सिंघु सीमायां हननम्, मृतकस्य परिचयं लब्धं, पंजाबस्य तरन तारन जनपदस्य वासिनः आसीत् लखबीर सिंह: यत् एकः हिन्दू अस्ति ! सिंघु बार्डर पर हत्या, मृतक की शिनाख्त हुई, पंजाब के तरन तारन जिले का रहने वाला था लखबीर सिंह जो एक हिन्दू है !

0
310

प्रतीक चित्रम्

सिंघु सीमायां लब्धम् शवस्य परिचयं लब्धम् ! मृतक युवकस्य परिचयं पंजाबस्य तरन तारन जनपदस्य वासिनः लखबीर सिंहस्य रूपे अभवत् ! सूत्राणां कथनमस्ति तत लखबीर: निहंगानां सेवादारस्य रूपे कार्यम् करोति स्म !

सिंघु बार्डर पर मिले शव की पहचान हो गई है ! मृतक युवक की पहचान पंजाब के तरन तारन जिले के रहने वाले लखबीर सिंह के रूप में हुई है ! सूत्रों का कहना है कि लखबीर निहंगों के सेवादार के रूप में काम करता था !

इति प्रकरणे आरक्षकः अज्ञात जनानां विरुध्दम् हननस्य प्रकरण पंजीकृत: ! सिंघु सीमायां प्रातः शव ळब्धस्य वार्ता संमुखमागते पूर्ण क्षेत्रे आतंकम् प्रसृतं ! लखबीर सिंह हनन प्रकरणे आरक्षकः निहंगानां विरुद्धमभियोगम् पंजीकृतं !

इस मामले में पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है ! सिंघु बार्डर पर सुबह शव मिलने की बात सामने आने पर पूरे इलाके में सनसनी फैल गई ! लखबीर सिंह हत्या मामले में पुलिस ने निहंगों के खिलाफ केस दर्ज किया है !

आरक्षकस्य कथनमस्ति तत यदा तत घटनास्थले प्राप्तं तर्हि निहंगा: शवम् परितः आवृत्वा स्थिता: स्म ! आरक्षकः तै: अन्वेषणस्य प्रयत्नम् कृतः तु ते सहाय्य न कृता: ! लखबीरेण सह यत् बर्बरता कृता:, तस्मात् संलग्नम् बहुनि चलचित्राणि संमुखम् आगतानि !

पुलिस का कहना है कि जब वह घटनास्थल पर पहुंची तो निहंग शव को घेरकर खड़े थे। पुलिस ने उनसे पूछताछ करने की कोशिश की लेकिन उन्होंने सहयोग नहीं किया। लखबीर के साथ जो बर्बरता की गई, उससे जुड़े कई वीडियो सामने आए हैं।

एकस्य प्रत्यक्षदर्शिण: कथनमस्ति ततेदम् घटनार्ध रात्रिमभवत् तु आरक्षकम् यस्य सूचनां प्रातः पंच वादनम् दत्तं ! इति मध्य संयुक्त किसान मोर्चा इति कथनम् निर्गतं ! एसकेएम इतीति हननम् निंदितं !

एक प्रत्यक्षदर्शी का कहना है कि यह घटना आधी रात को हुई लेकिन पुलिस को इसकी सूचना सुबह पांच बजे दी गई ! इस बीच, संयुक्त किसान मोर्चा ने बयान जारी किया है ! एसकेएम ने इस हत्या की निंदा की है !

मोर्चा इतस्य कथनमस्ति तत निहंगानां एवं मृतकस्य कश्चितापि संबंध संयुक्त कृषक मोर्चा इत्येन नास्ति ! मोर्चा कथितं तत कश्चितमपि विधि स्व हस्तयो नयस्याधिकारम् नास्ति ! कथने कथितं तत मोर्चा दोषी जनानां विरुद्धम् तीक्ष्ण कार्यवाहिण: याचनां करोति !

मोर्चे का कहना है कि निहंगों एवं मृतक का कोई भी संबंध संयुक्त किसान मोर्चे से नहीं है ! मोर्चा ने कहा है कि किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने का अधिकार नहीं है ! बयान में कहा गया है कि मोर्चा दोषी लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग करता है !

मोर्चा अन्वेषणे आरक्षकेण सह सहाय्य करिष्यति ! वयं कश्चितापि धार्मिक ग्रन्थस्य प्रतीकस्य वा अपकारस्य विरुद्धम् सन्ति ! अस्यैव स्थाने त्र्याणां कृषिविधेयकानां विरुद्धम् कृषकाणां आंदोलनम् चरति ! सिंघु सीमायां वृहद संख्यायां निहंगारपि सन्ति !

मोर्चा जांच में पुलिस के साथ सहयोग करेगा। हम किसी भी धार्मिक ग्रंथ या प्रतीक की बेअदबी के खिलाफ हैं। इसी जगह पर तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन चल रह है। सिंघु बॉर्डर पर बड़ी संख्या में निहंग भी हैं।

इमे निहंगारश्वेषु चरन्ति ! तेषु अत्रे एकमश्वशालापि अस्ति ! ज्ञाप्यते तत अस्यैवाश्वशालायां लखविंदर: सेवादारस्य रूपे कार्यम् करोति स्म ! यस्य कश्चित राजनीतिक दलै: कश्चित संबंधम् नास्ति !

ये निहंग घोड़ों पर चलते हैं ! उनका यहां पर एक अस्तबल भी है ! बताया जा रहा है कि इसी अस्तबल में लखविंदर सेवादार के रूप में काम करता था ! इसका किसी राजनीतिक पार्टी से कोई संबंध नहीं है !

आरक्षकस्य कथनमस्ति तत तेनाद्य प्रातः ५ वादनम् एकम् सूचनां ळब्धम् तत कृषक आंदोलने निहंगा: एकस्य मानवस्य हस्तं कर्तित: तं लौहस्य एके छड़े रज्जुना बन्धित्वा लम्बितुम् धृत: ! इति सूचनायां आरक्षकः अवसरे प्राप्त: !

पुलिस का कहना है कि उसे आज सुबह 5 बजे एक सूचना प्राप्त हुई कि किसान आंदोलन में निहंगों ने एक आदमी का हाथ काट दिया और उसको लोहे के एक बैरिकेट पर रस्सी से बांध कर लटका रखा है ! इस सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची !

अत्र कृषक आंदोलनस्य मध्य सिंघु सीमाम् प्रति मार्गे इव एकस्य मानवस्य एकम् हस्तं एकम् पादम् च् कर्तित्वा लम्बितुम् धृत: स्म ! इति मानवस्य निधनम् भवितं ! आरक्षकस्य कथनमस्ति तत तत्रार्श्व पार्श्व अन्वेषणस्य प्रयत्नम् कृतः !

यहां किसान आंदोलन के बीच सिंघु बॉर्डर की तरफ रोड पर ही एक आदमी के एक हाथ और पैर काटकर लटका रखा था ! इस व्यक्ति की मौत हो चुकी थी ! पुलिस का कहना है कि वहां आस-पास काफी संख्या में निहंग एकत्रित थे जिनसे ASI ने पूछताछ करने की कोशिश की !

तु कश्चित अन्वेषणे सहाय्य न कृतं न च् मृतकस्य शवमवतारितुम् दत्त: ! आरक्षकः शवम् अन्वेषणाय प्रेषितं ! आरक्षकः इति वार्तायाः ज्ञानळब्धे संलग्न: तत लखबीर सिंहस्य हननम् अंततः केन वार्तान् गृहीत्वाभवत् ! लखबीरस्य भार्यास्ति त्रयाः च् शिशवः सन्ति यत् तस्मात् अन्यत्र रमन्ति !

लेकिन किसी ने पूछताछ में सहयोग नहीं किया और न मृतक की लाश को उतारने दिया गया ! पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है ! पुलिस इस बात का पता लगाने में जुटी है कि लखबीर सिंह की हत्या आखिर किस बात को लेकर हुई ! लखबीर की पत्नी है और तीन बच्चे हैं जो उससे अलग रहते हैं !

आरक्षकः कुटुंबेन संपर्कस्य प्रयत्नम् करोति ! इति घटनाय्यां भाजपा नेता अमित मालवीय: कथित: तत कृषक आंदोलनस्य नाम्नि कृषकान् दुर्नाम क्रियते ! इति घटनायाः पश्चाराजका: तत्वा: सन्ति ! एतेषां जनानामिच्छा राजनीतिकमस्ति, इमे कृषकाणां हितम् नेच्छिता: !

पुलिस परिवार से संपर्क करने की कोशिश कर रही है ! इस घटना पर भाजपा नेता अमित मालवीय ने कहा कि किसान आंदोलन के नाम पर किसानों को बदनाम किया जा रहा है ! इस घटना के पीछे अराजक तत्व हैं ! इन लोगों की मंशा राजनीतिक है, ये किसानों का भला नहीं चाहते !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here