सम्प्रति अयम् बदित:, यत् कथ्यति स्म गंगा आहुतम्, तैव मातु गंगाम् रुदितम्, राहुल गांधिणः पीएम मोदिण: उपरि वृहद प्रहारम् ! अब यह बोले, जो कहता था गंगा ने बुलाया, उसी ने मां गंगा को रुलाया, राहुल गांधी का पीएम मोदी के ऊपर बड़ा हमला !

0
546

कोरोना संकटस्य अस्य काले किं-किं न पश्यम् लब्धति, विगत बहु दिवसै: उत्तर प्रदेशे बिहारे च् गंगायाम् सततं शवम् लब्धानि ! यद्यपि एनडीटीवी स्पष्टम् कृतवान तत इदम् २०१५ तमस्य प्रकरणमस्ति ! एएनआई इत्यापि स्पष्टम् कृतवान स्म !

कोरोना संकट के इस दौर में क्या-क्या नहीं देखने को मिल रहा है, बीते कई दिनों से उत्तर प्रदेश और बिहार में गंगा में लगातार शव मिले हैं ! जबकि ndtv ने स्पष्ट किया है कि यह 2015 का प्रकरण है ! ANI ने भी स्पष्ट किया था !

कथ्यते तत इमानि शवम् कोरोना रुग्णानां सन्ति, यान् चिकित्सालया: परिजना: च् गंगायां प्रवाहिते तत्रैव यानि गृहित्वा योगी सर्वकार: लक्ष्ये अस्ति, तदा तत्रैव केंद्रे अपि प्रश्नम् स्थितानि !

कहा जा रहा है कि ये शव कोरोना मरीजों के हैं, जिनको अस्पतालों और परिजनों ने गंगा में बहा दिया है वहीं इसको लेकर योगी सरकार निशाने पर है, तो वहीं केंद्र पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं !

राहुल गांधी: अपि कोरोना विषाणो: स्थितिम् गृहित्वा केंद्र सर्वकारे सततं प्रश्नम् उत्थायन्ति राहुलस्य कथनमस्ति तत केन्द्रम् न केवलं कोरोनायाः स्थितिम् अवरोधने अनुत्तीर्णयति !

राहुल गांधी भी कोरोना वायरस की स्थिति को लेकर केंद्र सरकार पर लगातार सवाल उठा रहे हैं राहुल का कहना है कि केंद्र ना सिर्फ कोरोना की स्थिति को संभालने में फेल रही है !

राहुल गांधी: सोशल मीडिया इत्ये प्रतिक्रिया दत्त:, सः स्व ट्विते अलिखत् यत् कथ्यति स्म गंगा आहुतम्, तः मातु गंगाम् रुदितम् राहुल: विना नाम नीतम् सरलं पीएम मोदिण: उपरि प्रहारम् कृतः !

राहुल गांधी ने सोशल मीडिया पर प्रतिक्रिया दी है, उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा जो कहता था गंगा ने बुलाया है, उसने मां गंगा को रुलाया है राहुल ने बिना नाम लिए सीधे पीएम मोदी के ऊपर तंज किया है !

यस्मात् पूर्व राहुल गांधी: कथितः स्म तत केंद्र सर्वकारस्य सुरक्षौषधि नीति संकटम् अति क्षति ग्रस्तितं यत् भारतमनुभूयतुम् शक्नुतं !सुरक्षौषध्या: करीकेंद्रम् करणीयं वितरणस्य भारम् राज्यान् दानीयं !

इससे पहले राहुल गांधी ने कहा था कि केंद्र सरकार की वैक्सीन नीति समस्या को और बिगाड़ रही है जो भारत झेल नहीं सकता ! वैक्सीन की खरीद केंद्र को करनी चाहिए और वितरण की जिम्मेदारी राज्यों को दी जानी चाहिए !

तत्रैव समाजवादी दलस्याध्यक्ष: अखिलेश यादव: ट्वीतम् कृतवान गंगायां तरितानि लाशानि केवलं आंकड़ाम् मा सन्ति, ते कश्चितस्य पितु, मातु, भ्रातः भगिनी च् सन्ति, सर्वकारस्यानुयोज्यता भवनीय: तानि स्व जनान् अति असाधु प्रकारमनुत्तीर्णम् कृतवान !

वहीं समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट किया गंगा में तैरती लाशें महज आंकड़े नहीं हैं, वे किसी के पिता, मां, भाई और बहन हैं, सरकार की जवाबदेही होनी चाहिए जिसने अपने लोगों को इतनी बुरी तरह विफल कर दिया है !

यस्यातिरिक्त कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा अपि ट्वीत कृता बलियायां गाजीपुरे च् गंगायां शवम् तरन्ति, सूचनायां उन्नावे नद्या: तटम् वृहद रूपे शवम् निखनस्य वार्तानि आगच्छन्ति, लक्ष्मणनगरं, गोरक्षपुरं, झाँसीम्, कर्णपुरं यथा च् नगरै: आधिकारिक संख्या न्यूनं बद्यते !

इसके अलावा कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी ट्वीट किया बलिया और गाजीपुर में गंगा में शव तैर रही हैं, रिपोर्ट में उन्नाव में नदी के किनारे बड़े पैमाने पर शव दफनाने की खबरें आ रही हैं, लखनऊ, गोरखपुर, झांसी और कानपुर जैसे शहरों से आधिकारिक संख्या कम बताई जा रही है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here