28.1 C
New Delhi

वयं ग्रामस्यैकल: क्षत्रिय:, ताः इच्छन्ति वयं त्यजित्वा गच्छाम ! मुस्लिम आतंकम् ! हम गाँव के अकेले क्षत्रिय, वो चाहते हैं हम छोड़ कर चले जाएँ ! मुस्लिम आतंक !

Date:

Share post:

फोटो लेख साभार आप इंडिया

फोटो में मुस्लिम नेता

उत्तर प्रदेशस्य हरदोई जनपदे मशाल सिंह: नाम्नः जनस्य गृहे मुस्लिम समुदायस्यानुमानतः ३० अवस्कन्दिनां सम्मर्द: घातम् कृतवंत: ! घातस्य काळम् दंडानि अचलन् प्रस्तरघातम् अकुर्वन् ! अस्मिन् घाते मशालस्य कुटुंबतः ५ जनाः आहत: अभवन् !

उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में मशाल सिंह नाम के व्यक्ति के घर पर मुस्लिम समुदाय के लगभग 30 हमलावरों की भीड़ ने हमला किया है ! हमले के दौरान लाठी-डंडे चलाए गए और पत्थरबाजी की गई ! इस हमले में मशाल के परिवार से 5 लोग घायल हो गए हैं !

आहतेषू एका महिलापि सम्मिलिता: सन्ति ! आरक्षकः अभियोगं पंजीकृत्वान्वेषणमारभत् ! पीड़ित कुटुंबमारक्षके आरोपिणां विरुद्धम् क्षीण कार्यवहनस्यारोपमारोप्यत् ! घटना रविवासरस्य (५ फरवरी, २०२३) अस्ति ! प्रकरण हरदोई जनपदस्य मझिलारक्षिस्थान क्षेत्रस्यास्ति !

घायलों में एक महिला भी शामिल है ! पुलिस ने केस दर्ज करके जाँच शुरू कर दी है ! पीड़ित परिवार ने पुलिस पर आरोपितों के खिलाफ लचर कार्रवाई का आरोप लगाया है ! घटना रविवार (5 फरवरी, 2023) की है ! मामला हरदोई जिले के मझिला थानाक्षेत्र का है !

अस्मिन् प्रकरणे अपवादकर्ता मशाल सिंह: अस्ति ! मशाल सिंह: आरक्षकमपवाद दत्तन् ज्ञाप्तवान् तत घटनायाः दिवसं ५ फरवरी मासम् तः कृषिक्षेत्रभिः स्वगृहम् प्रति आगच्छति स्म् ! इति काळम् असीर अहमद:, नबी अहमद:, पप्पू खां, गुड्डू खां, छुट्टन खां, अरशद: रजी अहमद: च् मार्गे घातकृत्वातिष्ठन् स्म् !

इस मामले में शिकायतकर्ता मशाल सिंह हैं ! मशाल सिंह ने पुलिस को शिकायत देते हुए बताया है कि घटना के दिन 5 फरवरी को वो खेतों से अपने घर की तरफ आ रहे थे ! इस दौरान असीर अहमद, नबी अहमद, पप्पू खाँ, गुड्डू खाँ, पुत्तन खाँ, छुट्ट्न खाँ, अरशद और रजी अहमद रास्ते में घात लगाए बैठे थे !

अपवादस्यानुरूपम् यथैव मशाल सिंह: मार्गतः निःसृतं तदैव तस्मिन् दंडै: घातम् कृतवंत: ! येन घातेन स्वम् रक्षन् मशाल सिंह: गृहम् प्रति अपलायत् ! अवस्कन्दिषु असीर अहमद ग्रामस्य प्रधान ज्ञाप्यते !

शिकायत के मुताबिक जैसे ही मशाल सिंह रास्ते से गुजरे वैसे ही उन पर लाठी-डंडों से हमला कर दिया गया ! इस हमले से खुद को बचाते हुए मशाल सिंह घर की तरफ भागे ! हमलावरों में असीर अहमद गाँव का प्रधान बताया जा रहा है !

अपवादे ज्ञाप्तवान् तत मशाल सिंहम् गृहम् प्रति पलायितः दर्शित्वा सर्वा: आरोपिनः २५ अन्य अज्ञातावस्कन्दिभि: सह पीड़ितस्य गृहे घातम् कृतवंत: ! आरोपमस्ति तत सर्वा: अवस्कन्दिन: मशाल सिंहस्य गृहे अविशन् गृहस्य सदस्यै: च् समाघातम् कर्तुमारभन् !

शिकायत में बताया गया है कि मशाल सिंह को घर की तरफ भागते देख कर सभी आरोपितों ने 25 अन्य अज्ञात हमलावरों के साथ पीड़ित के घर पर धावा बोल दिया ! आरोप है कि सभी हमलावर मशाल सिंह के घर में घुस गए और घर के सदस्यों से मारपीट करने लगे !

अवस्कन्दिभि: दंडै: सहाधिकृत शस्त्राणि अपि प्रयुज्यस्यारोपमस्ति ! अस्मिन् घाते विवेक सिंहेण, मान सिंहेण, शिवम सिंहेण सह लक्ष्मी सिंह नाम्नः एका माहिलाहताभवत् ! मशाल सिंहस्यानुसारम् अवस्कन्दिन: तस्य गृहस्य त्रीणि मोटर साइकिल इत्यानि अपि असाधु रूपेण क्षतिग्रस्तम् कृतवंत: !

हमलावरों द्वारा लाठी-डंडों के साथ लाईसेंसी बंदूकें और तमंचे भी प्रयोग करने का आरोप है ! इस हमले में विवेक सिंह, मान सिंह, शिवम सिंह के साथ लक्ष्मी सिंह नाम की एक महिला घायल हो गई ! मशाल सिंह के अनुसार हमलावरों ने उनके घर की 3 मोटरसाईकिलों को भी बुरी तरह से तहस-नहस कर दिया है !

पीड़ितस्य कथनमस्ति तत ग्रामे दीर्घस्वरम् भूतस्यानंतरमारोपिनः तस्य कुटुंबीजनान् त्यजित्वा पुनः गतवंत: ! आरोपमस्ति गच्छति- गच्छति अवस्कन्दिन: पीड़ित कुटुंबम् परिणाम लब्धस्यापि भर्त्सकः दत्तवन्तः ! आरक्षक: अस्मिन् प्रकरणे ८ नाम सहितं २५ अज्ञात अवस्कन्दिषु प्राथमिकी पंजीकृतमस्ति !

पीड़ित का कहना है कि गाँव में शोर-शराबा मचने के बाद आरोपित उनके घर वालों को छोड़ कर वापस लौटे ! आरोप है कि जाते-जाते हमलावरों ने पीड़ित परिवार को परिणाम भुगतने की भी धमकी दी ! पुलिस ने इस मामले में 8 नामजदों सहित 25 अज्ञात हमलावरों पर FIR दर्ज की है !

आरोपिषु आईपीसी इत्या: धारा १४७, १४८, १४९, ३२३, ४२७, ४५२, ५०४ चनुरूपम् अभियोगं पंजीकृतवान् ! अस्य घातस्य चलचित्रं अपि सोशल मीडिया इत्यां तीव्रताया प्रसृतं भवति ! प्रसृतं चलचित्रे अवस्कन्दिनः प्रस्तर घातकर्तुं दृश्यन्ते ! ऑप इंडिया पीड़ित मशाल सिंहतः वार्ता कृतवान् !

आरोपितों पर IPC की धारा 147, 148, 149, 323, 427, 452, और 504 के तहत केस दर्ज किया गया है ! इस हमले का वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है ! वायरल वीडियो में हमलावर पत्थरबाजी करते दिखाई दे रहे हैं ! ऑपइंडिया ने पीड़ित मशाल सिंह से बात की !

आरक्षकस्य कार्यवहने असंतोषव्यक्तन् मशाल सिंह: ज्ञाप्तवान् ततारक्षकः २ आरोपिणौ बंधनं कृत्वावमोचत् ! मशाल सिंहस्यानुरूपम् तस्य गृहे आरक्षक: दृष्टिम् धृतवान् तु अधुनैव एकः अपि अवस्कन्दिन् न बन्धनम् कृतवान् !

पुलिस की कार्रवाई पर असंतोष जताते हुए मशाल सिंह ने बताया कि पुलिस ने 2 आरोपितों को पकड़ कर छोड़ दिया ! मशाल सिंह के मुताबिक उनके घर पर पुलिस का पहरा बिठा दिया गया है लेकिन अभी तक एक भी हमलावर पकड़ा नहीं गया !

घातस्य कारणं पृच्छने मशाल सिंह: ज्ञाप्तवान् तत तस्य गृहे २०% हिंदवः ८०% च् मुस्लिमा: सन्ति मुस्लिमा: च् इच्छन्ति तत ग्रामस्य केवलं क्षत्रिय कुटुंब भूतस्य कारणं वयं ग्रामम् त्यजित्वा गच्छेत् ! मशाल सिंह: दृढ़कथनम् कृतवान् तत ग्रामस्यावशेषमन्य ओबीसी एससी वा समुदायस्य जनाः अपि आगत दिवसानि प्रताड़ितं भवितुं रमन्ति !

हमले की वजह पूछने पर मशाल सिंह ने बताया कि उनके गाँव में 20% हिन्दू और 80% मुस्लिम हैं और मुस्लिम चाहते हैं कि गाँव का एकमात्र क्षत्रिय परिवार होने के नाते हम गाँव छोड़ कर चले जाएँ ! मशाल सिंह ने दावा किया कि गाँव के बचे-खुचे अन्य OBC व SC समुदाय के लोग भी मुस्लिमों से आए दिन प्रताड़ित होते रहते हैं !

पीड़ित: दृढ़कथनम् कृतवान् तत तस्य ग्रामे ३० वर्षेषु मुस्लिम जनसंख्या तीव्रताया बर्धवान् ! तस्य कथनमासीत् तत बहिः तः जनाः कुत्रतः कीदृशं चागत्य वसेतयम् कश्चित न ज्ञायन्ति ! मशालस्यानुरूपम् गृहव्यवस्था चालितुं सः ट्रक क्रीतवान् !

पीड़ित ने दावा किया कि उनके गाँव में लगभग 30 वर्षों में मुस्लिम आबादी तेजी से बढ़ी है ! उनका कहना था कि बाहर से लोग कहाँ से और कैसे आकर बस गए ये कोई नहीं जानता है ! मशाल के मुताबिक घर की रोजी-रोटी चलाने के लिए उन्होंने ट्रक खरीद रखी है !

येन ग्रामे आनये तस्याग्रम् कुक्कुटा: हतुं अवमुक्तयन्ति ! आरोपमस्ति ततानंतरे बहु बर्धित्वा कुक्कुटानां मूल्याणि नयन्ति ! मया वार्तालापस्य काळम् मशाल सिंह: हरदोई इत्या: सहवासिन् जनपद सीतापुरे स्वाहत परिजनस्य सुश्रुषा कारयति स्म् !

जिसे गाँव में लाने पर उसके आगे मुर्गियाँ कुचल जाने के लिए छोड़ दी जाती हैं ! आरोप है कि बाद में कई गुना बढ़ा कर मुर्गियों के दाम वसूले जाते हैं ! हमसे बातचीत के दौरान मशाल सिंह हरदोई के पड़ोसी जिले सीतापुर में अपने घायल परिजन का इलाज करवा रहे थे !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

फैजान:, जिशानः, फिरोज: च् एकः वृद्ध आरएसएस कार्यकर्तारं अघ्नन् ! फैजान, जीशान और फिरोज ने बुजुर्ग RSS कार्यकर्ता को मार डाला !

राजस्थानस्य देवालयं प्रति गच्छन् एकः 65 वर्षीयः वृद्धस्य वध: अकरोत् । पूर्वं मृत्युः रोगेण अभवत् इति मन्यन्ते स्म,...

हिंदू बालिका मुस्लिम बालकः च् विवाहः अवैधः मध्यप्रदेशस्य उच्चन्यायालयः ! हिंदू लड़की और मुस्लिम लड़का शादी वैध नहीं-मध्यप्रदेश हाईकोर्ट !

मध्यप्रदेशस्य उच्चन्यायालयेन उक्तम् अस्ति यत् मुस्लिम्-बालकस्य हिन्दु-बालिकायाः च विवाहः मुस्लिम्-विधिना वैधविवाहः नास्ति इति। न्यायालयेन विशेषविवाह-अधिनियमेन अन्तर्धार्मिकविवाहेभ्यः आरक्षकाणां संरक्षणस्य...

भारतं अस्माकं भ्राता अस्ति, पाकिस्तानः अस्माकं शत्रुः अस्ति-अफगानी वृद्ध: ! भारत हमारा भाई, पाकिस्तान दुश्मन-अफगानी बुजुर्ग !

सहवासिन् पाकिस्तान-देशः न केवलं भारतस्य, अपितु अफ्गानिस्तान्-देशस्य च प्रतिवेशिनी अस्ति। अफ़्घानिस्तानस्य जनाः पाकिस्तानं न रोचन्ते। अफ्गानिस्तान्-देशे भयोत्पादनस्य प्रसारकानां...

बृजभूषण शरण सिंहस्य पुत्रस्य यात्रावाहनस्य फार्च्यूनर् इत्यनेन 2 बालकाः मृताः। बृजभूषण शरण सिंह के बेटे के काफिले में शामिल फॉर्च्यूनर से कुचल कर 2...

उत्तरप्रदेशस्य कैसरगञ्ज्-नगरे भाजप-अभ्यर्थी करणभूषणसिङ्घस्य यात्रावाहनस्य फार्च्यूनर् इत्यनेन 3 बालकाः धाविताः। अस्मिन् दुर्घटनायां 2 जनाः तत्स्थाने एव मृताः, अन्ये...