राम मंदिराय कल्याण सिंह: दत्त: सर्वात् वृहद बलिदानम्, उत्तरप्रदेशे भाजपाम् स्थित: ! राम मंदिर के लिए कल्याण सिंह ने दी सबसे बड़ी कुर्बानी, यूपी में BJP को खड़ा किया !

0
478

ट्रयूनिकल परिवार की ओर से हिंदू योद्धा कल्याण सिंह जी को अश्रुपूरित श्रद्धांजलि !

भारतीय जनता दलस्य वरिष्ठ नेता कल्याण सिंहस्य शनिवासररात्रि निधनमभवत् ! सः ८९ वर्षस्य उम्रे लक्ष्मणनगरस्य एसजीपीजीआई इत्ये अंतिम स्वांसं नीत: ! उत्तरप्रदेशे भाजपां स्थापितस्य श्रेय कल्याण सिंहमेव गच्छति !

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कद्दावर नेता कल्याण सिंह का शनिवार रात निधन हो गया ! उन्होंने 89 साल की उम्र में लखनऊ के एसजीपीजीआई में अंतिम सांस ली ! उत्तर प्रदेश में भाजपा को स्थापित करने का श्रेय कल्याण सिंह को ही जाता है !

अयोध्यायां राममंदिराय सर्वात् वृहद त्यागम् सः कृत: ! कल्याण सिंह: स्थलीय नेतासीत् ! साधारण जनाः, कार्यकर्ताषु तस्य लोकप्रियतासीत् ! तस्य परिचयं एकस्य कठोर: प्रशासकस्य रूपे रमित: ! सः निर्णयम् नीते विलम्बम् न करोति स्म !

अयोध्या में राम मंदिर के लिए सबसे बड़ा त्याग उन्होंने किया ! कल्याण सिंह जमीनी नेता थे ! आम आदमी, कार्यकर्ताओं में उनकी लोकप्रियता थी ! उनकी पहचान एक सख्त प्रशासक के रूप में रही ! वह फैसले लेने में देरी नहीं करते थे !

राममंदिराय तस्य प्रतिबद्धता कश्चितैवतः गोपितानि नासीत् ! कथकाः अयमपि कथ्यन्ति ततमुख्यमंत्रिण: आसने कल्याणसिंहस्य स्थानम् भाजपायाः यदि कश्चितान्य नेता भविता: तर्हि संभवत: बाबरी मस्जिदस्यास्थिपंजर: पतितुम् न भवितं !

राम मंदिर के लिए उनकी प्रतिबद्धता किसी से छिपी नहीं थी ! कहने वाले यह भी कहते हैं कि सीएम की कुर्सी पर कल्याण सिंह की जगह भाजपा का यदि कोई और नेता होता तो शायद बाबरी मस्जिद का ढांचा गिरा नहीं होता !

कल्याण सिंह: सर्वोच्च न्यायालये शपथपत्रम् दत्वा दृढ़कथनम् कृतरासीत् तत सः बाबरी मस्जिदस्य सुरक्षा करिष्यति तु सः दृढ़कथनम् निर्वहितुम् न शक्नुत: ! षड दिसंबर १९९२ तमम् कारसेवका: बाबरी मस्जिदम् पतिता: !

कल्याण सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा देकर वादा किया था कि वह बाबरी मस्जिद की सुरक्षा करेंगे लेकिन वह अपना वादा निभा नहीं पाए ! छह दिसंबर 1992 को कारसेवकों ने बाबरी मस्जिद को गिरा दिया !

कल्याण सिंह: ज्ञायति स्म तत यस्यानंतरम् तस्य सर्वकारः सुरक्षितुम् न भविष्यति, तेन विसर्जितुम् करिष्यते ! यस्मात् पूर्व तत केंद्र सर्वकारः तस्य सर्वकारः विसर्जितुम् करोति, सः सीएम पदतः त्याग पत्रम् दत्त: ! मीडिया सूचनानां मान्यन्तु तर्हि षड दिसंबरस्य दिवसस्य स्थित्याः अभिज्ञानम् कल्याण सिंहरैव प्राप्तयति स्म !

कल्याण सिंह जानते थे कि इसके बाद उनकी सरकार बच नहीं पाएगी, उसे बर्खास्त कर दिया जाएगा ! इससे पहले कि केंद्र सरकार उनकी सरकार बर्खास्त करती, उन्होंने सीएम पद से इस्तीफा दे दिया ! मीडिया रिपोर्टों की मानें तो छह दिसंबर के दिन के हालात की जानकारी कल्याण सिंह तक पहुंच रही थी !

बाबरी मस्जिदस्य पार्श्व वृहद संख्यायां सुरक्षाबला: नियुक्तमासन् ! स्थितिम् नियंत्रणतः बहिर्गमने सुरक्षा अधिकारिण: कारसेवकेषु गोलिका हननस्याज्ञाम् याचिष्यति स्म तु सः गोलिकाहननस्याज्ञाम् न दत्त: !

बाबरी मस्जिद के पास भारी संख्या में सुरक्षाबल तैनात थे ! हालात नियंत्रण से बाहर जाने पर सुरक्षा अधिकारियों ने कारसेवकों पर गोली चलाने की इजाजत मांगी थी लेकिन उन्होंने गोली चलाने की इजाजत नहीं दी !

भाजपा नेता विंध्यवासिनी कुमार: यत् कल्याण सिंहस्य निकषा रमित: तेन सह च् कार्यम् कृत: ! तस्य कथनमस्ति तत ६ दिसंबरस्य दिवसं सः अयोध्यायां आसीत् ! इति दिवसमस्थिपंजर: पतनम् निश्चितमासीत् ! इदृशं संनिवेश:, वातुलतावेग: चासीत् तत कारसेवका: विश्व हिंदू परिषदम् स्व कार्यक्रमम् कर्तुम् न दत्त: शिखरे अरुह्यताः !

भाजपा नेता विंध्यवासिनी कुमार जो कल्याण सिंह के करीबी रहे और उनके साथ काम किया ! उनका कहना है कि 6 दिसंबर के दिन वह अयोध्या में थे ! इस दिन ढांचा गिरना तय था ! ऐसा महौल, जुनून और जज्बा था कि कारसेवकों ने विश्व हिंदू परिषद को अपना कार्यक्रम नहीं करने दिया और गुंबद पर चढ़ गए !

एकः नेतु: प्रशासकस्य च् रूपे कल्याणसिंह: कार सेवकेषु गोलिका न हननस्य निर्णीत: ! कल्याणसिंह: कथित: तत अवशेषम् यत् युक्ति: असि तेषां युक्तिनां उपयोगम् कुर्वन्तु, गुलिका हननस्याज्ञाम् सः न दाष्यति !

एक नेता और प्रशासक के रूप में कल्याण सिंह ने कारसेवकों पर गोली न चलाने का फैसला किया ! कल्याण सिंह ने कहा कि बाकी जो उपाय हों उन उपायों का उपयोग किया जाए, गोली चलाने की इजाजत वह नहीं देंगे !

प्रथम शिखर पतनस्यानंतरम् यस्याभिज्ञानम् कल्याण सिंहम् दत्तम् ! संभवत: सः हृदये इति कलहम् संपादितस्य निर्णयम् कृतः स्म ! इदम् बहु वृहद निर्णयमासीत् ! आबंध: न पतितं तर्हि एसएसआई इतस्य सूचनां संमुखमागतुम् नाभिग्रहीतं सर्वोच्च न्यायालयं च् स्व निर्णयम् दत्तुम् नाभिग्रहीतं !

पहला गुंबद गिरने के बाद इसकी जानकारी कल्याण सिंह को दी गई ! शायद उन्होंने मन में इस विवाद को समाप्त करने का फैसला कर लिया था ! यह बहुत बड़ा फैसला था ! ढांचा नहीं गिरता तो एएसआई की रिपोर्ट सामने नहीं आ पाती और सुप्रीम कोर्ट अपना ऐतिहासिके फैसला नहीं दे पाता !

मस्जिद विध्वंसस्याग्रिम दिवसं ७ दिसंबरम् केंद्रस्य नरसिंहा राव सर्वकारः कल्याण सिंह सर्वकारम् विसर्जितं कृतवान ! यस्यानंतरम् ८ दिसंबरम् वार्ताकारै: सह वार्तालापे कल्याणसिंह: यत् कथनं दत्त:, सः राममंदिरम् प्रति तस्यास्थाम् प्रतिबद्धताम् च् प्रदर्शयति !

मस्जिद विध्वंस के अगले दिन 7 दिसंबर को केंद्र की नरसिम्हा राव सरकार ने कल्याण सिंह सरकार को बर्खास्त कर दिया ! इसके बाद 8 दिसंबर को पत्रकारों के साथ बातचीत में कल्याण सिंह ने जो बयान दिया, वह राम मंदिर के प्रति उनकी आस्था और प्रतिबद्धता को दर्शाता है !

उत्तरप्रदेशे स्व सर्वकारस्य निर्मित: एकम् वर्षमेव अभवत् स्म, आसनम् विनाशयस्य तेनाल्पमपि खेदम् नासीत्, सः मीडियाकर्मिभिः कथित: बाबरी इतस्य विध्वंस भगवदस्येच्छामासीत् ! मह्यं यस्य कश्चित खेदम् नास्ति, कश्चित दुःखम् नास्ति, कश्चितानुताप: नास्ति !

यूपी में अपनी सरकार के बने एक साल ही हुए थे, कुर्सी गंवाने का उन्हें जरा भी मलाल नहीं था,उन्होंने मीडियाकर्मियों से कहा बाबरी का विध्वंस भगवान की मर्जी थी ! मुझे इसका कोई मलाल नहीं है, कोई दुख नहीं है, कोई पछतावा नहीं है !

अयं सर्वकारः राममंदिरस्य नामे निर्मीतरासीत् तस्य च् प्रयोजनंपूर्णमभवत् ! इदृशे सर्वकारः राममंदिरस्य नामे बलिदानम् ! राममंदिराय एकम् किं शतानि सत्ताम् पादेन हनितुम् शक्नोमि, केन्द्रम् कदापि मया बंधनम् कर्तुम् शक्नोति, कुत्रचित अहमेवास्मि, येन स्व दलस्य वृहदोद्देश्यं पूर्णम् कृत: !

ये सरकार राममंदिर के नाम पर बनी थी और उसका मकसद पूरा हुआ ! ऐसे में सरकार राममंदिर के नाम पर कुर्बान ! राम मंदिर के लिए एक क्या सैकड़ों सत्ता को ठोकर मार सकता हूँ, केंद्र कभी भी मुझे गिरफ्तार करवा सकता है, क्योंकि मैं ही हूँ, जिसने अपनी पार्टी के बड़े उद्देश्य को पूरा किया है !

राममंदिर अभियानाय कल्याणसिंह: उत्तरप्रदेशे वृहद जन-जागरणेत्याभियानं चालित: स्म ! १९९० तमे मंदिराय उत्तरप्रदेशे भ्रमित: ! नगरेषु एवं ग्रामेषु तेन शृणुतुम् तस्य गोष्ठिषु वृहद संख्यायां जनानां सम्मर्द: समागच्छन्ति स्म !

राम मंदिर अभियान के लिए कल्याण सिंह ने उत्तर प्रदेश में बड़ा जन-जागरण अभियान चलाया था ! 1990 में मंदिर के लिए यूपी में दौरा किया ! शहरों एवं कस्बों में उन्हें सुनने के लिए उनकी रैलियों में बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ जुटती थी !

अटल बिहारी बाजपेयिण: अनंतरम् कल्याण सिंह: इवासीत् यस्य भाषणम् शृणुतुम् जनाः उत्सुक: रमन्ति स्म ! उत्तरप्रदेशे भाजपाम् स्थितम् कृतस्य श्रेय: कल्याण सिंहमेव गच्छति !

अटल बिहारी वाजपेयी के बाद कल्याण सिंह ही थे जिनका भाषण सुनने के लिए लोग बेताब रहते थे ! यूपी में भाजपा को खड़ा करने का श्रेय कल्याण सिंह को ही जाता है !

कल्याण सिंह: साधारण जनै:, निर्धनै:, कृषकै: दलीय कार्यकर्ताभि: सरल रूपे संयुक्तरासीत् ! तस्य अयमेव संलग्नता तस्य लोकप्रियतायाः एकम् वृहद कारणमासीत् ! सः कठोर: प्रशासकरासीत् ! सः स्व निर्णयान् कठोरताया पालनम् कारयति स्म ! उत्तर प्रदेश यथा राज्ये नकलविहीन परीक्षा समूह ग भर्ती परीक्षा चेति यस्य सशक्तमोदाहरणमस्ति !

कल्याण सिंह आम आदमी, गरीबों, किसानों, पार्टी कार्यकर्ताओं से सीधे तौर पर जुड़े थे! उनका यही जुड़ाव उनकी लोकप्रियता की एक बड़ी वजह थी ! वह सख्त प्रशासक थे ! वह अपने फैसलों को सख्ती से लागू कराते थे ! यूपी जैसे राज्य में नकल विहीन परीक्षा और समूह ग भर्ती परीक्षा, इसका सशक्त उदाहरण है !

सः स्पष्टवादी नेतासीत्, यत् वार्ता तेन सम्यक् परिलक्ष्यति स्म तेन स्पष्टम् बदति स्म ! तस्य वार्ता दलप्रमुखमनुचितं अनुभूतुम् शक्नोति, यस्य चिंता सः न करोति स्म ! कल्याण सिंह: १९९९ तमे भाजपाया भिन्नमभवत् पुनः च् २००४ तमे दले पुनरागत: ! यस्यानंतरम् २००९ तमे भिन्नमभवत् पुनः च् २०१९ तमे पुनरागत: !

वह स्पष्टवादी नेता थे, जो बात उन्हें सही लगती थी उसे डंके की चोट पर बोलते थे ! उनकी बात पार्टी आलाकमान को बुरी लग सकती है, इसकी परवाह वह नहीं करते थे ! कल्याण सिंह 1999 में भाजपा से अलग हुए और दोबारा 2004 में पार्टी में वापस आए ! इसके बाद 2009 में अलग हुए और फिर 2019 में वापस आए !

कल्याण सिंहस्य गमनस्यानंतरम् भाजपा उत्तरप्रदेशे क्षीणमभवत् तेन च् क्षतिमभवत् ! उत्तरप्रदेशे भाजपा कल्याण सिंह: च् परस्परं पर्याय निर्मितानि ! भाजपायां तस्य स्थितिम् योगदानम् च् इति वार्ताया अप्यावगम्यतुम् शक्नोति तत तस्य निधने भाजपायाः प्रत्येकम् नेतारः म्लान: सन्ति तेन च् स्मरयति !

कल्याण सिंह के जाने के बाद भाजपा यूपी में कमजोर हुई और उसे नुकसान हुआ ! यूपी में भाजपा और कल्याण सिंह एक दूसरे के पर्याय बने रहे ! भाजपा में उनका कद और योगदान इस बात से भी समझा जा सकता है कि उनके निधन पर भाजपा का हर नेता गमगीन है और उन्हें याद कर रहा है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here