मथुरायाः श्रीकृष्ण जन्मभूमि प्रकरणे दृढ़कथनं, आगरायाः रक्तप्राचीरस्य भूम्याभ्यांतरे स्थितं सन्ति मंदिरस्य प्रतिमाम् ! मथुरा के श्रीकृष्ण जन्मभूमि मामले में दावा, आगरा के लालकिले में दबी हैं मंदिर की प्रतिमा !

0
659

जी न्यूज इत्यस्य एकस्य सूचनायाः अनुसारम् उत्तरप्रदेशस्य मथुरा जनपदे चरितं श्रीकृष्ण जन्मभूमि प्रकरणे नव परिवर्तनमागतम् श्रीकृष्ण जन्मभूमि मुक्त्यान्दोलन समित्या: कथनमस्ति तत ठाकुर केशवदेवस्य भव्य मंदिरस्य श्रीविग्रह (प्रतिमा) आगरायाः रक्त प्राचीरे दीवाने-ए-खास इत्यस्य लघु मस्जिदस्य सोपानानां भूम्याभ्यांतरे स्थितं !

जी न्यूज की एक रिपोर्ट के अनुसार उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में चल रहे श्रीकृष्ण जन्मभूमि मामले में नया मोड़ आ गया है श्रीकृष्ण जन्मभूमि मुक्ति आंदोलन समिति का कहना है कि ठाकुर केशवदेव के भव्य मंदिर का श्रीविग्रह (प्रतिमा) आगरा के लालकिले में दीवाने-ए- खास की छोटी मस्जिद की सीढ़ियों में दबा हुआ है !

औरंगजेब: त्रोटितः स्म केशवदेव मंदिरम् !

औरंगजेब ने तुड़वा दिया था केशवदेव मंदिर !

श्रीकृष्ण जन्मभूमि मुक्त्यान्दोलन समित्या: अध्यक्ष: अधिवक्ता च् महेंद्र प्रताप सिंह: गुरूवासरम् अस्य प्रकरणे न्यायालये अनुगमन कृत: ! महेंद्र प्रताप सिंह: न्यायालये ऐतिहासिक तथ्यम् धृतमानः कथितः ओरछा नृपः मुगल नृपः जहांगीरस्य शासनकाले १६१८ तमे भगवतः केशवदेवस्य मथुरायाम् अत्यंत विस्तृत मंदिर निर्मयतः स्म !

श्रीकृष्ण जन्मभूमि मुक्ति आंदोलन समिति के अध्यक्ष और अधिवक्ता महेंद्र प्रताप सिंह ने गुरुवार को इस मामले में अदालत में पैरवी की ! महेंद्र प्रताप सिंह ने अदालत में ऐतिहासिक तथ्य रखते हुए कहा ओरछा नरेश ने मुगल बादशाह जहांगीर के शासनकाल में 1618 में भगवान केशवदेव का मथुरा में अत्यंत विशाल मंदिर बनवाया था !

वर्षम् १६६९ तमे तत्कालीन मुगल शासक: औरंगजेब: तेन त्रोटित्वा तस्यावशेषात् तत्र राजकीय इदगाहस्य निर्माणाकारित: स्म ! विंशति सद्याम् महामना मदन मोहन मालवीयस्य परिश्रमेण कटरा केशवदेव उष्ठीलायाम् भगवतः केशवदेव मंदिरस्य भगवतः भवनस्य पुनः निर्माण अक्रियते तु प्राचीन मंदिरस्य प्रतिमा: अधुनापि आगरायाम् भूमि अभ्यांतरे अस्ति !

वर्ष 1669 में तत्कालीन मुगल शासक औरंगजेब ने उसे तुड़वाकर उसके अवशेषों से वहां शाही ईदगाह का निर्माण करा दिया था ! बीसवीं सदी में महामना मदन मोहन मालवीय के प्रयासों से कटरा केशवदेव टीले पर भगवान केशवदेव मंदिर और भागवत भवन का पुन:निर्माण किया गया लेकिन प्राचीन मंदिर की प्रतिमाएं अब भी आगरा में दबी हैं !

आगरायाः प्राचीरस्य भूम्याभ्यांतरे कृतम् स्म मन्दिरस्यावशेषम् !

आगरा के किले में दबा दिए थे मंदिर के अवशेष !

सः कथितः तत औरंगजेब: मंदिरे उपस्थितः भगवतः केशवदेवस्य श्री विग्रहान् आगरायाः रक्तप्राचीरस्य दीवाने-ए-खासे निर्मित लघु मस्जिदस्य सोपानानां अधो भूमौनिधा स्म ! महेंद्र प्रताप सिंह: न्यायालयेन कथितः यस्मात् अद्यापि कोटिनामनुयायिनां भावनानि आहता: भवन्ति !

उन्होंने कहा कि औरंगजेब ने मंदिर में मौजूद भगवान केशवदेव के श्रीविग्रहों को आगरा के लालकिले के दीवाने-ए-खास में बनी छोटी मस्जिद की सीढ़ियों के नीचे दबाया था ! महेंद्र प्रताप सिंह ने अदालत से कहा इससे आज भी करोड़ों अनुयायियों की भावनाएं आहत हो रही हैं !

तु न्यायालयः पुरातत्व विभागेन पुनः वान्यतमः वैज्ञानिक विधि स्वीकृत्वा श्री विग्रहान् बाह्य निस्सरताम् ! सहैव कटरा केशवदेवे एतानि संरक्षित कृतेन संबंध्यादेशम् कुर्याताम् !

लिहाजा अदालत पुरातत्व विभाग से या फिर अन्य वैज्ञानिक विधि अपनाकर श्रीविग्रहों को बाहर निकलवाए ! साथ ही कटरा केशवदेव में इन्हें संरक्षित करने संबंधी आदेश करे !

श्रीकृष्ण जन्मभूमि मुक्त्यान्दोलनम् समितिम् कृतवानाभियोगम् !

श्रीकृष्ण जन्मभूमि मुक्ति आंदोलन समिति ने किया है केस !

जनपद दीवानी न्यायाधीश (प्रवर वर्ग) नेहा बधौतिया इति प्रकरणे तस्य वार्ता शृणुनस्य अनंतरमग्रिम् शृणुतुम् १९ अप्रैल इत्यस्य दिनांक कृता ! बदितुम् चरितम् तत श्रीकृष्ण जन्मभूमि मुक्त्यान्दोलनम् समितिम् अस्य संबंधे अभियोगम् पंजीकृतस्यानंतरेनैव सततं एकस्यानंतरम् एकम् प्रार्थनापत्रम् ददाति !

जिला दीवानी न्यायाधीश (प्रवर वर्ग) नेहा बधौतिया ने इस मामले में उनकी दलील सुनने के बाद अगली सुनवाई के लिए 19 अप्रैल की तारीख कर दी ! बताते चलें कि श्रीकृष्ण जन्मभूमि मुक्ति आंदोलन समिति इस संबंध में मुकदमा दायर करने के बाद से ही लगातार एक के बाद एक प्रार्थना पत्र दे रही है !

मुख्यारोपकर्ता प्रताप सिंहं प्रत्ये अस्य प्रकरणे अधिवक्ता राजेंद्र माहेश्वरी वार्ता प्रस्तुतम् करोति ! राजेंद्र माहेश्वरी बदित: तत न्यायालयः अस्य प्रकरणे १९ अप्रैल इतम् अन्यतमः पक्षान् अपि शृणुनस्यानंतरम् निर्णयम् दाष्यति !

वादी महेंद्र प्रताप सिंह की ओर से इस मामले में एडवोकेट राजेंद्र माहेश्वरी पैरवी कर रहे हैं ! राजेंद्र माहेश्वरी ने बताया कि अदालत इस मामले में 19 अप्रैल को अन्य पक्षों को भी सुनने के बाद फैसला देगी !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here