इमे द्वे कारणाभ्यां कोरोनायाः आघाते बहु आगताः युवा: ! इन दो वजहों से कोरोना की चपेट में ज्यादा आ रहे युवा !

0
254

कोरोनायाः द्वितीय प्रहारम् देशे गम्भीर्य स्थितिम् उत्पादितम् ! महाराष्ट्रेण, इंद्रप्रस्थेन,उत्तरप्रदेशेन, छत्तीसगढ़ेन सह द्वादशानि राज्येषु इदम् महामारी अनियंत्रितं अभवन् ! इंद्रप्रस्थे षड दिवसानां लॉकडाउन इति संचरित: तदा महाराष्ट्रे धारा-१४४ संचरित: !

कोरोना की दूसरी लहर ने देश में गंभीर स्थिति पैदा कर दी है ! महाराष्ट्र, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़ सहित दर्जन भर राज्यों में यह महामारी बेकाबू हो गई है ! दिल्ली में छह दिनों का लॉकडाउन लागू है तो महाराष्ट्र में धारा-144 लगी है !

कोविड-१९ इत्यस्य द्वितीय प्रहारे यत् जनाः संक्रमित भवन्ति यस्मिन् युवानां एकम् वृहद संख्यामस्ति ! कोविड-१९ इत्यस्य प्रथम प्रहारे संक्रमित भवका: जनेषु बहवः वृद्धजनाः आसन् तु इतिदा प्रकरणम् भिन्नम् भवितानि ! युवानां अस्य महामार्या: बंधने आगमनस्य द्वे वृहद कारणम् बद्यते !

कोविड-19 की दूसरी लहर में जो लोग संक्रमित हो रहे हैं उनमें युवाओं की एक बड़ी तादाद है ! कोविड-19 की पहली लहर में संक्रमित होने वाले लोगों में ज्यादातर बुजुर्ग थे लेकिन इस बार मामला अलग हो गया है ! युवाओं के इस महामारी के गिरफ्त में आने की दो बड़ी वजह बताई जा रही है !

भारते विश्वस्य सर्वात् वृहद टीकाकरण अभियानस्यारंभ गत १६ जनवरी तः आरंभितं ! टीकाकरणस्य अस्य प्रथम चरणे ६० वर्षात् उपरि जनान् टीका दत्तुमारंभयन् ! अस्यानंतरम् टीकाकरणस्य द्वितीये चरणे ४५ वर्षात् उपर्या: जनान् टीकाकरणं भवति !

भारत में दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान की शुरुआत गत 16 जनवरी से शुरू हुई ! टीकाकरण के इस पहले चरण में 60 साल से ऊपर व्यक्तियों को टीका लगना शुरू हुआ ! इसके बाद टीकाकरण के दूसरे चरण में 45 साल से ऊपर के व्यक्तियों को टीका लग रहा है !

इमे द्वे चरणयो संकटयुक्तानि आयु वर्गस्य जनान् टीका दत्वा तेन सुरक्षितं धृते नीतानि ! टीका दत्तेन अस्य आयु वर्गस्य जनेषु प्रतिरोधक क्षमता बर्धितानि इमानि च् अस्य महामार्या: प्रहारे न्यूनम् आगच्छन्ति !

इन दोनों चरणों में जोखिम वाले आयु वर्ग के लोगों को टीका लगाकर उन्हें सुरक्षित दायरे में लाया गया है ! टीका लगने से इस आयु वर्ग के लोगों में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ गई है और ये इस महामारी की चपेट में कम आ रहे हैं !

यद्यपि १८ तः ४५ वर्षस्य युवा वर्ग: अद्यापि टीकाकरणस्य क्षेत्रात् बाह्यास्ति ! सर्वकार: एक मई तः १८ वर्षस्य उपरि जनान् कोरोना सुरक्षा औषधि दत्तस्य वार्ता कथितः !

जबकि 18 से 45 साल का युवा वर्ग अभी टीकाकरण के दायरे से बाहर है ! सरकार ने एक मई से 18 साल के ऊपर व्यक्तियों को कोरोना वैक्सीन लगाने की बात कही है !

१८ तः ४५ वर्षस्य उम्र तः जनाः कार्याय गृहात् सर्वातधिकम् बाह्य निस्सरन्ति ! इमानि यात्राम् कुर्वन्ति, सार्वजनिक स्थानेषु जनैः मेलयन्ति ! बाह्य वातावरणे अस्य कालमधिकम् व्यतीतयति !

18 से 45 साल के उम्र वाले लोग कामकाज के लिए घरों से सबसे ज्यादा बाहर निकलते हैं ! ये यात्रा करते हैं, सार्वजनिक जगहों पर लोगों से मिलते-जुलते हैं ! बाहरी वातावरण में इनका समय ज्यादा गुजरता है !

अतएव येषु संक्रमणस्य संकटम् सर्वातधिकम् भवति ! कोरोनायाः द्वितीय प्रहारे इदम् वार्ताम् पश्यम् लब्धति ! टीकाकरणस्य कारणम् ४५ वर्षस्य उपर्या: जनाः कोरोना तः एकेन प्रकारेण सुरक्षितं भवितानि !

इसलिए इन पर संक्रमण का खतरा सबसे ज्यादा होता है ! कोरोना की दूसरी लहर में यह बात देखने को मिल रही है ! टीकाकरण के चलते 45 साल के ऊपर के लोग कोरोना से एक तरह से सुरक्षित हो गए हैं !

युवा वर्ग टीकाया द्रुतमस्ति ! टीका भवस्य अनंतरम् युवा वर्गमपि अस्य महामार्या: प्रहारे न्यूनतागमिष्यति ! टीकाकरण अभियानम् अति तीव्र कर्तुम् सर्वकार: पगम् उत्थायति ! बद्यते तत जुलाई एव भारतस्य पर्याप्तोपलब्धम् भविष्यते !

युवा वर्ग टीके से दूर है ! टीका लग जाने के बाद युवा वर्ग भी इस महामारी की चपेट में कम आएगा ! टीकाकरण अभियान को और तेज करने के लिए सरकार कदम उठा रही है ! बताया जा रहा है कि जुलाई तक भारत के पर्याप्त टीके उपलब्ध हो जाएंगे !

देशे टीका: पर्याप्त मात्रायाम् उपलब्धमसि अस्मै सर्वकार: मॉडर्ना, फाइजर यथा विदेशी टीका संस्थान् भारते उत्पादनारंभस्य निमंत्रणं दत्त: ! अस्यातिरिक्तं रूसस्य कोरोना वैक्सीन स्पूतनिक वी टीकाकरणाय शीघ्र उपलब्धम् भविष्यति !

देश में टीके पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हों इसके लिए सरकार ने मॉडर्ना, फाइजर जैसी विदेशी टीका कंपनियों को भारत में उत्पादन शुरू करने का न्योता दिया है ! इसके अलावा रूस की कोरोना वैक्सीन स्पूतनिक V टीकाकरण के लिए जल्द उपलब्ध होगी !

देशे स्पूतनिक वी इतम् प्रस्तुतस्य जिम्मेवारिम् हैदराबादस्य संस्था डॉ रेड्डीज् लैबोरेट्रीज् इतम् लब्धम् ! इदम् संस्था देशे अस्य क्लीनिकल संज्ञानमपि करोति !

देश में स्पूतनिक वी को लॉन्च करने की जिम्मेदारी हैदराबाद की कंपनी डॉ रेड्डीज लैबोरेटीज को मिली है ! यह कंपनी देश में इसका क्लीनिकल ट्रायल भी कर रही है !

पीएम मोदी: टीका निर्माताभिः स्वोत्पादन क्षमतायाम् सततं वृद्धि कृतस्य प्रार्थनां कृतमस्ति यद्यपि न्यूनात्न्यूनम् काले अधिकातधिकं जनान् कोविड-१९ रोधी टीका इति दत्तुम् शक्नुतम् !

पीएम मोदी ने टीका निर्माताओं से अपनी उत्पादन क्षमता में लगातार वृद्धि करने की अपील की है ताकि कम से कम समय में अधिक से अधिक लोगों को कोविड-19 रोधी टीका लगाया जा सके !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here