सपाकार्यालयस्य बाह्य बहुतीक्ष्णनाटकम्, निर्वाचन पत्रम् नळब्धे कार्यकर्ता कृतः आत्मदग्धस्य प्रयत्नम् ! सपा ऑफ‍िस के बाहर हाई वोल्‍टेज ड्रामा, टिकट न मिलने पर कार्यकर्ता ने की आत्‍मदाह की कोशिश !

0
208

उत्तरप्रदेशे विधानसभा निर्वाचनस्य तत्परतायाः मध्य नेतृषु निर्वाचनपत्रस्य प्रयुद्धमपि बहु भवतीदम् च् परिस्थिति लगभगम् सर्वेषु दलेषु अस्ति ! निर्वाचन पत्रम् नळब्धेन खिन्न नेता/कार्यकर्ता बहुधा रुदित: बहुधाच् केचनभिन्नप्रकारेण स्वखिन्नता व्यक्तन् दृश्यन्ते !

उत्‍तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव की तैयारियों के बीच नेताओं में टिकट की मारामारी भी खूब हो रही है और यह हाल लगभग सभी पार्टियों में है ! टिकट न मिलने से नाराज नेता/कार्यकर्ता कई बार रोते तो कई बार कुछ अलग तरीके से अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए नजर आ रहे हैं !

अत्र सपामुख्यालये अपि रविवासरम् इदृशमेव दृश्य संमुखमागतं, यदा एकः सपाकार्यकर्ता निर्वाचनपत्रं नळब्धे खिन्नताव्यक्तन् कथितरूपे आत्मदग्धस्य प्रयासम् कृतः ! सपाकार्यकर्तायाः नाम ठाकुर आदित्य ज्ञापिते !

यहां सपा मुख्‍यालय पर भी रविवार को ऐसा ही नजारा सामने आया, जब एक सपा कार्यकर्ता ने टिकट न मिलने पर नाराजगी जताते हुए कथित तौर पर आत्‍मदाह का प्रयास किया ! सपा कार्यकर्ता का नाम ठाकुर आदित्‍य बताया जा रहा है !

तस्य कथनमस्ति तत सः कोलस्य ७४ क्रमांक विधानसभा क्षेत्रे विगत ५ वर्षभिः सततं कार्यम् करोति स्म तेन च् यूपी विधानसभा निर्वाचने अत्रतः निर्वाचनपत्रम् ळब्धस्यापेक्षामासीत्, तु तेन निर्वाचन पत्रम् न दत्तम् ! सः कथित: अहम् न्यायमिच्छामि !

उनका कहना है कि वह अलीगढ़ के 74 नंबर विधानसभा क्षेत्र में बीते 5 वर्षों से लगातार काम कर रहे थे और उन्‍हें यूपी विधासभा चुनाव में यहां से टिकट मिलने की आस थी, लेकिन उन्‍हें टिकट नहीं दिया गया ! उन्‍होंने कहा मैं न्‍याय चाहता हूँ !

ज्ञापिते तत यूपी विधानसभा निर्वाचने निर्वाचनपत्रम् नळब्धेन ठाकुर आदित्य इति भांति खिन्न: अभवत् तत रविवासरम् सः स्वसमर्थकै: सह सपाकार्यालयम् प्राप्त: तत्र च् स्वे पेट्रोल इति क्षिपित्वाग्नि प्रज्जवलनस्य प्रयत्नम् करिष्यते !

बताया जा रहा है कि यूपी विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं मिलने से ठाकुर आदित्‍य इस कदर नाराज हो गए कि रविवार को वह अपने समर्थकों के साथ सपा दफ्तर पहुंचे और वहां खुद पर पेट्रोल डालकर आग लगाने की कोशिश करने लगे !

यद्यपि अवसरे उपस्थिता: जनाः आरक्षकः च् तेन अवरोधित: ! यत् चित्राणि/चलचित्राणि संमुखम् आगतं, तेषु सपाकार्यकर्ताम् रुदितमपि द्रष्टुम् शक्नोति ! यस्मात् पूर्व बहुजन समाज दल कार्यकर्ता अरशद राणायाः एकं चलचित्रम् संमुखमागतं स्म !

हालांकि मौके पर मौजूद लोगों और पुलिस ने उन्‍हें पकड़ लिया ! जो तस्‍वीरें/वीडियो सामने आए हैं, उसमें सपा कार्यकर्ता को रोते भी देखा जा सकता है ! इससे पहले बहुजन समाज पार्टी (बसपा) कार्यकर्ता अरशद राणा का एक वीडियो सामने आया था !

यस्मिन् सः दलीय नेतृत्वे पणम् गृहीत्वा निर्वाचनपत्रं विक्रयस्यारोपमारोपित: ! तारस्वरेण रुदन् राणा दृढ़ कथनम् दत्त: स्म तत तेनाग्रिम निर्वाचनेभ्यः संग्रहम् स्थापनस्योपरांत अंतिमकाले निर्वाचनपत्रेण न कृतं !

जिसमें उन्‍होंने पार्टी नेतृत्‍व पर पैसे लेकर टिकट बेचने का आरोप लगाया था ! फूट-फूट कर रोते हुए राणा ने दावा किया था कि उन्हें आगामी चुनावों के लिए होर्डिंग लगाने के बावजूद अंतिम समय में टिकट से मना कर दिया गया !

यद्यपि पूर्व दळम् यस्य दृढ़कथनम् दत्तं स्म ! सः कथित: तत सः चत्वारार्ध लक्ष रूप्यकानि पूर्वमेव दत्त:, तु तेन ५० लक्षस्य प्रबंधकृतं कथितं !

जबकि पहले पार्टी ने इसका वादा किया था ! उन्‍होंने कहा कि वह साढ़े चार लाख रुपये पहले ही दे चुके हैं, पर उन्‍हें 50 लाख का इंतजाम करने को कहा गया है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here