43.1 C
New Delhi

ब्रिक्स इत्या: मंच, कुट्टिमे धृतं त्रिवर्णम् उत्थाय पीएम मोदिन् पुटे धृतवान् ! ब्रिक्स का मंच, फर्श पर रखे तिरंगे को उठा कर पीएम मोदी ने जेब में रखा !

Date:

Share post:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदिन् ब्रिक्स सम्मेलने प्रतिभागाय दक्षिण अफ्रीकायाः जोहान्सबर्ग प्राप्तवान् ! तस्य तत्र भव्य स्वागतमपि अभवत् ! अस्मिन् काळम् एकं चलचित्रमपि संमुखमागतवत्, यस्यानंतरम् संपूर्णदेशे तस्य बहु प्रशंसा भवति !

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी BRICS समिट में हिस्सा लेने के लिए दक्षिण अफ्रीका के जोहान्सबर्ग पहुँचे हुए हैं ! उनका वहाँ भव्य स्वागत भी हुआ ! इस दौरान एक वीडियो भी सामने आया है, जिसके बाद देश भर में उनकी जम कर प्रशंसा हो रही है !

वास्तवे अवसरमासीत् ब्रिक्स इत्या: ग्रुप छायांकनस्य ! यस्मिन् सर्वेषां देशानां राष्ट्राध्यक्षान् मंचे स्थित्वा चित्राणि छायांकिता: कारितं आसन् ! अस्मिन् काळम् तेषां देशानां ध्वजानि मंचे अधो धृतवत: स्म ! यत् देशस्य ध्वजम् यत्र धृतवतः स्म, तत्रे तत् देशस्य नेतारम् स्थितमासन् !

असल में मौका था BRICS के ग्रुप फोटो सेशन का ! इसमें सभी देशों के राष्ट्राध्यक्षों को मंच पर खड़े होकर तस्वीरें क्लिक करवानी थी ! इस दौरान उन देशों के झंडे मंच पर नीचे रखे गए थे ! जिस देश का झंडा जहाँ रखा हुआ था, वहाँ पर उस देश के नेता को खड़ा होना था !

अस्मिन् काळम् भारतस्य प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दक्षिण अफ्रीकायाः राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा च् मंचे प्राप्तवंतौ ! यथैव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भूम्यां त्रिवर्णम् धृत् अपश्यत्, सः त्वरिताग्रम् बर्धित्वा तेनोत्थायत् ! सः भारतस्य राष्ट्रीय ध्वजं उत्थाय स्व पुटे धृतवान् !

इस दौरान भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा मंच पर पहुँचे ! जैसे ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जमीन पर तिरंगा रखे हुए देखा, उन्होंने तुरंत आगे बढ़ कर उसे उठाया ! उन्होंने भारत के राष्ट्रीय ध्वज को उठा कर अपने पॉकेट में रख लिया !

तेन दृष्ट्वा दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति सिरिल रामफोसापि स्वदेशस्य ध्वजमधोतः उत्थायत् ! पुनः अधोतः एकः कर्मचारिन: मंचे प्राप्तवान्, येन दक्षिण अफ्रीकायाः राष्ट्रपति स्वदेशस्य ध्वजं दत्तवान् ! यद्यपि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तेन तिरंगा न दत्तवान् तेन च् स्वपुटे धृतुं रमति !

उन्हें देख कर दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा ने भी अपने देश का झंडा नीचे से उठा लिया ! फिर नीचे से एक कर्मचारी मंच पर पहुँचा, जिसे दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति ने अपने देश का झंडा दे दिया ! हालाँकि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उसे तिरंगा नहीं दिया और उसे अपने पॉकेट में रखे रहे !

संभवतः तेन भय: आसीत् ततोक्त: कर्मचारिनः अपि त्रिवर्णम् नीत्वा कश्चितैव इदृशमेव स्थानम् न अक्षिपत्, यत्र तस्यापमान: असि ! ज्ञापयतु तत भारते अपि त्रिवर्णम् कुट्टिमे न धरोति येन च् अपमान: मान्यते !

शायद उन्हें डर था कि उक्त कर्मचारी भी तिरंगे को ले जाकर किसी ऐसी जगह न डाल दे, जहाँ उसका अपमान हो ! बता दें कि भारत में भी तिरंगे झंडे को फर्श पर नहीं रखा जाता है और इसे अपमान माना जाता है !

भारतस्य राष्ट्रीय ध्वजम् प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदिण: सम्मानम् संवेदनशीलताम् च् दृष्ट्वा जनाः तस्य प्रशंसा: अकुर्वन् ! जनाः अकथयत् तत किंन प्रधानमंत्री मोदिन् यत्रापि रमति, तः देशम् देशस्य प्रतीकानां सम्मानम् प्रति संवेदनशील: रमन्ति !

भारत के राष्ट्रीय ध्वज के प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सम्मान और संवेदनशीलता को देख कर लोगों ने उनकी तारीफ की ! लोगों ने कहा कि चाहे प्रधानमंत्री मोदी जहाँ भी रहें, वो देश और देश के प्रतीकों के सम्मान के प्रति संवेदनशील रहते हैं !

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एव पूर्व वर्षम् प्रतिगृह त्रिवर्णमभियानस्यारंभ कृतरासीत् अस्मिन् वर्षम् अपि च् सः देशवासिभिः आग्रह: कृतवान् स्म तत ताः स्व-स्व गृहेषु त्रिवर्णम् विधूनिता: ! यस्मै राष्ट्रध्वजस्य नियमेषु अपि संशोधनम् कृतवत् स्म !

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ही पिछले साल हर घर तिरंगा अभियान की शुरुआत की थी और इस साल भी उन्होंने देशवासियों से आग्रह किया था कि वो अपने-अपने घरों में तिरंगा फहराएँ ! इसके लिए राष्ट्रध्वज के नियमों में भी संशोधन किया गया था !

इदृशे काले यदा देशम् चंद्रयान-३ इत्या: लैंडिंग गृहीत्वा चन्द्रे त्रिवर्णम् विधूनस्य वार्ता करोति, पीएम मोदिण: इदम् चलचित्रमागमनस्यानंतरम् जनाः तस्य प्रशंसा: कुर्वन्ति ! पीएम मोदिन् भारते अपि बहुसु कार्यक्रमेषु प्लास्टिक इत्यादयः पतित् दर्शति तूत्थाय धरयति !

ऐसे समय में जब देश चंद्रयान-3 की लैंडिंग को लेकर चाँद पर तिरंगा फहराने की बात कर रहा है, पीएम मोदी का ये वीडियो आने के बाद लोग उनकी प्रशंसा कर रहे हैं ! पीएम मोदी भारत में भी कई कार्यक्रमों में प्लास्टिक वगैरह पड़ा देखते हैं तो उठा कर रख लेते हैं !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

फैजान:, जिशानः, फिरोज: च् एकः वृद्ध आरएसएस कार्यकर्तारं अघ्नन् ! फैजान, जीशान और फिरोज ने बुजुर्ग RSS कार्यकर्ता को मार डाला !

राजस्थानस्य देवालयं प्रति गच्छन् एकः 65 वर्षीयः वृद्धस्य वध: अकरोत् । पूर्वं मृत्युः रोगेण अभवत् इति मन्यन्ते स्म,...

हिंदू बालिका मुस्लिम बालकः च् विवाहः अवैधः मध्यप्रदेशस्य उच्चन्यायालयः ! हिंदू लड़की और मुस्लिम लड़का शादी वैध नहीं-मध्यप्रदेश हाईकोर्ट !

मध्यप्रदेशस्य उच्चन्यायालयेन उक्तम् अस्ति यत् मुस्लिम्-बालकस्य हिन्दु-बालिकायाः च विवाहः मुस्लिम्-विधिना वैधविवाहः नास्ति इति। न्यायालयेन विशेषविवाह-अधिनियमेन अन्तर्धार्मिकविवाहेभ्यः आरक्षकाणां संरक्षणस्य...

भारतं अस्माकं भ्राता अस्ति, पाकिस्तानः अस्माकं शत्रुः अस्ति-अफगानी वृद्ध: ! भारत हमारा भाई, पाकिस्तान दुश्मन-अफगानी बुजुर्ग !

सहवासिन् पाकिस्तान-देशः न केवलं भारतस्य, अपितु अफ्गानिस्तान्-देशस्य च प्रतिवेशिनी अस्ति। अफ़्घानिस्तानस्य जनाः पाकिस्तानं न रोचन्ते। अफ्गानिस्तान्-देशे भयोत्पादनस्य प्रसारकानां...

बृजभूषण शरण सिंहस्य पुत्रस्य यात्रावाहनस्य फार्च्यूनर् इत्यनेन 2 बालकाः मृताः। बृजभूषण शरण सिंह के बेटे के काफिले में शामिल फॉर्च्यूनर से कुचल कर 2...

उत्तरप्रदेशस्य कैसरगञ्ज्-नगरे भाजप-अभ्यर्थी करणभूषणसिङ्घस्य यात्रावाहनस्य फार्च्यूनर् इत्यनेन 3 बालकाः धाविताः। अस्मिन् दुर्घटनायां 2 जनाः तत्स्थाने एव मृताः, अन्ये...