28.1 C
New Delhi
Tuesday, June 15, 2021

प्रधानमंत्रिण: मुख्य वैज्ञानिक सलाहकार: बदित:, कदा क्षीण भविष्यति कोरोनायाः द्वितीय प्रहारम् ! प्रधानमंत्री के मुख्य वैज्ञानिक सलाहकार ने बताया, कब कमजोर होगी कोरोना की दूसरी लहर !

Must read

प्रधानमंत्रिण: मुख्य वैज्ञानिक सलाहकार: प्रवक्ता के विजयराघवन: कथितः तत इति मासस्य अन्ते देशे चरित: कोरोनायाः द्वितीय प्रहारस्य क्षीणस्य संभावनामस्ति !

प्रधानमंत्री के मुख्य वैज्ञानिक सलाहकार प्रोफेसर के विजयराघवन ने कहा है कि इस महीने के अंत में देश में जारी कोरोना की दूसरी लहर के कमजोर पड़ने की संभावना है !

एके साक्षात्कारे प्रवक्ता गुरूवासरम् कथितः तत कोविड-१९ सुरक्षौषधि कार्यम् न करोति ! सहैव अस्य विषाणो: तीव्रेण प्रसरस्य एकम् न बहूनि कारणानि सन्ति ! अस्यैव कारणेन संक्रमणस्य प्रकरणेषु तीव्रता दर्शितं !

एक साक्षात्कार में प्रोफेसर ने गुरुवार को कहा कि कोविड-19 का ऐसा कोई वैरिएंट नहीं है जिस पर वैक्सीन काम नहीं कर रही हो ! साथ ही इस वायरस के तेजी से फैसले के एक नहीं कई कारण हैं ! इसी वजह से संक्रमण के मामलों में तेजी से उछाल देखा गया है !

देशे गुरूवासरम् विगत २४ घटकेषु कोरोना संक्रमणस्य ३१४८३५ नव प्रकराणानि आगतं ! इदम् महामार्या: आरंभस्यानंतरम् विश्वे संक्रमणस्य एकस्य दिवसस्य सर्वाधिकं आंकड़ामस्ति !

देश में गुरुवार को बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 3,14,835 नए मामले आए ! यह महामारी के शूरू होने के बाद दुनिया में संक्रमण के एक दिन का सर्वाधिक आंकड़ा है !

तत्रैव, विगत २४ घटकेषु महामारी तः २१०४ जनानां प्राणानि गतवान ! प्रवक्ता कथितः देशे वृहद संख्यायाम् संक्रमणस्य प्रकरणानि संमुखमागच्छन्ति यत् तत चिंतायाः विषयमस्ति !

वहीं, बीते 24 घंटे में महामारी से 2,104 लोगों की जान गई ! प्रोफेसर ने कहा देश में बड़ी संख्या में संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं जो कि चिंता का विषय है !

अस्य महामार्या: पूर्णावस्था तस्य च् क्षीणस्य अवधिम् यदि ध्याने धृतानि तदा यस्मिन् १२ सप्ताहस्य कालम् गच्छति ! अस्य अवधिम् राज्यै: एवं जनपदै: संयुक्तवा द्रष्टुम् भविष्यति !

इस महामारी की चरम अवस्था और उसके कमजोर पड़ने की अवधि को अगर ध्यान में रखें तो इसमें 12 सप्ताह का वक्त लगता है ! इस अवधि को राज्यों एवं जिलों से जोड़कर देखना होगा !

पूर्णतयास्य प्रहारस्य क्षीणे केचन कालम् गच्छति ! अग्रिम मासस्यारंभास्य मासस्य अंतेन च् अस्माभिः संक्रमणस्य आंकड़ेषु न्यूनता दृष्टम् लब्धुम् शक्नोति !

कुल मिलाकर इस लहर के कमजोर होने में थोड़ा वक्त लगेगा ! अगले महीने की शुरुआत और इस महीने के अंत से हमें संक्रमण के आंकड़ों में कमी देखने को मिल सकती है !

सः अग्रम् कथितः देशे लब्धानि कोरोनायाः नव वैरिएंट्स इतम् दृष्टिमानः अस्माभिः स्वास्थ्य सुविधान् बर्धनाय प्रयत्नम् कृतस्य आवश्यकतां अस्ति ! अस्माभिः सोशल डिस्टेंसिंग इत्यस्य पालनम् कृतानि !

उन्होंने आगे कहा देश में मिले कोरोना के नए वैरिएंट्स को देखते हुए हमें स्वास्थ्य सुविधाओं को बढ़ाने के लिए उपाय करने की जरूरत है ! हमें सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करना है !

स्ट्रेन इत्यस्य विश्लेषण कृतमानः अस्माभिः वृहद रूपे टीकाकरण करणीयाः ! अस्माकं लक्ष्य किं भविष्यति, अस्माभिः अद्यापि किं करणीयाः, यस्मिन् भवनीयाः !

स्ट्रेन का विश्लेषण करते हुए हमें बड़े पैमाने पर टीकाकरण करना चाहिए ! हमारा फोकस क्या होगा, हमें अभी क्या करना चाहिए, इस पर होना चाहिए !

देशे कोरोना संक्रमणस्य तीव्रतायाम् नियंत्रणाय सर्वकार: स्व टीकाकरणाभियाने परिवर्तितः ! अधुना एक मई तः १८ वर्षात्त उपर्या: जनान् कोरोनायाः टीका प्रदाष्यते !

देश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर काबू पाने के लिए सरकार ने अपने टीकाकरण अभियान में बदलाव किया है ! अब एक मई से 18 साल से ऊपर के व्यक्तियों को कोरोना का टीका लगाया जाएगा !

वस्तुतः, कोरोनायाः द्वितीय प्रहारे लब्धानि तत अस्य महामार्या: आवृत्तेयुवावर्गबहु आगच्छति ! इंद्रप्रस्थस्य मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवालस्य कथनमस्ति तत राजधन्याम् ६५ प्रतिशत संक्रमणस्य प्रकरणानि युवाभिः संलग्नानि सन्ति !

दरअसल, कोरोना की दूसरी लहर में पाया गया है कि इस महामारी की चपेट में युवा वर्ग ज्यादा आ रहा है ! दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का कहना है कि राजधानी में 65 प्रतिशत संक्रमण के मामले युवाओं से जुड़े हैं !

१८ वर्षात् उपर्या: जनसंख्या कार्याय गृहभिः बहु निस्सरन्ति, अतएव अस्यां संक्रमणस्य चक्रे आगमनस्य संकटम् बहवः अस्ति ! १८ वर्षात् उपर्या: जनेभ्यः सर्वकारी पोर्टल को-विन इत्ये रजिस्ट्रेशनस्य प्रक्रिया २८ अप्रैल तरारंभिष्यते !

18 साल से ऊपर की आबादी कामकाज के लिए घरों से ज्यादा निकलती है, इसलिए इनके संक्रमण के दायरे में आने का खतरा ज्यादा है ! 18 साल से ऊपर के व्यक्तियों के लिए सरकारी पोर्टल को-विन पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया 28 अप्रैल से शुरू होगी !

देशस्य चिकित्सालयेषु चिकित्साप्राणवायो: संकटम् संपादितुम् केंद्र सर्वकार: पगम् उत्थायत् ! केंद्र: राज्यानां प्राणवायो: व्यवस्थाम् बर्धितः !

देश के अस्पतालों में मेडिकल ऑक्सीजन की किल्लत दूर करने के लिए केंद्र सरकार ने कदम उठाए हैं ! केंद्र ने राज्यों का ऑक्सीजन का कोटा बढ़ा दिया है !

प्राणवायु न्यून काले राज्यानि प्रति प्राप्ताय वायु सैन्य रेलवे इत्यस्य च् सेवानि नयते ! इंद्रप्रस्थस्य हरियाणायाः लक्ष्मणनगरस्य च् बहूनि चिकित्सालयेषु गुरूवासरम् चिकित्सा प्राणवायो: न्यूनता संमुखमागतवान !

ऑक्सीजन कम समय में राज्यों तक पहुंचाने के लिए वायु सेना और रेलवे की सेवाएं ली जा रही हैं ! दिल्ली, हरियाणा और लखनऊ के कई अस्पतालों में गुरुवार को मेडिकल ऑक्सीजन की कमी सामने आई !

आगत दिवसेषु चिकित्सा प्राणवायो: न्यूनता नासि यस्मै देशस्य संयंत्र पूर्णक्षमताया प्राणवायो: उत्पादने संलग्नानि !

आने वाले दिनों में मेडिकल ऑक्सीजन की कमी न हो इसके लिए देश के संयंत्र पूरी क्षमता से ऑक्सीजन का उत्पादन करने में जुटे हैं !

Disclaimer The author is solely responsible for the views expressed in this article. The author carry the responsibility for citing and/or licensing of images utilized within the text. The opinions, facts and any media content in them are presented solely by the authors, and neither Trunicle.com nor its partners assume any responsibility for them. Please contact us in case of abuse at Trunicle[At]gmail.com

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article