भाजपा कार्यकारिणीतः निर्वर्तने मेनकागांधी बदिता, पुत्र वरुण: अप्यास्ति बाह्य ! BJP कार्यकारिणी से हटाए जाने पर मेनका गांधी ने तोड़ी चुप्पी, बेटे वरुण भी हैं बाहर !

0
203

भारतीय जनता दलस्य राष्ट्रीय कार्यकारिण्यां स्थानम् न ळब्धे सुल्तानपुरस्य सांसद मेनकागांधी कथनं दत्ता ! ६५ वर्षीया नेता कथिता तत सा विगत २० वर्षाणितः भाजपाया सहास्ति कार्यकारिण्यां च् स्थानम् न ळब्धेण तस्या: प्रतिष्ठा न न्यूनति !

भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में जगह न मिलने पर सुलतानपुर की सांसद मेनका गांधी ने बयान दिया है ! 65 वर्षीया नेता ने कहा कि वह बीते 20 सालों से भाजपा के साथ हैं और कार्यकारिणी में जगह न मिलने से उनका कद नहीं घटता है !

वार्ता संस्था एएनआई इत्येन सह वार्तालापे भाजपा सांसद कथिता, अहं विगत २० वर्षाणितः भाजपाया सहास्मि अहम् च् सन्तुष्टोस्मि ! कार्यकारिण्यां सम्मिलितं न भवेण मम प्रतिष्ठा न न्यूनता ! मदीयं प्रथमधर्म सेवा कृतमस्ति ! इदम् बहु आवश्यकमस्ति तत मह्यं जनानां हृदये बहु स्थानम् लब्धम् !

समाचार एजेंसी एएनआई के साथ बातचीत में भाजपा सांसद ने कहा,मैं बीते 20 सालों से भाजपा के साथ हूँ और मैं संतुष्ट हूँ ! कार्यकारिणी में शामिल न होने से मेरा कद नहीं घटता ! मेरी पहला धर्म सेवा करना है ! यह ज्यादा जरूरी है कि मुझे लोगों के दिल में ज्यादा जगह मिले !

द्वयो दिवसयो भ्रमणे स्व निर्वाचन क्षेत्रम् प्राप्ता मेनका कथिता, दलस्य बहु वरिष्ठ नेतारः सन्ति यै: कार्यकारिण्यां स्थानम् न ळब्धा: ! नव जनानामपि अवसरम् मेलनीया: ! अहम् स्व जिम्मेवारिन् प्रति जागरूकोस्मि ! मम सर्वात् प्रथम प्राथमिकता स्व निर्वाचन क्षेत्रस्य जनानां सेवा कृतमस्ति !

दो दिनों के दौरे पर अपने निर्वाचन क्षेत्र पहुंचीं मेनका ने कहा, पार्टी के कई वरिष्ठ नेता हैं जिन्हें कार्यकारिणी में जगह नहीं मिली है ! नए लोगों को भी मौका मिलना चाहिए ! मैं अपनी जिम्मेदारियों के प्रति जागरूक हूँ ! मेरी सबसे पहली प्राथमिकता अपने निर्वाचन क्षेत्र के लोगों की सेवा करना है !

ज्ञापयन्तु तत मेनक्या: अतिरिक्त तस्या: पुत्र पीलीभीत सांसद: च् वरुण गांधीमपि इतिदा कार्यकारिण्यां स्थानम् न ळब्ध: ! वरुण गांधी कृषक आंदोलन कृत्वा सर्वकारस्य विरुद्धम् मुखर: अस्ति ! कृषकानां समर्थने सः बहुधा पत्रम् लेखित: ! लखीमपुर खीरी हिंसा प्रकरणे सः योगी सर्वकारस्य तीक्ष्णालोचनाम् कृतमस्ति !

बता दें कि मेनका के अलावा उनके बेटे और पीलीभीत सांसद वरुण गांधी को भी इस बार कार्यकारिणी में जगह नहीं मिली है ! वरुण गांधी किसान आंदोलन कर सरकार के खिलाफ मुखर हैं ! किसानों के समर्थन में वह कई बार पत्र लिख चुके हैं ! लखीमपुरी खीरी हिंसा मामले में उन्होंने योगी सरकार की तीखी आलोचना की है !

वरुण: लखीमपुर प्रकरणे उत्तरप्रदेशस्य मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथम् पत्रम् लेखित्वा घटनायाः संदिग्धान् तत्क्षण चिंहित्वा हननस्याभियोगम् पंजीकृतस्योच्चतम न्यायालयस्य निरीक्षणे केंद्रीय अन्वेषण संस्थायान्वेषणम् कारयस्य च् याचनामपि कृतमासीत् !

वरुण ने लखीमपुर मामले में उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ को पत्र लिखकर घटना के संदिग्धों को तत्काल चिन्हित कर हत्या का मुकदमा दर्ज करने और उच्चतम न्यायालय की निगरानी में केंद्रीय अन्‍वेषण ब्‍यूरो से जांच कराने की मांग भी की थी !

गांधी स्वपत्रे मुख्यमंत्रिणा निवेदितमानः कथित: स्म, इति घटनायां संलिप्त बहु संदिग्धान् तत्क्षण चिंहित्वा आईपीसी इतस्य धारा ३०२ इतस्यानुरूपमभियोगम् निश्चित्वा दृढ़तःदृढ़ कार्यवाहिम् करोतु !

गांधी ने अपने पत्र में मुख्यमंत्री से निवेदन करते हुए लिखा था, इस घटना में संलिप्त तमाम संदिग्धों को तत्काल चिन्हित कर आईपीसी की धारा 302 के तहत हत्या का मुकदमा कायम कर सख्त से सख्त कार्यवाही की जाए !

इतिविषये आदरणीय सर्वोच्च न्यायालयस्य निरीक्षणे सीबीआई इत्येन कालबद्ध सीमायां अन्वेषणित्वा दोषिन् दंड दीयत: अति उपयुक्तम् भविष्यति !

इस विषय में आदरणीय सर्वोच्‍च न्‍यायालय की निगरानी में सीबीआई द्वारा समयबद्ध सीमा में जांच करवाकर दोषियों को सजा दिलवाना ज्यादा उपयुक्त होगा !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here