25.1 C
New Delhi
Sunday, October 24, 2021

अंततः किमासीत् गुरु शिष्ये कलहम् ? किं आनंद गिरिणा खिन्नमासीत् नरेंद्र गिरी ? आखिर क्यों था गुरु शिष्य में विवाद ? क्यों आनंद गिरी से नाराज थे नरेंद्र गिरी ?

Must read

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषदस्याध्यक्ष: महंत नरेंद्र गिरिण: कथित आत्महननस्य प्रकरणे आरक्षकः तस्य शिष्य आनंद गिरिम् बंधने नीत: !

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी की कथित आत्महत्या के मामले में पुलिस ने उनके शिष्य आनंद गिरी को हिरासत में लिया है !

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार: ज्ञापित: तत आनंद गिरिण: विरुद्धम् भारतीय विधिसंगतस्य धारा ३०६ इतस्यानुरूपमभियोगम् पंजीकृतं, यस्य नाम महंत नरेंद्र गिरिण: निधनस्य प्रकरणे आत्महनन लेखे अप्यस्ति ! अन्वेषणम् भवति !

ADG लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि आनंद गिरी के खिलाफ आईपीसी की धारा 306 के तहत मामला दर्ज किया गया है, जिसका नाम महंत नरेंद्र गिरी की मौत के मामले में सुसाइड नोट में भी है ! जांच की जा रही है !

आनंद गिरिम् तैव दिवसम् आरक्षकः बंधने नीत: स्म ! भवन्तः अवगम्यतुम् भविष्यन्ति तत येन आनंद गिरिम् आरक्षकः नरेंद्र गिरिण: निधनस्य प्रकरणे बंधने नीत:, तस्य नरेंद्र गिरिणा सह कलहम् किमासीत् !

आनंद गिरी को उसी दिन पुलिस हिरासत में लिया गया था ! आपको समझना होगा कि जिस आनंद गिरी को पुलिस ने नरेंद्र गिरी की मौत के मामले में हिरासत में लिया है, उसका नरेंद्र गिरी के साथ विवाद क्या था !

आनंद गिर्यो आरोपमारोपणे खिन्नमासीत् नरेंद्र गिरी सिडनी भ्रमणस्य काळम् आनंद गिर्यो आरोपित: स्म आरोपम्, केचन बालिकाभि: अमर्यादित व्यवहारस्य आरोपम्, आनंद: अत्याधुनिक संतस्य रूपे परिचयं निर्मयति स्म, विदेश भ्रमणस्य काळम् अत्याधुनिक चित्राणि चित्रांकनम् करोति स्म आनंद: !

आनंद गिरि पर आरोप लगने से नाराज थे नरेंद्र गिरी
सिडनी दौरे के वक्त आनंद गिरी पर लगे थे आरोप,
कुछ लड़कियों से अमर्यादित व्यवहार के आरोप,
आनंद हाईटेक संत के तौर पर पहचान बना रहा था,
विदेशी दौरे के वक्त हाईटेक तस्वीरें खिंचाता था आनंद !

आनंद गिरी स्वम् मठस्योत्तराधिकारी ज्ञापयति स्म, दानस्य मठस्य च् पणेषु प्रवंचनायाः अपि आरोपम् आरोपितं, आरोपानां अनंतरम् नरेंद्र गिरी आसनतः मठतः च् निर्वर्तित:, २६ मई २०२१ तमम् आनंद गिरी पादौ गृहीत्वा क्षमा याचिष्यति, नरेंद्र गिरिण: अंगरक्षक: आनंद गिरिण: मध्यापि कलहमासीत् !

आनंद गिरी खुद को मठ का उत्तराधिकारी बताता था, दान और मठ के पैसों में हेराफेरी के भी आरोप लगे, आरोपों के बाद नरेंद्र गिरी ने गद्दी और मठ से हटाया, 26 मई 2021 को आनंद गिरी ने पैर पकड़कर माफी मांगी, नरेंद्र गिरि के गनर और आनंद गिरि के बीच भी विवाद था !

आनंद गिरी २०१९ तमे ऑस्ट्रेलिया भ्रमणे गत: स्म ! सिडन्याम् आनंदं आरक्षकः बंधने नीत: स्म ! तस्मिन् बालिकाभिः दुर्व्यवहारस्यारोपमारोपितं अनंतरे आरोपान् पुनर्नीत: स्म ! आनंद गिरी दुबई यात्रायाम् अपि गत: !

आनंद गिरि 2019 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गया था। सिडनी में आनंद को पुलिस ने हिरासत में लिया गया था। उस पर लड़कियों से दुर्व्यवहार के आरोप लगे थे। बाद में आरोपों को वापस लिया गया था। आनंद गिरी दुबई यात्रा पर भी गया।

तत्रस्य चित्रान् दर्शित्वा पूर्णतया न प्रतिभाति तत आनंद गिरी कश्चित संत: आसीत् ! आनंद गिरी दुबय्यां गत्वा श्येनेण सह चित्राणि चित्रांकनम् करोति स्म !

वहां की तस्वीरों को देखकर बिल्कुल नहीं लगेगा कि आनंद गिरी कोई संत था ! आनंद गिरी दुबई में जाकर बाज के साथ तस्वीरें खिंचवा रहा था !

यस्यातिरिक्तं दुबई गत्वा सः डेजर्ट द्विचक्रिकायाः यात्राम् कृतः तस्मिन् तिष्ठ्वा चपि चित्राणि चित्रांकनं कृतः ! आनंद गिरिम् बहुमूल्याश्रयस्थलेषु रमितं अभिरुचि: आसीत्, अतएव सः दुबई गत्वा वृहद वृहदाश्रयस्थलेषु चित्रम् चित्रांकनम् करोति स्म !

इसके अलावा दुबई जाकर उसने डेजर्ट बाइक की सवारी की और उस पर बैठकर भी तस्वीरें खिंचवाईं ! आनंद गिरी को महंगे होटलों में रहना पसंद था, इसलिए वो दुबई जाकर बड़े-बड़े होटलों में फोटो खिंचवाता था !

आरक्षकस्य लक्ष्ये आनंद गिरी नरेंद्र गिरिण: शिष्य:, आध्या तिवारी शयित: हनुमान मन्दिरस्य मुख्य पुजारी, संदीप तिवारी आध्या तिवारिण: पुत्र, अजय सिंह: आरक्षी, मनीष: अभिषेक: व स्थानीय वासिन्, प्रयागराजस्य केचन प्रॉपर्टी डीलर, १ बिल्डर आनंद गिरिण: निकषा एकेन स्थानीय नेत्रा सन्ति !

पुलिस के निशाने पर आनंद गिरी नरेंद्र गिरी का शिष्य, आध्या तिवारी लेटे हनुमान मंदिर का मुख्य पुजारी, संदीप तिवारी आध्या तिवारी का बेटा, अजय सिंह सिपाही, मनीष व अभिषेक स्थानीय निवासी, प्रयागराज के कुछ प्रॉपर्टी डीलर, 1 बिल्डर व आनंद गिरी का करीबी 1 स्थानीय नेता हैं !

Disclaimer The author is solely responsible for the views expressed in this article. The author carry the responsibility for citing and/or licensing of images utilized within the text. The opinions, facts and any media content in them are presented solely by the authors, and neither Trunicle.com nor its partners assume any responsibility for them. Please contact us in case of abuse at Trunicle[At]gmail.com

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article