31.1 C
New Delhi
Thursday, May 26, 2022

आगन्तुका: वंशजेषु धर्मकल्याणाय इदृशं साधूनां बहु आवश्यकतामस्ति ! नागा साधुतः निर्मितः सर्वोच्चन्यायालयस्य प्राङ्विवाकः करुणेश शुक्ल: ! आने वाली पीढ़ी में धर्म कल्याण के लिए ऐसे साधुओं की बहुत आवश्यकता है ! नागा साधु से बने सुप्रीम कोर्ट के वकील करुणेश शुक्ल !

Must read

अद्य वयं भवतः एकः इदृश: व्यक्तित्व करुणेश शुक्लं प्रति केचनाभिज्ञानं दाष्यामि, यत् अद्यापि भारतस्य सर्वोच्च न्यायालये अधिवक्तास्ति !

आज हम आपको एक ऐसे व्यक्तित्व करुणेश शुक्ल के बारे में कुछ जानकारी देंगे, जो अभी भारत के सर्वोच्च न्यायालय में अधिवक्ता है !

Sabhar

येन श्रीराम जन्मभूमि प्रकरणे एकः महती भूमिकाम् निर्वहितः महंत धर्मदास महाराज महोदयायाधिवक्ता रमित: !

जिन्होंने श्री राम जन्मभूमि केस में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और महंत धर्मदास महाराज जी के लिए वकील रहे !

करुणेश शुक्ल: अधिवक्ता निर्मितेन पूर्वम् अयोध्यायाः सुप्रसिद्ध हनुमान गढ़ी इत्ये एकः नागा साधु आसीत् पुजारिण: रूपे च् कार्यम् करोति स्म !

करुणेश शुक्ल वकील बनने से पहले अयोध्या के सुप्रसिद्ध हनुमान गढ़ी में एक नागा साधु थे और पुजारी के रूप में कार्य करते थे !

गुरु परम्परानुसारमोत्तराधिकारे यस्य पार्श्व पचारी राज्यस्याज्ञातम् संपदासीत् तु हिंदुत्व प्रीत्याम् हिन्दुत्वस्य रक्षणाय भूमिस्तरे कार्यम् कृताय सर्वा: त्यक्त्वा गुरु आज्ञाया सर्वोच्च न्यायालये अधिवक्ता निर्मित: !

गुरु परम्परा के अनुसार उत्तराधिकार में इनके पास पचारी स्टेट की अपार संपदा थी लेकिन हिंदुत्व के प्रेम में हिंदुत्व की रक्षा के लिए जमीनी स्तर पर काम करने के लिए सब कुछ छोड़कर गुरु आज्ञा से सुप्रीम कोर्ट में वकील बने !

श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या प्रकरणे जयं ळब्धं ! अधुना च् श्रीकृष्ण जन्मभूमि, मथुरायाभियोगम् रणन्ति सहैव च् तस्य दळै: काशी विश्वनाथं स्वतंत्रता दत्तस्याभियानमारंभितः !

श्री राम जन्मभूमि अयोध्या केस में विजय प्राप्त हुई और अब श्रीकृष्ण जन्मभूमि, मथुरा के लिए केस लड़ रहे हैं और साथ ही उनकी टीम के द्वारा काशी विश्वनाथ को आजादी दिलाने की मुहिम शुरू हो गई है !

करुणेश महोदयः देशम् हिंदू राष्ट्र निर्माणाय स्व प्राणं च् विना कश्चित औचित्य पूर्ण विचारं कृतः, सर्वोच्च न्यायालये कुरानस्य विरुद्धमभियोगम् पंजीकृतं कृतवान ! इदम् एकमति संवेदनशील प्रकरणमस्ति !

करुणेश जी ने देश को हिंदू राष्ट्र बनाने के लिए और अपने जान की बिना कोई परवाह किए, सुप्रीम कोर्ट में कुरान के खिलाफ केस दर्ज किया है ! यह एक अति संवेदनशील मामला है !

कुरानस्य चतुर्विंशति आयतानि यत् भारतीय संविधानस्योल्लंघनं कुर्वन्ति तत कुरानतः निर्वर्तनायास्ति ! यदीदम् भवते तदागन्तुक: भविष्ये विश्वम् बहु वृहद रणेन रक्षितुम् शक्नोति !

कुरान की चौबीस आयतें जो भारतीय संविधान का उल्लंघन करती हैं उसको कुरान से हटाने के लिए है ! अगर यह हो जाता है तो आने वाले भविष्य में विश्व को बहुत बड़ी लड़ाई से बचाया जा सकता है !

सहैव देशम् एकम् वैभवशालिम् राष्ट्र निर्माणाय भारतीय संविधानतः धर्मनिरपेक्ष सामाजिकता च् यथा शब्द निर्वर्तनाय याचिकां पंजीकृतं अस्ति ! इमानि शब्दापातकालीन स्थित्याम् भारतस्य संविधाने संगृहीतानि स्म !

साथ ही देश को एक वैभवशाली राष्ट्र बनाने के लिए भारतीय संविधान से सेकूलर और सोशलिस्ट जैसे शब्द हटाने के लिए याचिका दायर की है ! ये शब्द आपातकालीन स्थिति में भारत के संविधान में डाल दिया गया था !

सहैव बहुहिन्दू बालिका: यालवजिहादे रुध्यानि, ताभ्य: निःशुल्के अभियोगम् रणन्ति, ताः बालिका: आत्मनिर्भर कृत्वा नवजीवन प्रारंभे सहाय्य कुर्वन्ति !

साथ ही कई हिन्दू लड़कियां जो लव जिहाद में फंस गई है, उनके लिए फ्री में केस लड़ते हैं, और उन लड़कियों को आत्मनिर्भर बनाकर नयी जिंदगी शुरू करने में मदद करते हैं !

सहैव बहु मीडिया प्लेटफार्म इत्यस्य माध्यमेन हिन्दू समाजम् जागरूक: कुर्वन्ति ! सहैव निर्धन हिन्दू भ्रातृभ्यः माइक्रो फाइनेंस इत्यस्य व्यवस्थां कुर्वन्ति !

साथ ही तमाम मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से हिन्दू समाज को जागरूक करते हैं ! साथ ही गरीब हिन्दू भाईयों के लिए माइक्रो फाइनेंस की व्यवस्था करते हैं !

याः हिन्दू भ्रातृन् स्व व्यवसायारंभितुमेच्छन्ति तस्यार्थिक सहाय्य कुर्वन्ति ! सहैव करुणेश महोदयः मानवतायां विश्वासम् धृन्ति मानवता वादीसंगठन मिशनह्यूमेनिटी इत्यस्य संस्थापक: राष्ट्रीयाध्यक्ष: चस्ति !

जिन हिन्दू भाईयों को अपना व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं उनकी आर्थिक सहायता करते हैं ! साथ ही करुणेश जी मानवता में विश्वास रखते हैं और मानवतावादी संगठन मिशन ह्यूमेनिटी के संस्थापक और राष्ट्रीय अध्यक्ष है !

देशे शांति इति रमितं, विश्वे शांत्या: स्थापनाय सदैव प्रयत्नशील: रमन्ति ! करुणेश शुक्ल महोदयं प्रति इदृश: केचन अभिज्ञान वयं भवद्भिः सह कुशिकम् कुर्वन्ति ! भवन्तः इदृश: प्रचंड हिन्दू शौर्यवान योद्धै: सह संलग्नयन्तु देशस्य धर्मस्य च् रक्षणं कुर्वन्तु !

देश में शांति रहे, विश्व में शांति की स्थापना के लिए हमेशा प्रयत्नशील रहते हैं ! करुणेश शुक्ल जी के बारे में ऐसे कुछ जानकारी हम आप लोगों के साथ शेयर कर रहे हैं ! आप सभी लोग ऐसे प्रचंड हिन्दू बीर योद्धा के साथ जुड़े और देश और धर्म की रक्षा करें !

Disclaimer The author is solely responsible for the views expressed in this article. The author carry the responsibility for citing and/or licensing of images utilized within the text. The opinions, facts and any media content in them are presented solely by the authors, and neither Trunicle.com nor its partners assume any responsibility for them. Please contact us in case of abuse at Trunicle[At]gmail.com

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article

This is AWS!!!