पातकीनां अभ्यांतरम् आगतवान योगिस्य आरक्षकस्य भयम् ! मुजरिमों के अंदर आया योगी की पुलिस का डर !

0
229

उत्तर प्रदेशम् आरक्षकात् सम्प्रति पातकीनि भयं भव्यते एतौ द्वय घटनाभ्यां अवगतम् भवित्वा अज्ञायत् !

उत्तर प्रदेश पुलिस से अब अपराधियों को डर लगने लगा है इन दो घटनाओं से अवगत होकर जानें !

१. उत्तर प्रदेशस्य संभलेन अद्भुत दृश्यम् सम्मुखम् आगतवान ! अत्र १५००० रूप्यकस्य पारितोषिकम् पातकीम् न स्वयम् थाने इति आगत्वा स्वाधिगृहीतं करोति, अपितु स्व कण्ठे एकम् पट्टिकापि धारयते ! इति पट्टिके अलिखत् अहम् असाधु कार्यम् कृतवान ! मया संभल आरक्षकेन विभेति ! अहम् स्व अपराधम् स्वीकरोमि ! अहम् पातकीमस्मि आत्मसमर्पणं करोमि च् ! मया गोलिका मा अप्रहारयत् !

1.उत्तर प्रदेश के संभल से अजीब नजारा सामने आया है ! यहां 15000 रुपए का इनामी बदमाश न स्वयं थाने आकर सरेंडर करता है, बल्कि अपने गले में एक तख्ती भी डाले होता है ! इस तख्ती पर लिखा है ‘मैंने गलत काम किया है। मुझे संभल पुलिस से डर लगता है ! मैं अपनी गलती स्वीकार करता हूँ ! मैं अपराधी हूँ और आत्मसर्मपण कर रहा हूँ ! मुझे गोली मत मारो !

साभार ani
साभार ani
साभार ani

संभल अरकक्षम् ट्वीत कृत अकथयत् दस्यु विधे वांछित १५००० रूप्यकस्य पारितोषिकम् दस्यु अद्य दिनांक २७.०९.२०२० तमम् थाना नखासा इते स्वयम् आगत्वा कण्ठे आत्मसमर्पणस्य पट्टिका धारयित्वा आत्मसमर्पणम् अकरोत् !

संभल पुलिस ने ट्वीट कर कहा गैंगस्टर एक्ट में वांछित 15,000 रुपए के इनामी बदमाश ने आज दिनांक 27.09.2020 को थाना नखासा पर स्वयं चलकर गले में आत्मसमर्पण की तख्ती डालकर आत्मसमर्पण किया !

स्व अधिगृहितं थाने इति प्राप्तम् नईम: आरक्षकस्य सम्मुखम् पादयो पतित्वा अनुनी कृत: कथ्यते च् तत महोदय मह्यं गोलिका मा प्रहारयते अस्माकं लघु लघु शिशुनि सन्ति ! अहम् तर्हि फलम् विक्रियित्वा स्व कुटुम्बस्य भरणं पोषणं करोमि ! कश्चित अपराधम् अभवत् तर्हि तस्मै मह्यं क्षमाम् कृतवान ! यदा सः आत्मसमर्पणाय अप्राप्तम् तर्हि सम्मर्द: एकत्रम् अभवत् ! आरक्षकम् तेन गोलिका न प्रहारस्य आश्वासनम् अददात् थाने इते च् ग्रहीत्वा गतवान !

सरेंडर करने थाने पहुंचा नईम पुलिस के सामने पैरों में गिरकर गिड़गिड़ाने लगा और कहने लगा कि बाबू जी मुझे गोली मत मारना, मेरे छोटे-छोटे बच्चे हैं ! मैं तो फल बेचकर अपने परिवार का गुजारा कर रहा हूँ ! कोई गलती हुई है तो उसके लिए मुझे माफ कर दो ! जब वह आत्मसर्मपण के लिए पहुंचा तो भीड़ एकत्र हो गई ! पुलिस ने उसे गोली न मारने का आश्वासन दिया और थाने में पकड़ कर ले गई !

संभलस्य आरक्षक अधीक्षकम् अकथयत् जनपद संभले पातकीनां विरुद्धम् कार्यवाहिम् सततं निरन्तरति ! इति क्रमे दस्यु विधे वंछितम् पातकीम् नईम: अस्ति, इति थाने इते सम्पर्कम् अकरोत् ! पातकीनां धनस्य अधिगृहीतस्य कार्यवाहिम् प्रचलते स्म ! अस्य भयेन एतत थाने इते आगत्वा आत्मसमर्पणम् अकरोत् !

संभल के एसपी ने कहा जनपद संभल में अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई लगातार जारी है। इसी क्रम में गैंगस्टर एक्ट में वांछित अपराधी जो नईम है, इसने थाने में संपर्क किया ! अपराधियों की संपत्ति की कुर्की की कार्रवाई चल रही थी ! इसी के डर से इसने थाने में आकर आत्मसर्मपण किया !

२. रविवासरम् प्रातः लगभगम् ६:३० बादन काले प्रदेशे लक्ष्मणपुरम् आरक्षकस्य एकम् कार इत्यस्य प्रलोठनेन एकम् वांछित दस्युस्य निधनम् अभवत् ! दुर्घटनायाम् त्रय आरक्षकेन सह चत्वारि क्षतिग्रस्तम् अभवत् ! इयम् दुर्घटना मध्यप्रदेशस्य गुना जनपदे NH-२६ राष्ट्रीय दीर्घ मार्गे अभवत् ! लक्ष्मण नगरम् आरक्षक: मुम्बईयात् पातकीम् फिरोज अली: अर्थतः शम्मीम् अधिगृहितं पुनरागच्छते स्म ! कार इति सुलभ मिश्रेन गत्वरीकृतये स्म !

२. रविवार सुबह करीब 6:30 बजे मध्य प्रदेश में लखनऊ पुलिस की एक कार के पलट जाने से एक वांछित गैंगस्टर की मौत हो गई ! हादसे में तीन पुलिस कर्मियों सहित चार घायल हो गए ! यह दुर्घटना मध्य प्रदेश के गुना जिले में NH-26 नेशनल हाईवे पर हुई। लखनऊ पुलिस मुंबई से अपराधी फिरोज अली उर्फ शम्मी को दबोच कर वापस लौट रही थी। कार सुलभ मिश्रा द्वारा चलाई जा रही थी !

साभार गूगल

एकम् अधिकारिम् अकथयत् तत लक्ष्मण नगरस्य ठाकुर गंज पुलिस स्टेशन इति नियुक्त असिस्टेंट सबइंस्पेक्टर जगदीश प्रसाद पांडे: इति आरक्षक संजीव सिंह: च् आरोपिस्य अन्वेषणे एकम् निजी वाहनेन मुम्बईम् गतवान स्म ! ते तेन अधिगृहीत कृतस्य तदुपरांत लक्ष्मण नगराय प्रस्थितवान !

एक अधिकारी ने कहा कि लखनऊ के ठाकुरगंज पुलिस स्टेशन में तैनात असिस्टेंट सबइंस्पेक्टर जगदीश प्रसाद पांडे और कांस्टेबल संजीव सिंह आरोपी की तलाश में एक निजी वाहन से मुंबई गए थे ! पुलिस ने फिरोज अली को शनिवार को मुंबई के नाला सोपारा में एक झुग्गी से पकड़ लिया ! वे उसे गिरफ्तार करने के तुरंत बाद लखनऊ के लिए रवाना हो गए !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here