25.1 C
New Delhi

रूसस्य प्रकरणे चिनम् भारतं च् यूएनएससी इत्ये मतदानेण रमिते अनुपस्थम्, ज्ञायन्तु परस्परेण पृथकं कीदृशं ! रूस के मुद्दे पर चीन और भारत यूएनएससी में वोटिंग से रहे दूर, जानें, एक दूसरे से अलग कैसे !

Date:

Share post:

युक्रेनस्य विरुद्धम् रूसी रणस्य तृतीय दिवसमस्ति ! येषां मध्य यूएन सुरक्षा परिषदे गोष्ठ्याः अनंतरम् मतदानमभवत् ! एकादश देशानि रूसस्य विरुद्धम् निंदा प्रस्तावं पारितानि यद्यपि रूसम् वीटो कृतम्, यद्यपि भारतं चिनम् स्वम् मतदानस्य प्रक्रियाया बाह्य धृते !

यूक्रेन के खिलाफ रूसी जंग का तीसरा दिन है ! इन सबके बीच यूएन सुरक्षा परिषद में बैठक के बाद मतदान हुआ ! 11 देशों ने रुस के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित किया हालांकि रूस ने वीटो लगा दिया, जबकि भारत और चीन ने अपने आपको मतदान की प्रक्रिया से बाहर रखा !

तु कथिते तत युद्धम् कश्चित कलहस्य समाधानम् भवितुं न शक्नोति ! तु भारतं प्रत्या किं कथितं तेन अवगम्यतुं आवश्यकं ! भारतं सर्वै: देशै: अंतरराष्ट्रीय विध्या: संयुक्त राष्ट्र चार्टरस्य सिद्धांतानां सम्मानस्य आह्वानम् कृतं, कुत्रचित् इदमग्रम् एकं रचनात्मकं मार्गम् प्रदायन्ति !

लेकिन कहा कि युद्ध किसी विवाद का समाधान नहीं हो सकता है ! लेकिन भारत की तरफ से क्या कुछ कहा गया है उसे समझना जरूरी है ! भारत ने सभी सदस्य देशों से अंतरराष्ट्रीय कानून और संयुक्त राष्ट्र चार्टर के सिद्धांतों का सम्मान करने का आह्वान किया, क्योंकि ये आगे एक रचनात्मक रास्ता प्रदान करते हैं !

भारतीय समुदायं, विशेषरूपेणावरुद्धन् छात्राणां सुरक्षा, यूक्रेनतः तस्य निस्सरण तत्क्षण प्राथमिकतां अस्ति ! यूक्रेने वर्तमानस्य घटनाक्रमेण भारतं बहु पीड़ितमस्ति ! अहमनुरोधयामि तत हिंसाम् शत्रुताम् च् तत्क्षण संपादिताय सर्वे प्रयासम् कुर्वन्तु !

भारतीय समुदाय, विशेष रूप से फंसे हुए छात्रों की सुरक्षा, यूक्रेन से उनकी निकासी तत्काल प्राथमिकता है ! यूक्रेन में हाल के घटनाक्रम से भारत बहुत परेशान है ! हम आग्रह करते हैं कि हिंसा और शत्रुता को तत्काल समाप्त करने के लिए सभी प्रयास किए जाएं !

मानवजीवनस्य मूल्ये कदापि कश्चित समाधानम् निःसृतुं न शक्नोति ! तु चिनम् वस्तुतः रूसी कार्यवाह्या: रक्षणं कृतं ! राजदूत झांग जूनेण दत्तन् चिनी स्पष्टीकरणे कथितं तताहम् मान्यामि तत एकस्य देशस्य सुरक्षा द्वितीयस्य सुरक्षायाः मूल्ये भवितुं न शक्नोति क्षेत्रीय सुरक्षाम् च् सैन्य खण्डान् वर्धने अत्रैव च् विस्तारे विश्वासम् न करणीयं !

मानव जीवन की कीमत पर कभी कोई समाधान नहीं निकाला जा सकता है ! लेकिन चीन ने वस्तुतः रूसी कार्रवाई का बचाव किया है ! राजदूत झांग जून द्वारा दिए गए चीनी स्पष्टीकरण में कहा गया कि हम मानते हैं कि एक देश की सुरक्षा दूसरों की सुरक्षा की कीमत पर नहीं हो सकती है और क्षेत्रीय सुरक्षा को सैन्य ब्लॉकों को बढ़ाने या यहां तक ​​​​कि विस्तार करने पर भरोसा नहीं करना चाहिए !

सर्वानां देशानां वैध सुरक्षाचिंतानां सम्मानं करणीयं ! नाटो इतस्य पूर्वं प्रति विस्तारस्य सततं पंचकालस्य पृष्ठभूम्या: विरुद्धम्, रूसस्य वैध सुरक्षा आकांक्षासु ध्यानम् दानीयं सम्यक् रूपेण च् संबोधनीयं !

सभी देशों की वैध सुरक्षा चिंताओं का सम्मान किया जाना चाहिए ! नाटो के पूर्व की ओर विस्तार के लगातार पांच दौर की पृष्ठभूमि के खिलाफ, रूस की वैध सुरक्षा आकांक्षाओं पर ध्यान दिया जाना चाहिए और ठीक से संबोधित किया जाना चाहिए !

यद्यपि अमेरिकाया, फ्रांसेण ब्रिटेनेण च् संयुक्त राष्ट्र महासभायाः समक्षम् रूसी आक्रमणस्य वैश्विक निंदा सुनिश्चिताय इति प्रस्तावमग्रम् बर्धनस्य आशाम् अस्ति तर्हि यूक्रेनस्य राजधान्यां लालसैन्यस्य बर्धनेण सह कीवे स्थितिम् प्रत्येक घटकं कराळं भविते !

जबकि अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा के समक्ष रूसी आक्रमण की वैश्विक निंदा सुनिश्चित करने के लिए इस प्रस्ताव को आगे बढ़ाने की उम्मीद है तो यूक्रेन की राजधानी में लाल सेना के बढ़ने के साथ कीव में स्थिति प्रति घंटे विकट होती जा रही है !

यूक्रेनस्य राष्ट्रपति जेलेंस्किण: कथनमस्ति तत पश्चिमी देशान् प्रत्या सहाय्यस्य गति निम्नमस्ति ! तु रूसस्य विरुद्धम् तस्य रणम् चरितुं रमिष्यति, यद्यपि तः इच्छति तत कलहस्य सार्थक समाधानम् शांति पूर्णरूपेणासि !

यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की का कहना है कि पश्चिमी देशों की तरफ से मदद की रफ्तार धीमी है ! लेकिन रूस के खिलाफ उनकी लड़ाई जारी रहेगी, हालांकि वो चाहते हैं कि विवाद का सार्थक समाधान शांतिपूर्ण तरीके से हो !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

कन्हैया लाल तेली इत्यस्य किं ?:-सर्वोच्च न्यायालयम् ! कन्हैया लाल तेली का क्या ?:-सर्वोच्च न्यायालय !

भवतम् जून २०२२ तमस्य घटना स्मरणम् भविष्यति, यदा राजस्थानस्योदयपुरे इस्लामी कट्टरपंथिनः सौचिक: कन्हैया लाल तेली इत्यस्य शिरोच्छेदमकुर्वन् !...

१५ वर्षीया दलित अवयस्काया सह त्रीणि दिवसानि एवाकरोत् सामूहिक दुष्कर्म, पुनः इस्लामे धर्मांतरणम् बलात् च् पाणिग्रहण ! 15 साल की दलित नाबालिग के साथ...

उत्तर प्रदेशस्य ब्रह्मऋषि नगरे मुस्लिम समुदायस्य केचन युवका: एकायाः अवयस्का बालिकाया: अपहरणम् कृत्वा तया बंधने अकरोत् त्रीणि दिवसानि...

यै: मया मातु: अंतिम संस्कारे गन्तुं न अददु:, तै: अस्माभिः निरंकुश: कथयन्ति-राजनाथ सिंह: ! जिन्होंने मुझे माँ के अंतिम संस्कार में जाने नहीं दिया,...

रक्षामंत्री राजनाथ सिंहस्य मातु: निधन ब्रेन हेमरेजतः अभवत् स्म, तु तेन अंतिम संस्कारे गमनस्याज्ञा नाददात् स्म ! यस्योल्लेख...

धर्मनगरी अयोध्यायां मादकपदार्थस्य वाणिज्यस्य कुचक्रम् ! धर्मनगरी अयोध्या में नशे के कारोबार की साजिश !

उत्तरप्रदेशस्यायोध्यायां आरक्षकः मद्यपदार्थस्य वाणिज्यकृतस्यारोपे एकाम् मुस्लिम महिलाम् बंधनमकरोत् ! आरोप्या: महिलायाः नाम परवीन बानो या बुर्का धारित्वा स्मैक...