24.1 C
New Delhi

विद्यालये राम-राम इति कथने प्रधानाचार्य: दत्तवान् भगिन्या: कुवच:, प्रधानाचार्ये कार्यवहनम् कदा ? स्कूल में राम-राम बोलने पर प्रिंसिपल ने दी बहन की गाली, प्रिंसिपल पर कार्रवाई कब ?

Date:

Share post:

उत्तर प्रदेशस्य हाथरस जनपदे एकस्य विद्यालयस्याभ्यांतरम् राम-राम इति कथने एकं छात्रम् प्रताड़ितस्य प्रकरणम् संमुखमागतवत् ! आरोपमस्ति तत प्रधानाचार्य: पूर्वम् छात्रम् अनंतरे च् तस्य परिजनान् कुवच: दत्तवान् !

उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में एक स्कूल के अंदर अपने टीचर को राम-राम बोलने पर एक छात्र को प्रताड़ित करने का मामला सामने आया है ! आरोप है कि प्रिंसिपल ने पहले छात्र और बाद में उनके परिजनों को गालियाँ दीं !

हिंदू संगठनानि विद्यालयस्याग्रम् प्रदर्शनम् अकुर्वन् प्रकरणे च् सम्मिलिता: सर्वेषु आरोपिसु दृढ़ कार्यवहनस्य याचनाकुर्वन् ! सद्य: मोहम्मद अदनान नाम्नः शिक्षकम् कार्यमुक्त: कृतवान् ! विद्यालय प्रशासनमस्मिन् प्रकरणे लिखित क्षमा पत्रमपि निर्गतवत् !

हिन्दू संगठनों ने स्कूल के आगे प्रदर्शन किया और मामले में शामिल सभी आरोपितों पर कड़ी कार्रवाई की माँग की ! फिलहाल मोहम्मद अदनान नाम के एक टीचर को बर्खास्त कर दिया गया है ! स्कूल प्रशासन ने इस मामले में लिखित माफीनामा भी जारी किया है !

कलहम् साईमा मंसूर पब्लिक विद्यालयस्य, यत् अलीगढ़स्य नुरुल उलूम एजुकेशन सोसाइटी इत्या संचालिते ! घटना शुक्रवासरस्य (८ दिसंबर २०२३) ज्ञाप्यते ! इदम् प्रकरणम् हाथरस जनपदस्य चंदपारक्षि स्थानस्य !

विवाद साईमा मंसूर पब्लिक स्कूल का है, जो कि अलीगढ़ की नूरुल उलूम एजुकेशन सोसाइटी द्वारा संचालित किया जाता है ! घटना शुक्रवार (8 दिसंबर 2023) की बताई जा रही है ! यह मामला हाथरस जिले के चंदपा थानाक्षेत्र का है !

८ दिसंबर २०२३ तमम् विद्यालयस्य द्वारतः एकस्य छात्रस्य भ्रातु: चलचित्रम् सोशल मीडिया इत्यां प्रसरत् ! प्रसृते चलचित्रे स्वम् गजेंद्र सिंह सिसोदिया ज्ञापयति जनः साईमा मंसूर पब्लिक विद्यालयस्य द्वारे स्थितुमपश्यत् ! गजेंद्र: ज्ञाप्तवान् तत तस्य भ्रात स्वे कक्षायां पाठितुं आगतवान् शिक्षकतः राम-राम इति अकथयत् स्म !

8 दिसंबर 2023 को स्कूल के गेट से एक छात्र के भाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ ! वायरल वीडियो में खुद को गजेंद्र सिंह सिसोदिया बता रहा व्यक्ति साईमा मंसूर पब्लिक स्कूल के गेट पर खड़ा दिखाई दिया ! गजेंद्र ने बताया कि उनके भाई ने अपनी क्लास में पढ़ाने आए टीचर से राम-राम कह दी थी !

शिक्षक: यस्मिन् कश्चित उत्तरम् न दत्तवान् तः च् कक्षा संपादनस्यानंतरम् गतवान् ! शिक्षकस्य नाम मोहम्मद अदनान: इति ज्ञाप्यते, आरोपम् अस्ति तत शिक्षक: यं वार्ताम् गृहीत्वा प्रधानाचार्य: सलमान किदवईतः अपवादम् अकरोत् ! गजेंद्र सिसोदियायाः आरोपमस्ति तत शिक्षक: मोहम्मद अदनानस्यापवादस्यानंतरम् प्रधानाचार्य: किदवाई कक्षायां आगतवान् !

टीचर ने इस पर कोई जवाब नहीं दिया और वो क्लास खत्म होने के बाद चला गया ! टीचर का नाम मोहम्म्द अदनान बताया जा रहा है, आरोप है कि टीचर ने इस बात को लेकर प्रिंसिपल सलमान किदवई से शिकायत की ! गजेंद्र सिसोदिया का आरोप है कि टीचर मोहम्म्द अदनान की शिकायत के बाद प्रिंसिपल सलमान किदवाई क्लास में आए !

यस्यानंतरं कक्षायां सलमान किदवाई अकथयत् इदम् किं मलिनता प्रसारसि ! इदम् किं विष्ठा इव गृहीत्वा राम-राम इति करोषि ! बहन#द अहम् अलीगढ़तः शिक्षक: आहूय-आहूयानयामि त्वम् चत्र मलिनता प्रसारसि ! कश्चितापि अत्र राम-राम इति न कथिष्यति ! गजेंद्रस्य दृढ़कथनं तत विद्यालये सलाम वाले कुम नमस्ते इत्यैव च् कर्तुं कथ्यते !

इसके बाद क्लास में सलमान किदवाई ने कहा, ये क्या गंदगी फैला रहे हो ! ये क्या टट्टी सा मुँह लेकर राम-राम कर देते हो ! बहन#द हम अलीगढ़ से टीचर बुला-बुला कर ला रहे हैं और तुम यहाँ गंदगी फैला रहे हो ! कोई भी यहाँ राम-राम वैगरह नहीं कहेगा ! गजेंद्र का दावा है कि स्कूल में सलाम वाले कुम और नमस्ते ही करने के लिए कहा जाता है !

गजेंद्रस्यानुसारम् पीड़ित छात्र: कक्षा एकादशे पठति ! गजेंद्र: ज्ञाप्तवान् तत यदा तः यस्य अपवादम् कर्तुं गतवान् तदा तं नुदित्वा निःसृतवान् ! यं काळम् सिक्योरिटी गार्ड इत्यां अपि आरोपमस्ति तत तं पीड़ित अभिभावकम् कुवचा: दत्तनकथयत् तत राम-राम इति किमर्थमस्ति ?

गजेंद्र के अनुसार पीड़ित छात्र कक्षा 11 में पढ़ता है ! गजेंद्र ने बताया कि जब वो इसकी शिकायत करने गए तो उनको धक्के मार कर निकाल दिया गया ! इस दौरान सिक्योरिटी गार्ड पर भी आरोप है कि उसने पीड़ित अभिभावक को गालियाँ देते हुए कहा कि राम-राम क्या मतलब है ?

शुक्रवासरमस्य प्रकरणस्य चलचित्रम् प्रसरणस्य अनंतरम् हाथरसस्य हिंदू संगठनेषु खिन्नता अप्रसरत् ! शनिवासरम् (९ दिसंबर) बहूनां हिंदू संगठनानां पदाधिकारिनः साईमा मंसूर पब्लिक विद्यालयस्य द्वारे एकत्रिताः अभवन् ! ते तत्र हनुमान चालीसा इति अपठन् जय श्री राम इत्या: च् उद्घोषानि अकुर्वन् !

शुक्रवार को इस मामले का वीडियो वायरल होने के बाद हाथरस के हिन्दू संगठनों में नाराजगी फैल गई ! शनिवार (9 दिसंबर) को तमाम हिन्दू संगठन के पदाधिकारी साईमा मंसूर पब्लिक स्कूल के गेट पर जमा हो गए ! उन्होंने वहाँ हनुमान चालीसा पढ़ी और जय श्री राम के नारे लगाए !

प्रकरणस्याभिज्ञानम् ळब्धैव आरक्षकः अवसरे प्राप्तवान् स्थितिम् च् नियंत्रितवान् ! हिंदू संगठनस्य जनाः विद्यालय प्रधानाचार्ये आरोपिन् शिक्षके च् कार्यवहनस्य याचना कुर्वन्ति ! तत्रैव जनपदप्रशासनम् प्रकरणस्य गम्भीर्यतां दर्शन् एकस्यानुसंधान दलस्य गठन कृतवत् !

मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुँची और हालात को संभाला ! हिन्दू संगठन के लोग स्कूल प्रिंसिपल और आरोपित टीचर पर कार्रवाई की माँग कर रहे हैं ! वहीं जिला प्रशासन ने मामले की गंभीरता को देखते हुए एक जाँच दल का गठन कर दिया है !

यैव काळम् विद्यालय प्रधानाचार्य: सलमान किदवाई मीडिया इतम् ज्ञाप्तवान् तत राम-राम इत्या: अभिवादने आपत्तिकर्ता शिक्षक: मोहम्मद अदनानम् दासतायाः निःसृतवान् ! सहैव सः ३० वर्षतः चलति साईमा मंसूर पब्लिक विद्यालयस्य प्रशंसन् तत्रस्य स्थितिम् धर्मनिरपेक्ष इति ज्ञाप्तवान् !

इसी दौरान स्कूल प्रिंसिपल सलमान किदवई ने मीडिया को बताया कि राम-राम के अभिवादन पर आपत्ति जताने वाले टीचर मोहम्मद अदनान को नौकरी से निकाल दिया गया है ! साथ ही उन्होंने 30 साल से चल रहे साईमा मंसूर पब्लिक स्कूल की तारीफ में कसीदे गढ़ते हुए वहाँ का माहौल धर्म निरपेक्ष बताया !

विद्यालय प्रशासनम् स्वानृतता स्वीकृतन् लिखित क्षमापत्रमपि निर्गत कृतवत् ! अस्मिन् क्षमापत्रे पुनः इदृशमेव कृत्यं न कृतस्य विश्वास: अपि दत्तवत् ! ज्ञापयतु तत साईमा मंसूर पब्लिक विद्यालय मूलतः अलीगढ़स्य नुरुल उलूम एजुकेशन सोसाइटी इत्या संचालिते !

स्कूल प्रशासन ने अपनी गलती मानते हुए लिखित माफीनामा भी जारी किया है ! इस माफीनामे में दोबारा ऐसी हरकत न करने का भरोसा भी दिया गया है ! बता दें कि साईमा मंसूर पब्लिक स्कूल मूलतः अलीगढ़ की नूरुल उलूम एजुकेशन सोसाइटी द्वारा संचालित किया जाता है !

बालकान् शिक्षणस्य दृढ़कथनम् कर्ता नुरुल उलूम एजुकेशन सोसाइटी इत्या: अध्यक्ष: नसीम अहमद:, उपाध्यक्ष: सनाउल्लाह खान: सचिव: च् नफीस अहमद: सन्ति ! अस्य संस्थानस्य रजिस्ट्रेशन जनवरी १९९८ तमे अभवत् स्म !

बच्चों को शिक्षा देने का दावा करने वाली नूरुल उलूम एजुकेशन सोसाइटी के अध्यक्ष नसीम अहमद, उपाध्यक्ष सनाउल्लाह खान और सचिव नफीस अहमद हैं ! इस संस्थान का रजिस्ट्रेशन जनवरी 1998 में हुआ था !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

अवयस्का हिंदू बालिकामताडयत्, अलिहत् स्व ष्ठीव्, मोहम्मद मुश्ताक: बंधनम् ! नाबालिग हिन्दू बच्ची को मारा, चटवाया अपना थूक, मोहम्मद मुश्ताक गिरफ्तार !

बिहारस्य पूर्णियायां एकावयस्का हिंदू बालिकां ष्ठीव् लिहस्य प्रकरणम् संमुखमगच्छत् ! आरोपं अस्ति तत बालिकया: स्तंम्भे निबध्य ताडनमपि अकरोत्...

जोधपुरस्य सर्वकारी विद्यालये हिजाब धारणे संलग्ना: छात्रा: ! जोधपुर के सरकारी स्कूल में हिजाब पहनने पर अड़ी छात्राएँ !

राजस्थानस्य जोधपुरे हिजाब इतम् गृहीत्वा प्रश्नं अभवत् ! सर्वकारी विद्यालये छात्रा: हिजाब धारणे गृहीत्वा संलग्नवत्य:, तु तेषां परिजना:...

मेलकम् दर्शनमगच्छन् हिंदू महिला: शमीम: सदरुद्दीन: चताडताम्, उदरे अकुर्वताम् पादघातम् ! मेला देखने गईं हिन्दू महिलाओं को शमीम और सदरुद्दीन ने पीटा, पेट पर...

उत्तरप्रदेशस्य फर्रुखाबाद जनपदे एकः हिंदू युवके, तस्य मातरि भगिन्यां च् घातस्य वार्ता अस्ति ! घातस्यारोपम् शमीमेण सदरुद्दीनेण च्...

हल्द्वानी हिंसायां आहूय-आहूय हिंदू वार्ताहरेषु अभवन् घातम् ! ऑपइंडिया इत्यस्य ग्राउंड सूचनायां रहस्योद्घाटनम् ! हल्द्वानी हिंसा में चुन-चुन कर हिंदू पत्रकारों पर हुआ हमला...

उत्तराखंडस्य हल्द्वानी हिंसायां उत्पातकाः आरक्षक प्रशासनस्यातिरिक्तं घटनायाः रिपोर्टिंग कुर्वन्ति हिंदू वार्ताहरानपि स्वलक्ष्यमकुर्वन् स्म ! ते आहूय-आहूय वार्ताहरेषु घातमकुर्वन्...