21.8 C
New Delhi

स्वागतम् ! इस्लाम त्यजित्वा जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी अभवत् वसीम रिजवी, डासना मंदिरे कृतः धर्मपरिवर्तनम् ! स्वागत ! इस्लाम त्यागकर जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी बने वसीम रिजवी, डासना मंदिर में किया धर्म परिवर्तन !

Date:

Share post:

शिया वक्फ आयोगस्य पूर्वाध्यक्ष: वसीम रिजवी अद्य इस्लाम त्यजित्वा सनातन धर्म स्वीकृत: ! गाजियाबादस्य डासना देवी मंदिरे महंत नरसिंहानंद: रिजविम् हिंदूधर्म ग्रहणकारीत: धार्मिक अनुष्ठानेण सह वसीम रिजवी हिंदू अभवत् !

शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी ने आज इस्लाम त्यागकर सनातन धर्म अपना लिया है ! गाजियाबाद के डासना देवी मंदिर में महंत नरसिंहानंद ने रिजवी को हिंदू धर्म ग्रहण करवाया और धार्मिक अनुष्ठान के साथ वसीम रिजवी हिंदू बने !

वसीम रिजविण: सम्प्रति जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी अभवत् ! धर्मपरिवर्तनस्यानंतरम् सः मुस्लिम संगठनेषु लक्ष्यम् लक्षित: कथित: च् तत मुस्लिम: केवलं हिंदुत्वस्य विरुद्धम् हिंदून् च् परजितुम् मतम् करोति !

वसीम रिजवी से अब जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी हो गए हैं ! धर्म बदलने के बाद उन्होंने मुस्लिम संगठनों पर निशाना साधा और कहा कि मुसलमान केवल हिंदुत्व के खिलाफ और हिंदुओं को हराने के लिए वोट करता है !

मीडिया इत्येन वार्ता कृतन् जितेंद्र नारायण अर्थतः वसीम रिजवी कथित: धर्मपरिवर्तनस्यात्रे कश्चित वार्ता नास्ति ! यदा मया इस्लामात् निस्सरैव दत्तं तर्हि पुनः अयम् ममेच्छामस्ति तताहम् कं धर्माणि स्वीकृतानि !

मीडिया से बात करते हुए जितेंंद्र नारायण उर्फ वसीम रिजवी ने कहा धर्म परिवर्तन की यहां पर कोई बात नही है ! जब मुझे इस्लाम से निकाल ही दिया गया तो फिर ये मेरी मर्जी है कि मैं कौन सा धर्म स्वीकार करूं !

सनातन धर्म विश्वस्य सर्वात् प्रथमधर्मास्ति, यति साधुता हिंदूधर्मे ळब्धति तति विश्वस्य कश्चितैव धर्मे न ळब्धति ! इस्लामम् वयं धर्मम् अवगम्यतैव नास्ति !

सनातन धर्म दुनिया का सबसे पहला धर्म है, जितनी अच्छाईयां हिंदू धर्म में पाई जाती हैं उतना दुनिया के किसी और धर्म में नहीं पाई जाती हैं ! इस्लाम को हम धर्म समझते ही नहीं है !

इस्लामम् प्रति, मोहम्मदस्य चरित्रम् प्रतीयत् पठनस्य अनंतरम् तस्य चातंकिन् मुखान् पठनस्यानंतरम् वयं इदमवगम्याम: ततेस्लाम कश्चित धर्म नास्ति !

इस्लाम के बारे में, मोहम्मद के चरित्र के बारे में इतना पढ़ लेने के बाद और उनके आतंकी चेहरे को पढ़ने के बाद हम यह समझते हैं कि इस्लाम कोई धर्म नहीं है !

मुस्लिम संगठनै: स्वमे प्रस्तुतन् आदेशानां उल्लेख्यन् रिजवी कथित: तर्हि यदास्मान् निःसृतं प्रत्येक शुक्रवासरस्य च् नमाजस्यानंतरम् अस्माकं महंत नरसिंहानंद गिरी महोदयस्य च् सिरे कर्तनयो आदेशं ददाते पारितोषिकं च् बर्धते !

मुस्लिम संगठनों द्वारा खुद पर जारी किए फतवों का जिक्र करते हुए रिजवी ने कहा तो जब हमको निकाल दिया गया और हर जुमे की नमाज के बाद हमारा और महंत नरसिंहानंद गिरी जी के खिलाफ सर काटने के फतवे दिए जाते हैं और इनाम बढ़ाया जाता है !

तर्हि इदृशमेव परिस्थितीनां माम् मुस्लिम: कथ्यतु, माम् स्वयं लज्जागच्छति ! रिजविण: धर्मपरिवर्तनम् कर्ता यति नरसिंहानंद गिरि ज्ञापित: तत १५ दिवसानि पूर्व तस्य पार्श्व वसीम रिजविण: दूरभाष आगतः तर्हि सः विस्मित: अभवत् कुत्रचित कश्चित मुस्लिम: तेन दूरभाष न करोति !

तो ऐसी परिस्थितयों में हमको मुस्लिम कहे, हमको खुद शर्म आ रही है ! रिजवी का धर्म परिवर्तन करने वाले यति नरसिंहानंद गिरि ने बताया कि 15 दिन पहले उनके पास वसीम रिजवी का फोन आया तो वह हैरान रह गए क्योंकि उन्हें कोई मुस्लिम फोन नहीं करता है !

यति कथित: तत यस्यानंतरम् रिजवी स्वपुस्तकस्य विमोचनम् कारीतः तेन च् वार्ता कृत्वा साधु परिलक्ष्यति ! यति नरसिंहानंद: जनै: रिजविण: सहाय्यस्य याचनां कृतः !

यति ने कहा कि इसके बाद रिजवी ने अपनी पुस्तक का विमोचन करवाया और उनसे बात करके अच्छा लगा ! यति नरसिंहानंद ने लोगों से रिजवी का साथ देने की अपील की !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

जोधपुरस्य सर्वकारी विद्यालये हिजाब धारणे संलग्ना: छात्रा: ! जोधपुर के सरकारी स्कूल में हिजाब पहनने पर अड़ी छात्राएँ !

राजस्थानस्य जोधपुरे हिजाब इतम् गृहीत्वा प्रश्नं अभवत् ! सर्वकारी विद्यालये छात्रा: हिजाब धारणे गृहीत्वा संलग्नवत्य:, तु तेषां परिजना:...

मेलकम् दर्शनमगच्छन् हिंदू महिला: शमीम: सदरुद्दीन: चताडताम्, उदरे अकुर्वताम् पादघातम् ! मेला देखने गईं हिन्दू महिलाओं को शमीम और सदरुद्दीन ने पीटा, पेट पर...

उत्तरप्रदेशस्य फर्रुखाबाद जनपदे एकः हिंदू युवके, तस्य मातरि भगिन्यां च् घातस्य वार्ता अस्ति ! घातस्यारोपम् शमीमेण सदरुद्दीनेण च्...

हल्द्वानी हिंसायां आहूय-आहूय हिंदू वार्ताहरेषु अभवन् घातम् ! ऑपइंडिया इत्यस्य ग्राउंड सूचनायां रहस्योद्घाटनम् ! हल्द्वानी हिंसा में चुन-चुन कर हिंदू पत्रकारों पर हुआ हमला...

उत्तराखंडस्य हल्द्वानी हिंसायां उत्पातकाः आरक्षक प्रशासनस्यातिरिक्तं घटनायाः रिपोर्टिंग कुर्वन्ति हिंदू वार्ताहरानपि स्वलक्ष्यमकुर्वन् स्म ! ते आहूय-आहूय वार्ताहरेषु घातमकुर्वन्...

हल्द्वान्यां आहतानां सुश्रुषायै अग्रमागतवत् बजरंग दलम् ! हल्द्वानी में घायलों की सेवा के लिए आगे आया बजरंग दल !

हल्द्वान्यां अवैध मदरसा-मस्जिदम् न्यायालयस्य आज्ञायाः अनंतरम् प्रशासनम् धराभीम गृहीत्वा ध्वस्तकर्तुं प्राप्तवत् तु सम्मर्द: उग्राभवन् ! प्रस्तर घातमकुर्वन्, गुलिकाघातमकुर्वन्,...