बनाई गई है ! इस पर तत्काल प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए !

मदनी अकथयत् स्म, आपराधिक घटना: धर्मतः संलग्नस्यापेक्षा यस्य विरुद्धं एकत्रित कार्यवहन कृतस्यावश्यकतास्ति ! वर्तमान काले समाजम् विभज्यस्य कारणम् अंवेषयन्ति ! इदम् चलचित्रं समाजे वैमत्यम् उत्पादितुं करिष्यति !

मदनी ने कहा था, आपराधिक घटनाओं को मजहब से जोड़ने की बजाए इसके खिलाफ एकजुट कार्रवाई करने की जरूरत है ! वर्तमान समय में समाज को विभाजित करने के बहाने खोजे जा रहे हैं ! यह फिल्म समाज में दरार पैदा करेगी !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

पञ्जाबे सर्वाः जी मीडिया चैनल प्रतिबन्धिताः, एषा पत्रिका-स्वातन्त्र्यस्य उपरि आक्रमणं नास्ति वा ? पंजाब में जी मीडिया के सभी चैनल बैन, क्या यह प्रेस...

पञ्जाबे सर्वाः जी न्यूज चैनल प्रतिबन्धिताः सन्ति। चैनल तस्य घोषणा कृता अस्ति ! पञ्जाबे जी-मीडिया इत्यस्य सर्वाः चैनल...

६ जैन साध्व्यः मार्गेण गच्छन्तः आसन्, अल्ताफ् हुसैन् शेखः प्रथमं तान् अनुधावन् ततः पट्ट्या प्रहारं कृतवान् ! सड़क से गुजर रहीं थी 6 जैन...

गुजरातस्य भरूच्-नगरे, अल्ताफ् हुसैन् शेख् नामकः एकः पुरुषः मार्गे गच्छतां जैन साध्वीं आक्रान्तवान्। जैनः साध्वीं आक्रमनात् पूर्वं दीर्घकालं...

फतेहपुरस्य शिव-कवितायो: पुनः गृहागमनस्य कथा ! फतेहपुर के शिव-कविता की घरवापसी की कहानी !

उत्तरप्रदेशस्य फ़तेह्पुर्-नामकस्य उजाड़ेग्रामे, २० वर्षेभ्यः पूर्वं इस्लाम्-मतं स्वीकृत्य वञ्चितः एकः हिन्दु-दम्पती इदानीं हिन्दु-मतं प्रति प्रत्यागतः अस्ति! शिवप्रसादलोधिः, कविता...

वाहिद कुरैशी इत्यनेन मथुरायाः पञ्जाबी बाजार इत्यस्य नाम इस्लामिक बाजार इति परिवर्तितम् ! मथुरा की पंजाबी बाजार के नाम को वाहिद कुरैशी ने बदलकर...

उत्तरप्रदेशस्य मथुरा-जनपदस्य कोसिकलां ग्रामे एकः मुस्लिम्-दुकानदारः विपण्याः नाम परिवर्तितवान्। सः स्वस्य स्थानात् प्रदत्तानां वस्तूनां प्रचारसामग्रीनां च सञ्चिकासु पञ्जाबी-बजार्...