अहम् देशविरोधिन् तत्वानि स्व मंचम् न दाष्यते- राकेश टिकैत: ! हम देशविरोधी तत्वों को अपना मंच नहीं देंगे-राकेश टिकैत !

0
348

फोटो साभार गूगल:-

कृषक आन्दोलने उमर खालिदस्य शरजील इमामस्य मुक्तियाः चित्रम् सम्मुखम् आगमने भारतीय कृषक संघस्य नेता राकेश टिकैत: स्वच्छतां दत्तमस्ति ! टिकैत: शुक्रवासरम् अकथयत् तत आन्दोलने इति द्वयस्य मुक्तिस्य चित्रम् कीदृशं अगम्यते,अस्य तेन ज्ञानम् नास्ति !

किसान आंदोलन में उमर खालिद और शरजील इमाम के रिहाई के पोस्टर सामने आने पर भारतीय किसान यूनियन नेता राकेश टिकैत ने सफाई दी है ! टिकैत ने शुक्रवार को कहा कि आंदोलन में इन दोनों की रिहाई के पोस्टर कैसे आए, इसकी उन्हें जानकारी नहीं है !

कृषक नेता अकथयत् तत सः उमरस्य शरजीलस्य च् समर्थने अभवत् प्रदर्शनस्य भर्तस्नां करोति ! टिकैत: अकथयत् तत इति प्रकरणम् कृषक संगठनानां आंतरिक सभायाम् उत्थाष्यते ! इयम् पुनः न भविष्यति !

किसान नेता ने कहा कि वह उमर और शरजील के समर्थन में हुए प्रदर्शन की निंदा करते हैं ! टिकैत ने कहा कि इस मसले को किसान संगठनों की आंतरिक बैठक में उठाएंगे ! यह दोबारा नहीं होगा !

अहम् देशविरोधिन् तत्वानि स्व मंचम् न दाष्यते ! कृषक नेता अकथयत् तत सः अद्यस्य सभायाम् अयमपि सुनिश्चिताय कथिष्यति तत आन्दोलनेण इंद्रप्रस्थे फलस्य शाकानां आपूर्ति प्रभावितं न भव्यते !

हम देश विरोधी तत्वों को अपना मंच नहीं देंगे ! किसान नेता ने कहा कि वह आज की बैठक में यह भी सुनिश्चित करने के लिए कहेंगे कि आंदोलन से दिल्ली में फल और सब्जियों की आपूर्ति प्रभावित न हो पाए !

दृष्टयास्ति तत गुरूवासरम् कृषक आन्दोलनस्य कालम् एक: संगठन: यलगार परिषद: इंद्रप्रस्थ हिंसाम् अभियोगे कारागारे बंदी लगभगम् २० आरोपिनां मुक्तिस्य याचनां कृतं !

गौरतलब है कि गुरुवार को किसान आंदोलन के दौरान एक संगठन ने यलगार परिषद और दिल्ली हिंसा केस में जेल में बंद करीब 20 आरोपियों की रिहाई की मांग की !

बहादुरगढ़े कृषक मंचे संलग्न एके छायांकने वरवरा राव:,सुधा भारद्वाज,शरजील इमाम, गौतम नवलखा: उमर खालिदेन सह च् २० आरोपिनां छायाचित्र दृष्टिमागतवान !

बहादुरगढ़ में किसान मंच पर लगे एक बैनर में वरवरा राव, सुधा भारद्वाज, शरजील इमाम, गौतम नवलखा और उमर खालिद सहित 20 आरोपियों की तस्वीरें नजर आईं !

कृषक संगठना: इति प्रकारस्य प्रदर्शनं स्वयमम् भिन्नमक्रियते ! तस्य कथनमस्ति तत तस्य आन्दोलनम् पूर्णरूपेण अराजनैतिकमस्ति ! ते अस्य भर्तस्नां कुर्वन्ति !

किसान संगठनों ने इस तरह के प्रदर्शन को खुद को अलग कर लिया है ! उनका कहना है कि उनका आंदोलन पूरी तरह से गैर-राजनीतिक है। वे इसकी निंदा करते हैं !

कृषक नेतृणाम् कथनं सन्ति तत वयं स्व मंचस्य असाधु प्रयोगम् न भवदाष्यन्ते ! भारतीय जनता दलम् कथमस्ति तत कृषकानां मंचस्य असाधु प्रयोगम् भवति !

किसान नेताओं का कहना है कि हम अपने मंच का गलत इस्तेमाल नहीं होने देंगे ! भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कहा है कि किसानों के मंच का गलत इस्तेमाल हो रहा है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here